Home रतलाम अतिवृष्टि के चलते प्रशासन अलर्ट, हालात पर 24 घंटे रखी जा...

अतिवृष्टि के चलते प्रशासन अलर्ट, हालात पर 24 घंटे रखी जा रही है नजर

रतलाम 16 सितम्बर 2019/ रतलाम जिले में अतिवृष्टि के चलते प्रशासन अलर्ट पर है। हालात पर 24 घंटे प्रशासन द्वारा नजर रखी जा रही है। कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने सभी एसडीएम, तहसीलदार, पुलिस, होमगार्ड्स, नगरीय तथा ग्रामीण निकायों के अमले को चौकन्ना रहने के लिए सख्ती से निर्देशित किया है।

अतिवृष्टि से प्रभावित ग्रामों के ग्रामीणजनों को भरोसा दिलाया है कि जिला प्रशासन उनके साथ है और उनकी सहायता के लिए मुस्तैदी से कार्य कर रहा है। घबराएं नहीं, किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए जरूरी कदम उठाए जाकर चाक-चौबंद व्यवस्था सुनिश्चित की गई है।

कलेक्टर ने जिला प्रशासन के सभी अधिकारियों को वर्षा के दौरान सतर्क रहने के निर्देश देते हुए कहा है कि सभी अलर्ट पर रहें और अतिवर्षा की स्थिति में कहीं भी जान-माल की हानि नहीं हो। कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारियों को निरंतर निगरानी के निर्देश दिए हैं। उन्होंने मैदानी अमले को 24 घंटे रात्रि एवं प्रातःकालीन गश्त करते हुए स्थिति पर नजर बनाए रखने के लिये आदेशित किया है। उन्होंने नगर पालिकाओं, पुलिस, होम गार्ड तथा विद्युत विभाग, लोक निर्माण तथा पीएचई विभाग के अधिकारियों को भी सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं।

एसडीएम सैलाना श्रीमती कामिनी ठाकुर ने बताया कि अनुभाग क्षेत्र के कलवानिया तथा गराड के तालाबों का वेस्टवियर चौडा किया गया है ताकि पानी का सही निकास हो सके। लूनी के तालाब पर भी सतर्कता बरती गई है। सभी तालाबों का निरीक्षण किया जाकर सुनिश्चित किया जा रहा है कि कहीं कोई हानि नहीं हो।

आलोट एसडीएम श्री चन्द्रसिंह सोलंकी ने बताया कि अनुभाग के बघुनिया, खेडी, पिपलिया सिसौदिया आदि तालाबों से पानी की उचित निकासी हेतु वेस्टवियर को चौडा किया गया है। इसी प्रकार की कार्रवाई जावरा तथा रतलाम ग्रामीण अनुभाग में भी की गई है।