Home Uncategorized अब परेशान करने वालों को पुलिस सिखाएगी सबक, डीआईजी, एसपी, एएसपी पहुंचे...

अब परेशान करने वालों को पुलिस सिखाएगी सबक, डीआईजी, एसपी, एएसपी पहुंचे कालेज, छात्राओं से ली जानकारी

रतलाम(खबरबाबा.काम)। रतलाम पुलिस द्वारा शुरु किए गए सुरक्षित बालिका, सुरक्षित रतलाम अभियान के तहत शनिवार को डीआईजी धर्मेन्द्र चौधरी, एसपी अमित सिंह, एएसपी प्रदीप शर्मा और अन्य पुलिस अधिकारी शहर के कन्या उच्चत्तर महाविद्यालय एवं कला एवं विज्ञान संकाय महाविद्यालय मे पहुंचे। यहां अधिकारियों ने महिला सम्बंधी अपराधो की जागरूकता के सम्बंध मे सेेमिनार लेकर छात्राओं को जानकारी दी । इस दौरान छात्राओं से फीडबैक फार्म भी भराए गए, जिसमें उनसे परेशान या छेड़छाड़ करने वाले व्यक्तियों और स्थानों के बारे में जानकारी ली गई। फीडबैक फार्म में छात्राओं को नाम उजागर करने की कोई आवश्कता नहीं है।
उक्त सेमीनार मे डीआईजी धर्मेन्द्र चौधरी, पुलिस अधीक्षक रतलाम अमितसिंह, अति.पुलिस अधीक्षक प्रदीप शर्मा, अति.पुलिस अधीक्षक राजेश सहाय, नगर पुलिस अधीक्षक विवेकसिंह चौहान, उप पुलिस अधीक्षक, महिला प्रकोष्ठ श्रीमती लीला मकवाना, स्टेशन रोड थाना प्रभारी अजय सारवान, यातायात थाना प्रभारी दीपेन्द्र कुशवाह, माणकचौक टीआई नरेन्द्र यादव व अन्य पुलिस अधिकारी-कर्मचारी तथा कॉलेज के पदाधिकारी एवं कर्मचारी तथा छात्र-छात्राएॅ उपस्थित थे। पुलिस अधिकारियों द्वारा सुरक्षित बालिका, सुरक्षित रतलाम नाम से चलाये जा रहे अभियान के तहत् छात्र-छात्राओ को बच्चो की सुरक्षा से सम्बंधित कानूनी प्रावधानो एवं महिलाओ से छेड़छाड़ एवं उनकी परशानियो के सम्बंध मे महिला सम्बंधी कानूनी प्रावधान, सोशल मीडिया, धोखाधडी आदि के सम्बंध मे विस्तार से जानकारी दी गई। कॉलेज के छात्र-छात्राओ को फीडबैक फार्म देकर छेडछाड सम्बंधित स्थानो,व्यक्ति, वाहन आदि के सम्बंध मे जानकारी ली गई। उक्त फ ीडबैक फ ार्म मे जानकारी देने वाली छात्राओ को अपना नाम नही बताना पडेगा तथा उनके द्वारा दी गई जानकारी भी गोपनीय रखी जावेगी। पुलिस के अनुसार फीडबैक फार्म से प्राप्त जानकारी के आधार पर ऐसे स्थानो को चिन्हित किया जावेगा जहां पर छेडछाड की घटनाएॅ अधिक होती है। उक्त स्थानो पर पुलिस बल लगाया जाकर कार्यवाही की जावेगी। साथ ही ऐसे व्यक्तियो जो छेडछाड़ कर छात्राओ को परेशान करते है के नाम फ ीडबैक फ ार्म मे प्राप्त होने पर उन पर भी कडी कार्यवाही की जावेगी। वाहनों से पीछा करके परेशान करने वालो, मोबाईल से परेशान करने वालो आदि के नाम फ ीडबैक फ ार्म के माध्यम से प्राप्त होने पर उन पर भी कडी कार्यवाही की जाएगी । सेमिनार के दौरान दोनो महाविद्यालय के छात्र-छात्राओ द्वारा कई सवाल पुछे गये। जिनके विस्तार से जवाब दिये गये।