Home व्यापार अब सफर में आईडी प्रूफ जरूरी नहीं, ‘एम आधार’ से भी होगा...

अब सफर में आईडी प्रूफ जरूरी नहीं, ‘एम आधार’ से भी होगा काम

नई दिल्ली: रेलवे मंत्रालय ने आज रेल यात्रियों की सुविधा से जुड़ा एक और ऐलान किया है. अब आपको सफर के दौरान आईडी (व्यक्ति पहचान पत्र) को साथ रखने की जरूरत नहीं है. आपके पास अपना मोबाइल तो रहता ही है, बस सफर के दौरान वही आपका आईडी की तरह भी काम करेगा.

रेल मंत्रालय ने आज कहा कि यात्री चाहें तो अपने मोबाइल में ‘एम-आधार’ के जरिए भी सफर में आईडी दिखाने की फॉर्मेलिटी पूरी कर सकते हैं. इसने ट्रेनों में किसी भी रिजर्वेशन क्लास के यात्री के पहचान पत्र के तौर पर आधार कार्ड के डिजिटल ड्राफ्ट ‘एम-आधार’ को भी स्वीकार करने का फैसला किया है.

क्या है ‘एम-आधार’
‘एम-आधार’ मोबाइल ऐप है, जिसे भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने पेश किया है जिस पर कोई व्यक्ति अपना आधार कार्ड डाउनलोड कर सकता है. हालांकि, इसे उसी मोबाइल नंबर के जरिए डाउनलोड किया जा सकता है जो आधार से जुड़ा हुआ है.

मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि आधार दिखाने के लिए यात्रियों को ऐप खोलना होगा और अपना पासवर्ड डालना होगा. भारतीय रेल की ट्रेनों में किसी भी रिजर्वेशन क्लास के डिब्बे में ‘एम -आधार’ को यात्री की पहचान के सबूत के तौर पर स्वीकार किया जाएगा.