Home Uncategorized आचार्यदेवेश श्रीमद विजय कीर्तियशसूरीश्वर जी म.सा. का सोमवार को रतलाम में मंगल...

आचार्यदेवेश श्रीमद विजय कीर्तियशसूरीश्वर जी म.सा. का सोमवार को रतलाम में मंगल प्रवेश,त्रिदिवसीय प्रवचन माला होगी

रतलाम(खबरबाबा.काम)। परम शासन प्रभावक, व्याख्यान वाचस्पति, परम पूज्य आचार्य देवेश श्रीमद् विजय रामचंद्रसूरीश्वर जी म.सा. के दिव्याशिष एवं वर्तमान गच्छनायक सुविशाल गच्छाधिपति आचार्यदेवेश श्रीमद विजयपुण्यपाल सूरीश्वरजी म.सा. की असीम कृपा से म.प्र. में प्रथमबार इंदौर नगर में चातुर्मास पूर्ण कर परम पूज्य आचार्य देवेश श्रीमद विजय कीर्तियशसूरीश्वर जी म.सा. एवं परम पूज्य आचार्य देव श्रीमद विजय हर्षवर्धनसूरीश्वरजी म.सा. अपने 31 शिष्य परिवार के साथ साथ कई मुमुक्षु आत्माओं के साथ 20 नवम्बर सोमवार को रतलाम पधार रहे है।
आराधना भवन ट्रस्ट बोर्ड के अध्यक्ष अशोक लूनिया एवं सचिव हिम्मत गेलड़ा ने बताया कि आपका प्रथम नगर आगमन 20 नवंबर सोमवार को प्रात: 8 बजे राम मंदिर चौराहे से होगा। वहां से कस्तूरबा नगर होते हुए नमिनाथ जैन मंदिर पहुंचेंगे जहां कस्तूरबानगर श्री संघ की ओर से नवकारसी एवं उसके बाद आचार्य कीर्तियशसूरीश्वर जी म.सा. के प्रभावी प्रवचन होंगे। 21 नवंबर मंगलवार को प्रात: 8.30 बजे भव्य स्वागत यात्रा शहरसराय से प्रारंभ होगी जो धानमंडी, डालूमोदी बाजार, न्यू क्लाथ मार्केट, गणेश देवरी, बजाजखाना, चांदनी चौक, घास बाजार, खेरादी वास, महारानी लक्ष्मीबाई कन्याशाला रोड़ होते हुए जैन कॉलोनी महलवाड़ा पहुंचेगी. जहां आचार्य कीर्तियशसूरीश्वर जी के प्रभावी प्रवचन 21,22 व 23 नवंबर को संपन्न होंगे। इस भव्य स्वागत यात्रा का लाभ हंसराज पितलीया परिवार द्वारा लिया गया है। इससे पूर्व प्रात: 8.00 से 8.30 बजे तक शांतिलाल नाहर जड़वासा परिवार द्वारा नवकारसी का लाभ लिया गया है। जैन कॉलोनी महलवाड़ा में प्रवचन पश्चात समस्त आगंतुको का स्वामी वात्सल्य हनुमानरुंडी पर सोहनबाई मोतीलालजी नाहर परिवार द्वारा रखा गया है।
आराधना भवन ट्रस्ट बोर्ड के अध्यक्ष अशोक लूनिया एवं सचिव हिम्मत गेलड़ा ने उपरोक्त जानकारी देते हुए बताया कि श्रीसंघ में अति उत्साह है एवं शहर में जगह जगह भक्तजनों ने स्वागत बोर्ड लगाये है। उपरोक्त आयोजन को सफल बनाने में आराधना भवन ट्रस्ट बोर्ड, श्रीसंघ के समस्त आराधक, आराधना भवन सेवा समिति के अध्यक्ष मुकेश गांधी एवं उनकी टीम, चंद्रवीर परिवार के अमृत जैन व साथीगण, आराधना भवन के समस्त महिला मंडल, बालिका मंडल आदि पूरे मनोवेग से लगे हुए है। श्री अशोक लूनिया ने समस्त जैन श्री संघ एवं महिला मंडल, नवयुवक मंडल से सानुरोध विनंति की है कि उक्त कार्यक्रम में पधारकर प्रवचन आदि का लाभ अवश्य प्राप्त करें।