Home विदेश इजरायल-इंडिया इनोवेशन ब्रिज-टेक स्टार्टअप्स, टेक हब्स को देगा नई राह

इजरायल-इंडिया इनोवेशन ब्रिज-टेक स्टार्टअप्स, टेक हब्स को देगा नई राह

नई दिल्लीः इजरायल-इंडिया इनोवेशन ब्रिज ऐसा टेक मंच है जिसके जरिए दोनों देश टेक्नोलॉजी सहयोग करेंगे. इस पर आइडियाज और सुझाव के जरिए ऐसा इकोसिस्टम विकसित किया जाएगा जो नए उभरते हुए स्टार्टअप्स, आंत्रप्रेन्योर्स के लिए आगे बढ़ने के रास्ते खोलेगा.
www.startupindiahub.org.in/content/sih/il/innovation-challenge.html पोर्टल को भारत और इजरायल के बढ़ते हुए राजनयिक संबंधों को मजबूती देने की दिशा में एक बड़ा कदम माना जा सकता है.

पीएम नरेंद्र मोदी और इजरायल के प्रधानमंत्री दोनों ने संयुक्त रूप से 6 जुलाई 2017 को इस टेक प्लेटफॉर्म को लॉन्च किया था. ये दोनों देश के बीच द्विपक्षीय सहयोग को बढ़ाने में मदद करेगा. ध्यान रहे कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बीती 4 जुलाई को इजरायल यात्रा पर गए थे. भारतीय और इजरायली टेक स्टार्टअप्स, टेक हब्स और दूसरे इकोसिस्टम के लिए नए रास्ते खोजने के लिए इस तकनीकी प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया जाएगा.

इस टेक पोर्टल पर मुख्य रूप से 3 मुद्दों पर खास तौर पर फोकस किया जाएगा. इसपर भारतीय और इजरायली स्टार्टअप्स मिलकर अपनी क्षमता का इस्तेमाल कर कृषि, डिजिटल हेल्थ और पानी से जुड़े गंभीर मुद्दों और समस्याओं का हल निकालेंगे.

डिजिटल हेल्थ
इसके तहत रियल टाइम हेल्थ मॉनिटरिंग, होम केयर, लगातार काउंसलिंग और हेल्थ मैनेजमेंट पर एक्सपर्ट एडवाइस दी जाएगी. खासतौर पर एनसीडी (नॉन कम्यूनिकेबल डिजीज यानी वो बीमारियां जिन पर खुलकर बात नहीं की जाती) के लिए विशेषज्ञों की सलाह मिलेगी.कृषि/एग्रीकल्चर
फसल तैयार होने के बाद होने वाले नुकसान से बचने के उपाय और किसानों को बाजार से जोड़ने वाले लिंकेज को मजबूत बनाने वाले उपायों की समीक्षा.
किसानों की आमदनी बढ़ाने वाले और कृषि उत्पादकता को बढ़ाने वाले सरल से उपायों और समाधानों को बताना.पानी/जल
वेस्ट वॉटर ट्रीटमेंट के नए उपाय/पानी को रिसाइकिल कर और साफ कर इस्तेमाल लायक बनाना, जल स्त्रोतों और भूजल में इजाफा करना
गांवों और शहरों दोनों में ऐसे नए तरीके इस्तेमाल बताना जिनसे पीने के पानी की उपलब्धता इजाफा हो सके.
इंडिया-इजरायल इनोवेशन ब्रिज भारत सरकार के वाणिज्य और व्यापार मंत्रालय के इंडस्ट्रियल पॉलिसी एंड प्रमोशन विभाग और इजरायल इनोवेशन अथॉरिटी का मिलाजुला इनीशिएटिव है. इस कार्यक्रम को डीआईपीपी की तरफ से इंवेस्ट इंडिया और इजरायल इनोवेशन अथॉरिटी की तरफ से मिलकर मैनेज किया जाएगा.

4 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इजरायल गए थे. पिछले 70 सालों में इजरायल की यात्रा पर जाने वाले पीएम मोदी पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं. इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने पीएम को सच्चा दोस्त भी बताया और उनकी इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच सात अहम समझौते भी हुए. साथ ही दोनों देशों ने आतंक के खिलाफ लड़ाई लड़ने पर भी प्रतिबद्धता जताई.