Home रतलाम उपचार के लिए गरीब वर्ग की सभी जरूरतों को पूरा करेगी आयुष्मान...

उपचार के लिए गरीब वर्ग की सभी जरूरतों को पूरा करेगी आयुष्मान भारत योजना: काश्यप,रतलाम में भी किया गया आयुष्मान भारत योजना का शुभारंभ

रतलाम 23 सितम्बर(खबरबाबा.काम)। भारत शासन द्वारा केन्द्रीय वित्त बजट 2018 में प्रधानमंत्री जन-आरोग्य योजना आयुष्मान भारत की घोषणा की गई है, जिसके 2 मुख्य स्तंभ हैं। देश में 1 लाख हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर स्थापित करना और 10 करोड़ परिवारों को 5लाख रूपये प्रतिवर्ष के स्वास्थ्य बीमा कवर से जोड़ना है। देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज झारखंड प्रान्त के प्रभात तारा मैदान रांची से पूरे देश में प्रधानमंत्री जन-आरोग्य योजना आयुष्मान भारत की शुरूआत की। रतलाम के एमसीएच अस्पताल में आयुष्मान भारत योजना निरामयम का शुभारम्भ किया गया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए विधायक एवं राज्य योजना आयोग उपाध्यक्ष चेतन्य काश्यप ने कहा कि योजना में देश की जनसंख्या का एक बड़ा हिस्सा मेडिकल सुविधा के लिए कवर हो रहा है। गरीब वर्ग के उपचार की सभी जरूरतों को यह योजना पूरा करेगी। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रूप में विधायक सैलाना श्रीमती संगीता विजय चारेल, विधायक रतलाम ग्रामीण मथूरालाल डामोर, विधायक जावरा डॉ राजेन्द्र पाण्डेय, महापौर डॉ सुनिता यार्दे,जिला पंचायत अध्यक्ष प्रमेश मईडा, राज्य कृषक आयोग अध्यक्ष ईश्वरलाल पाटीदार तथा कलेक्टर श्रीमती रूचिका चौहान उपस्थित थे। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रांची से उदबोधन का सीधा प्रसारण देखा व सुना गया।

रतलाम में शुभारंभ अवसर पर तीन हितग्राहियों को योजना के गोल्डन कार्ड प्रदान किए गए। मुख्य अतिथि श्री काश्यप ने कहा कि यह योजना भारत शासन की बहुत बड़ी योजना है। बीमारों को उपचार के लिए 5 लाख रुपये तक मेडिकल कवरेज मिलेगा। योजना सरल ढंग से बनाई गई है। पंजीयन प्रक्रिया आसान है। क्रियान्वयन में भी जटिलताओं को दूर रखा गया है। मध्यप्रदेश में भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने योजना को नए आयाम दिए है।

महापौर डॉ सुनीता यार्दे ने अपने संबोधन में कहा कि आयुष्मान भारत योजना एक अनूठी योजना है। गरीब वर्ग को अपने उपचार के लिए अब पैसे की चिंता नहीं रहेगी। महापौर ने कहा कि शासन द्वारा प्रधानमंत्री आवास, संबल जैसी बड़ी योजनाओं के क्रम में आयुष्मान भारत योजना भी एक महत्वाकांक्षी रूप से लागू की गई है। इस अवसर पर चिकित्सालय परिसर में आयुष्मान डेस्क का शुभारंभ भी अतिथियों द्वारा किया गया।

इस अवसर पर सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर ननावरे ने बताया कि इस योजना से जिले के लगभग 10 लाख व्यक्तियों को लाभ मिल सकेगा। एक साल में पात्र परिवारों के सदस्यों को शासकीय अस्पतालों, शासकीय मेडिकल कॉलेजों और चिन्हित निजी अस्पतालों में 5लाख रूपये तक की कैशलेस उपचार की सुविधा मिलेगी। डॉ. ननावरे ने जानकारी देते हुए बताया कि इस योजना के अन्तर्गत लगभग 1350विभिन्न जटिल बीमारियों के पैकेज निर्धारित किये जा चुके हैं। नागरिकों की सुविधा के लिये चिन्हित अस्पतालों में आयुष्मान भारत कियोस्क स्थापित किया गया है तथा आयुष्मान मित्रों की नियुक्ति की गई है।