Home रतलाम एसपी गौरव तिवारी की जनसुनवाई में उमड़ी आवेदकों की भीड़, जानिए जनसुनवाई...

एसपी गौरव तिवारी की जनसुनवाई में उमड़ी आवेदकों की भीड़, जानिए जनसुनवाई में पहुंचे एक पुराने सटोरिए को SP ने पहचानकर क्या कहा। गिरफ्तारी वारंट तामिल नहीं होने पर एसपी तिवारी ने थाने पर फोन कर जिम्मेदार अधिकारी से कहा-‘यदि मैंने सीधे गिरफ्तार करा लिया तो तुम लाइन अटैच हो जाओगे’-

रतलाम, 10जुलाई(खबरबाबा.काम)। ‘ तुम तो वही हो ना, जो सट्टा चलाते थे, मैंने तुम्हें पहले पकड़ा भी है। कान खोल कर सुन लो सट्टा मत चलाना, वरना फिर जिलाबदर हो जाओगे’।

यह चेतावनी जिले के नवागत एसपी गौरव तिवारी ने मंगलवार को अपनी पहली जनसुनवाई में आवेदन लेकर पहुंचे एक पुराने सटोरिए को दी। उक्त व्यक्ति एक शिकायत लेकर एसपी के पास पहुंचा था, जिसे एसपी गौरव तिवारी ने तत्काल पहचान लिया। उन्होंने उससे जब सट्टा चलाने के बारे में पूछा तो उसका कहना था कि उसे सट्टा छोड़े 1 साल 39 दिन हो गए है। इसके बाद एसपी ने उसे चेतावनी देते हुए उसकी समस्या पूछी और कार्यवाही का आश्वासन दिया।

जनसुनवाई में उमड़ी आवेदकों की भीड़

मंगलवार को जिले के नवागत एसपी गौरव तिवारी ने अपनी पहली जनसुनवाई ली।जिसमें आवेदकों की भीड़ उमड़ी।एसपी गौरव तिवारी ने जनसुनवाई में जहां सभी की समस्याओं को सुना वही तत्काल कार्रवाई के निर्देश भी दिए ।कई मामलों में थाना स्टाफ की ढील पोल मिलने पर स्टाफ को सख्त लहजे में चेतावनी दी।

.…. तो तुम लाइन अटैच हो जाओगे

जनसुनवाई में एक व्यक्ति एसपी गौरव तिवारी के पास आवेदन लेकर पहुंचा और बताया कि चेक बाउंस के मामले में वह फरियादी है और सामने वाले पक्ष के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट निकला हुआ है। लेकिन पुलिस द्वारा वारंट तामील नहीं कराया जा रहा है।इस पर एसपी गौरव तिवारी ने तत्काल थाने पर फोन लगाकर जिम्मेदार अधिकारी से बात की और साफ शब्दों में कहा कि यदि गिरफ्तारी वारंट तामील नहीं हुआ और उनके द्वारा सीधे गिरफ्तारी कराई गई तो लाइन हाजिर होने के लिए तैयार रहना। इसके बाद एसपी गौरव तिवारी ने समस्त पेंडिंग स्थाई और गिरफ्तारी वारंट की जानकारी भी थानों से मांगी और इनाम घोषित करने के लिए कहा।

जनसुनवाई में यह भी दिए निर्देश

– जनसुनवाई में आए घरेलू हिंसा और भरण-पोषण के मामले में एसपी गौरव तिवारी ने फरियादियों को विधिक सहायता दिलाने के निर्देश दिए।

– कई मामलों में अारोपियों के ना पकडे जाने पर एसपी गौरव तिवारी ने उन पर इनाम भी घोषित किया।

– मर्ग के मामले में एसपी गौरव तिवारी ने थाना प्रभारियों को स्वयं मौके पर जाकर जांच करने और कार्रवाई के निर्देश दिए।

– अपहरण और दुष्कर्म के मामले में एसपी गौरव तिवारी ने थाने पर फोन कर तत्काल FIR के निर्देश भी दिए।

– सरवन क्षेत्र के एक मामले में एक व्यक्ति पुलिस पर प्रकरण दर्ज और गिरफ्तार करने के लिए पैसे मांगने की शिकायत लेकर पहुंचा ।इस पर SP ने सरवन थाने पर फोन कर प्रभारी अधिकारी पर नाराजगी जाहिर करते हुए मामले की जानकारी ली, तो पता चला कि शिकायतकर्ता स्वयं 307 के मामले में आरोपी है ,इसके बाद एसपी गौरव तिवारी ने थाने से जवान बुलाकर उसे वहीं गिरफ्तार करवाया।

-जन सुनवाई के दौरान भी नवागत एसपी गौरव तिवारी का स्वागत करने कई आम नागरिक पहुंचे।