Home रतलाम कलेक्टर कार्यालय, नगर निगम एवं जिला परिवहन कार्यालय के निरीक्षण पर भी...

कलेक्टर कार्यालय, नगर निगम एवं जिला परिवहन कार्यालय के निरीक्षण पर भी पहुंचे संभागायुक्त ,नगर निगम को झोन कार्यालय शुरू करने के लिए योजना बनाने के दिए निर्देश-

रतलाम 1 अगस्त (खबरबाबा. काम) ।कमिश्नर उज्जैन एम.बी. ओझा ने आज कलेक्टर कार्यालय रतलाम का निरीक्षण करते हुए सुनियोजित कार्य प्रबंधन के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव के सन्दर्भ में निर्वाचन आयोग से प्राप्त होने वाले विभिन्न परिपत्रों का भलीभांति अध्ययन करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। इस दौरान कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान,सीईओ जिला पंचायत सोमेश मिश्रा,उपायुक्तद्वय उज्जैन पवन जैन,आर.पी. गेहलोत, उज्जैन कमिश्नरी के सीनियर आडिटर शिवपाल छप्री, लेखापाल अशोक उपाध्याय, श्री भार्गव आदि उपस्थित थे।

कमिश्नर श्री ओझा ने कलेक्टर कार्यालय में गार्ड फाईल के नियोजित ढंग से संधारण के लिए अधीक्षक को निर्देशित किया। शस्त्र लाइसेंस शाखा को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि गलत शस्त्र लायसेंस जारी नहीं हो। धर्मस्व शाखा को विभिन्न मंदिरों की भूमि पर अतिक्रमण नियंत्रण का ध्यान रखने के निर्देश दिए। कमिश्नर ने जिले में शासकीय भूमि को अतिक्रमण से मुक्त रखने के लिए खासतौर से निर्देशित किया।

इस अवसर पर कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने कमिश्नर को बताया कि आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों को ध्यान में रखते हुए प्रत्येक सप्ताह वी.सी. के माध्यम से जिले के सभी एसडीएम के साथ चर्चा की जा रही है। कमिश्नर ने निर्वाचन के सम्बन्ध में आने वाले अंग्रेजी पत्रों के हिन्दी अनुवाद हेतु दक्ष अनुवादक की सुविधा लेने के निर्देश भी दिए।

नगर निगम कार्यालय का निरीक्षण

कमिश्नर एम.बी. ओझा ने रतलाम नगर निगम कार्यालय पहुंचकर विभिन्न विभागों में सम्पादित की जा रही कार्रवाई की जानकारी प्राप्त की। विभिन्न कक्षों में पहुंचकर रिकार्ड संधारण की जानकारी ली। कार्यालय में रिकार्ड बस्तों पर फ्लेग लगाने के निर्देश दिए। निगम आयुक्त को निर्देशित किया कि सम्पत्ति कर में वृद्धि के लिए शहर के सभी घरों का सर्वेक्षण किया जाकर डाटा एकत्र करें, जिससे शत-प्रतिशत मकानों से सम्पत्ति कर प्राप्त किया जा सकेगा जिससे निगम के राजस्व में वृद्धि होगी।

नगर निगम की आडिट शाखा की जानकारी में कमिश्नर ने पाया कि 735 आडिट कंडिकाएं निराकरण हेतु लंबित हैं, इस पर उनके द्वारा सख्त नाराजगी व्यक्त की गई। कंडिकाओं के तेजी से निराकरण के निर्देश निगमायुक्त एस.के. सिंह को दिए। रतलाम शहर में सीवरेज लाईन निर्माण प्रगति की जानकारी लेते हुए कमिश्नर ने निर्देश दिए कि प्रत्येक 500 मीटर कार्य पश्चात नाला भराई एवं समतलीकरण का कार्य किया जाए जिससे नागरिकों को परेशानी का सामना न करना पडे। सीवरेज कार्य में जनहित का पूर्ण ध्यान रखा जाए। नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी को प्रातः जल्दी उठकर सफाई व्यवस्था के योजनाबद्ध ढंग से संचालन के निर्देश दिए। इसके साथ ही शहर में नगर निगम के झोन आफिस चालू करने के लिए योजना बनाने को कहा। अभी कम से कम एक झोन आफिस शुरू करने के निर्देश दिए, जहां से सफाई तथा कर वसूली कार्य संपादित होगा। झोन इंचार्ज को वित्तीय अधिकार देने के भी निर्देश दिए। इससे नगर निगम में आने वाले व्यक्तियों का दबाव कम होगा।

जिला परिवहन कार्यालय का निरीक्षण

कमिश्नर एम.बी. ओझा ने जिला परिवहन कार्यालय का भी निरीक्षण किया। कार्यालय में रिकार्ड संधारण की जानकारी प्राप्त की। जिला परिवहन अधिकारी सुश्री रंजनासिंह कुशवाहा को निर्देश दिए कि जिलों में बच्चों की सुरक्षा के लिए स्कूल बसों की सघन चैकिंग की जाए। माननीय सुप्रीम कोर्ट द्वारा जारी किए गए निर्देशों के आधार पर बसों में सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। स्मार्ट चिप कम्पनी के कर्मचारी को वाहनों के फोटो हेतु कैमरे लगाने के निर्देश दिए। परिवहन कार्यालय में सुरक्षा के लिए24 घंटे सुरक्षा गार्डों की तैनाती हेतु कमिश्नर ने निर्देशित किया। लोक सेवा ग्यारंटी के तहत कार्यालय द्वारा आमजन को दी जा रही सुविधाओं की जानकारी भी प्राप्त की। इस दौरान कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान,सीईओ जिला पंचायत सोमेश मिश्रा,उपायुक्तद्वय उज्जैन पवन जैन आदि उपस्थित थे।