Home रतलाम कलेक्टर ने शहर में सीवरेज निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया

कलेक्टर ने शहर में सीवरेज निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया

रतलाम 9 फरवरी 2020/ कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने रतलाम शहर में निर्माणाधीन सीवरेज कार्यों का शनिवार को निरीक्षण किया। कलेक्टर द्वारा डालू मोदी बाजार, खैरादीवास, हरदेव लाला की पीपली तथा जवाहर नगर पहुंचकर सीवरेज कार्य देखें। इस दौरान नगर निगम इंजीनियर श्री श्याम सोनी तथा सीवरेज कंपनी के इंजीनियर उपस्थित थे।

डालू मोदी बाजार में कॉर्नर पर की गई खुदाई से अवरुद्ध हुए यातायात पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कलेक्टर द्वारा कंपनी इंजीनियर को तत्काल गड्ढे की भराई के निर्देश दिए गए। यहां पैलेस रोड की ओर जाने वाले टर्न पर गड्ढा खुदाई कार्य होने से दुर्घटना का अंदेशा होने के कारण कलेक्टर द्वारा तत्काल गड्ढा भराई के निर्देश दिए गए। कलेक्टर ने स्पष्ट किया कि सीवरेज कार्य के कारण कोई भी रोड पर यातायात बंद नहीं होना चाहिए। यदि अत्यावश्यक स्थिति में बंद होता है तो पूर्व से ही बदल मार्ग का संकेतक लगाना सुनिश्चित करने को कहा। कलेक्टर ने इस बात पर भी सख्त आपत्ति ली कि सीवरेज की नाली खुदाई का मटेरियल सड़कों पर दिख रहा था, उन्होंने यह सुनिश्चित करने को कहा कि सीवरेज निर्माण कंपनी छोटी-छोटी लंबाई में सड़कों की खुदाई करें, साथ ही तत्काल सड़क भराई भी करवाएं। उन्होंने कंपनी इंजीनियर को इस बात की ताकीद की कि सुपरवाइजर द्वारा प्रतिदिन नगर निगम उपायुक्त श्री तपस्या परिहार को जानकारी दी जाएगी कि किन-किन स्थानों पर सड़क भराई की जा चुकी है। साथ ही सुपरवाइजर द्वारा उपायुक्त को प्रतिदिन शाम को सड़क भराई के फोटोग्राफ भेजे जाएंगे।

कलेक्टर ने निरीक्षण में निर्देश दिए कि निर्माण के कारण कहीं भी दुर्घटना नहीं हो, यह सुनिश्चित किया जाए। इसके लिए खोदे गए स्थानों पर बैरिकेडिंग की जाए ताकि वाहन चालक के साथ दुर्घटना नहीं हो। मार्ग परिवर्तन की सूचना पर्याप्त दूरी पर फ्लेक्स लगा कर दी जाए जिससे उस रोड पर आने वाले व्यक्ति को पूर्व से ही जानकारी मिल जाए और वह बदल मार्ग का इस्तेमाल कर सकें। लोकेंद्र टॉकीज चौराहे पर किए जा रहे निर्माण का निरीक्षण भी किया गया। कंपनी के इंजीनियर ने बताया कि 4 दिनों में कार्य पूरा कर लिया जाएगा और 8 दिन में मार्ग खोला जाएगा। कलेक्टर ने जवाहर नगर तथा विनोबा नगर में भी सीवरेज निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया। इस दौरान सीवरेज निर्माण कंपनी के इंजीनियर हरेश कुमार तथा मैप कॉस्ट इंजीनियर संदीप बाथम भी उपस्थित थे।