Home Uncategorized कैमरे की नजर में रहेगा रतलाम, 11 करोड़ की लागत से 35...

कैमरे की नजर में रहेगा रतलाम, 11 करोड़ की लागत से 35 स्थानों पर लगेगें 160 कैमरे, काम शुरु

रतलाम(खबरबाबा.काम)। शहर के हर चौराहे और प्रवेश मार्गो पर अब तीसरी आंख नजर रखेगी । अपराधों की रोकथाम के लिए पुलिस शहर में 35 चौक-चौराहों और प्रमुख स्थानों पर 11 करोड़ रूपए खर्च कर सीसीटीवी कैमरे लगाने जा रही है। कैमरे लगाने का जिम्मा हनीवल ऑटोनैशन इंडिया कंपनी को दिया गया है। एसपी अमित सिंह ने बताया कि कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर और इंजिनियर की टीम रतलाम आ चुकी है। गुरुवार को एसपी ने टीम के साथ शहर का भ्रमण कर कैमरे लगाने के लिए कुछ नए स्थान भी जोड़े है। एसपी के अनुसार सीसीटीवी कैमरे लगाने का कार्य शुरु होने जा रहा है और जनवरी तक पुरा शहर सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में होगा।
जानकारी के अनुसार शहर में लगाएं जाने वाले सीसीटीवी कैमरे तीन प्रकार के होंगे, जिसमें फिक्स कैमरा होगा। तो वहीं एएनपीआर कैमरे जो कि सिर्फ वाहनों के नंबर पर ही फोकस करेगा। इसके साथ तीसरा पीटीजेड कैमरा होगा, जो उस स्थान में लगातार चारों तरफ घूमता रहेगा और हर गतिविधियों को कैद करेगा। शहर में 127 स्टेटिक कैमरे ,30 घुमने वाले , तथा 8 कैमरे नम्बर प्लेट डिटेक्ट करने के लिए ,इस तरह कुल 160 से अधिक केमरो से शहर की निगरानी होगी। पुलिस के अनुसार शासन द्वारा प्रथम चरण में मध्यप्रदेश के 7 जिलों का चयन करते हुए उन जिलों में सीसीटीवी कैमरे लगाएं गए हैं। लेकिन द्वितीय चरण में फिर से 11 जिलों का चयन किया गया। इसमें रतलाम शहर भी शामिल है।
अपराधों पर लगेगा अंकुश
एसपी अमित सिंह का कहना है कि शहर के 35 स्थानों पर सीसीटीव्ही कैमरे लगने से अपराधियों को पकडऩे में मदद मिलेगी और बढ़ते अपराधों पर अंकुश लग सकेगा। दरअसल हर क्षेत्र में लगे कैमरे में अपराधी एवं संदेही कैद होंगे। जिनकी पहचान करते हुए उन्हें आसानी से पकड़ा जाएगा। जनवरी तक कैमरे काम शुरु कर देगें। कैमरे की मानिटरिंग और कंट्रोलिंग के लिए पुलिस लाइन में दो करोड़ की लागत से कंट्रोल रुम भी बनाया जा रहा है। कैमरे उन स्थानों को ध्यान में रखकर लगाए जा रहे है जो साम्प्रदायिक रुप से संवेदनशील है, या जहां ज्यादा वाहन चोरी, लड़ाई झगड़े, छेड़छाड़ जैसी घटनाएं होती है।