Home रतलाम क्राइम मीटिंग: चोरी की वारदाते नहीं रुकने पर एसपी हुए नाराज, 9...

क्राइम मीटिंग: चोरी की वारदाते नहीं रुकने पर एसपी हुए नाराज, 9 थाना प्रभारियों पर की यह कार्रवाई,तीन वर्षो के तुलनात्मक आंकड़े हुए जारी

रतलाम,24फरवरी(खबरबाबा.काम)/जिले में लगातार हो रही चोरी और अन्य वारदातों को लेकर मंगलवार को पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने जिलेभर में पदस्थ पुलिस अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में वारदातों पर नियंत्रण नहीं होने पर एसपी ने सख्त नाराजगी जताई। चोरी की वारदातों के साथ अपराधों को रोकने में नाकाम थाना प्रभारियों को एसपी ने निंदा और अर्थदंड की सजा से दंडित किया है। वहीं बेहतर काम कर पुलिस की लाज बचाने वाले थाना प्रभारियों को एसपी ने पुरस्कार देने की बात कही।

 

पुलिस कप्तान गौरव तिवारी ने चोरी की वारदातों के संबंध में बीते तीन वर्ष के तुलनात्मक आंकड़े भी जारी किए है,तीन वर्षो के तुलनात्मक आकंडो के अनुसार इस वर्ष चोरी और लूट की वारदातों में कमी आई है। एसपी ने बढ़ती चोरी की घटनाओं और बढ़ते आपराधों को लेकर थानेदारों को अपनी कार्यशैली सुधारने के निर्देश दिए। इसके अतिरिक्त चोरियां रोकने के लिए अपने थाना क्षेत्र की भौगोलिक स्थिति और सॉफ्ट टार्गेट को चिन्हित करके उसके अनुरूप रणनीति तैयार करने और थाने के स्टाफ की भी जवाबदेही तय करने के लिए कहा । सभी लोग अपने थाना क्षेत्र की सीमा पर चैकिंग लगाए और अपराधियों के बारे में जानकारी एकत्र कर उनकी भी जांच करें।

इनको मिली सजा

पुलिस कप्तान ने चोरी की वारदातों को लेकर ठीक से काम नहीं करने वाले थानेदारों को निंदा की सजा से दंडित किया है। इसमें स्टेशन रोड, डीडी नगर, रावटी, नामली, आलोट, कालूखेड़ा, औद्योगिक क्षेत्र जावरा थाना प्रभारी को सजा दी। इनमें माणक चौक व औद्योगिक क्षेत्र रतलाम को चेतावनी दी। वहीं बेहतर काम करने वालों में बिलपांक, शिवगढ़, पिपलौदा, रिंगनोद, ताल, बड़ावदा, सैलाना, बाजना के थाना प्रभारियों को कैश रिवार्ड देकर पुरुस्कृत करने की बात कही।