Home रतलाम चुनाव को प्रभावित कर सकने वाले लोग किए जा रहे हैं चिन्हित,...

चुनाव को प्रभावित कर सकने वाले लोग किए जा रहे हैं चिन्हित, चुनाव पूर्व होगी कार्रवाई, 31 अगस्त तक जुड़वा सकते हैं मतदाता सूची में नाम, जिले में बढ़े 133 पोलिंग बूथ, जानिए विधानसभा निर्वाचन को लेकर किस तरह चल रही है प्रशासन की तैयारियां-

रतलाम, 25अगस्त(खबरबाबा.काम)। इस वर्ष के अंत में होने वाले विधानसभा निर्वाचन को निर्भीक एवं निष्पक्ष रुप से कराने के लिए जिला एवं पुलिस प्रशासन भी चुनाव आयोग के निर्देशानुसार तैयारियों में जुटा हुआ है। निर्वाचन की तैयारियों के संबंध में शनिवार को कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती रुचिका चौहान एवं पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने मीडिया को जानकारी दी।

विधानसभा निर्वाचन को लेकर जिला एवं पुलिस प्रशासन मतदाताओं को प्रेरित करने के साथ ही मतदान केंद्रों पर बेहतर व्यवस्था ,मतदान का प्रतिशत बढ़ाने ,निर्भीक वातावरण में निष्पक्ष चुनाव कराने ,कानून व्यवस्था सहित सुरक्षित माहौल देने की तैयारियों में लगा हुआ है। एसपी गौरव तिवारी के अनुसार धन और बल के दम पर चुनाव को प्रभावित करने वाले तत्वों को भी चिन्हित किया जा रहा है और चुनाव पूर्व ऐसे लोगों के खिलाफ जिलाबदर एवं बांड ओवर की कार्रवाई भी की जाएगी।

31 अगस्त तक जुड़वाए जा सकेंगे नाम

मीडिया को जानकारी देते हुए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती रुचिका चौहान ने बताया कि चुनाव आयोग के निर्देशानुसार अपंजीकृत पात्र व्यक्तियों को निर्वाचक नामावली में अपना नाम जुड़वाने का एक और अवसर प्रदान किया गया है। जिसमें 31 अगस्त तक मतदाता सूची में नाम जुड़वाया जा सकता है ।इसके बाद दावे आपत्ति प्राप्त कर उनका निराकरण किया जाएगा और निर्वाचक नामावली का अंतिम प्रकाशन किया जाएगा।

विधानसभा निर्वाचन को लेकर क्या है खास बातें और किस तरह की है तैयारीयां

1. निर्वाचन की विभिन्न गतिविधियों के संचालन के लिए 17 नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं।
2.विधानसभा निर्वाचन के लिए कम्युनिकेशन प्लान के  साथ ही अवेयरनेस ग्रुप भी क्रिएट किए जा रहे हैं।
3. जिले में कुल 1267 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। पिछले विधानसभा चुनाव की तुलना में 133 मतदान केंद्र बढ़े हैं । एक मतदान केंद्र पर 1200 से अधिक मतदाता नहीं रहेंगे।
4. चुनाव आयोग के निर्देश पर जिले में भी 19 जनवरी से डोर टू डोर सर्वे किया जा रहा है। जिसके तहत पते से लंबे समय से गैरमौजूद, कहीं और शिफ्ट हो चुके और मृत मतदाताओं के नाम मतदाता सूची से हटाए गए हैं। कलेक्टर श्रीमती चौहान के अनुसार जिले से ऐसे 34078 मतदाताओं के नाम हटाए गए हैं वहीं 24379 नए मतदाताओं के नाम भी जोड़े गए हैं।
5. जिले में संवेदनशील मतदान केंद्रों की संख्या में पिछले चुनाव की तुलना में कमी आई है ।इस बार 299 मतदान केंद्रों को संवेदनशील के रूप में चिन्हित किया गया है ।पिछली बार इनकी संख्या 329 थी।
6. जिले में मतदाताओं को मतदान के लिए प्रेरित करने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।
7. कलेक्टर के अनुसार इस बार मतदान केंद्रों पर प्रसूता महिलाओं के लिए विशेष व्यवस्था भी की जा रही है।
8. कलेक्टर के अनुसार जिले के शहरी क्षेत्रों में पिछले चुनाव में मतदान का प्रतिशत ग्रामीण क्षेत्र की तुलना में कम देखने में आया है ।इस बार शहरी क्षेत्र में भी मतदान का प्रतिशत बढ़ाने के प्रयास किए जा रहे हैं।
9. विधानसभा निर्वाचन के लिए चुनाव आयोग द्वारा विशेष रुप से तीन एप्लीकेशन मतदाताओं के लिए शुरू की गई है। समाधान ,सुविधा और सुगम नाम की इन तीन एप्लीकेशन मे मतदाता सीधे ऑनलाइन आचार संहिता उल्लंघन की शिकायत कर सकता है ,वही रैली- सभा के लिए भी ऑनलाइन परमिशन ली जा सकती है।
10. एसपी गौरव तिवारी ने बताया कि जिले में क्रिटिकल मतदान केंद्रों पर 1-4 का अतिरिक्त बल लगाया जाएगा।
11. विधानसभा निर्वाचन के लिए 2 हजार का अतिरिक्त बल ,तीन कंपनियां और 500 होमगार्ड के जवान तैनात रहेंगे।
12. एसपी गौरव तिवारी के अनुसार चुनाव को प्रभावित करने वाले तत्वों को चिन्हित करने का कार्य शुरू कर दिया गया है।चुनाव के पूर्व ऐसे तत्वों के खिलाफ जिलाबदर एवं बांड ओवर की कार्रवाई की जाएगी।
13. एसपी के अनुसार जिले में दूसरे राज्य से जुड़े 15 स्थानों पर बार्डर की नाकाबंदी की जाएगी। वहीं पड़ोसी जिलों से जुड़े 26 स्थानों पर भी नाकेबंदी की जाएगी ।इन सभी स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे से भी नजर रखी जाएगी ताकि अवांछित लोग चुनाव के दौरान जिले में प्रवेश ना कर सके।
14. प्रशासन के अनुसार निष्पक्ष एवं सुगमता से चुनाव संपन्न कराना और पूर्ववर्ती निर्वाचनों की मतदान प्रतिशतता में 10 प्रतिशत तक की वृद्धि करवाना उनका ध्येय है।