Home रतलाम जावरा सीएमओ पर गिरी गाज, झूठी जानकारी देने पर कलेक्टर के...

जावरा सीएमओ पर गिरी गाज, झूठी जानकारी देने पर कलेक्टर के प्रतिवेदन पर संभागायुक्त ने किया सस्पेंड

रतलाम,10अक्टूबर(खबरबाबा.काम)। आचार संहिता के दौरान निर्वाचन संबंधी काम में लापरवाही और झूठी जानकारी देने के जिले में एक बड़े अधिकारी पर गाज गिरी है। नगर पालिका, जावरा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एपीएस गहरवार को कलेक्टर के प्रतिवेदन पर बुधवार को संभागायुक्त एमबी ओझा ने निलंबित कर दिया है।

कलेक्टर रुचिका चौहान ने बताया कि जिले में आचार संहिता लागू होने के बाद सभी नगर परिषद, निगम आदि में जनप्रतिनिधियों को दिए गए शासकीय वाहन तत्काल प्रभाव से वापस लेने के निर्देश सभी अधिकारियों को दिए गए थे। सीएमओ गहरवार से जब इस संबंध में एसडीएम जावरा एमएल आर्य ने पूछा कि क्या नगर पालिका जावरा अध्यक्ष अनिल दसेड़ा को कोई शासकीय वाहन दिया गया है, तो उन्होंने बताया कि अध्यक्ष को कोई शासकीय वाहन उपलब्ध नहीं करवाया गया है। एसडीएम ने जांच में पाया कि अध्यक्ष अनिल दसेड़ा को शासकीय वाहन दिया गया था और वह उनके ही पास है। ऐसे में झूठी जानकारी देने और अन्य निर्वाचन संबंधी कार्यो में भी लापरवाही के चलते एसडीएम ने कलेक्टर से सीएमओ पर कार्रवाई के लिए रिपोर्ट भेजी। कलेक्टर ने रिपोर्ट के आधार पर सीएमओ को निलंबित करने का प्रतिवेदन संभागायुक्त कार्यालय भेजा जहां से उन्हें मंगलवार को निलंबित करने के निर्देश भी जारी हो गए हैं