Home रतलाम जिला प्रभारी मंत्री सचिन यादव ने ली प्रेस वार्ता, जाने क्या कहा-

जिला प्रभारी मंत्री सचिन यादव ने ली प्रेस वार्ता, जाने क्या कहा-

रतलाम,17 जून (खबरबाबा. काम)। जिले सहित पूरे प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पिछले सरकार के दौरान बन रहे मकानों में बड़ा घोटाला सामने आ रहा है। गरीब के नाम पर शुरु हुई योजना में लाभ बिचौलिये ले रहे हैं। इसलिए हमनें इस योजना को अभी धीमा किया है और हम बड़े स्तर पर जांच करवा रहे हैं।

यह बात प्रदेश कृषि विकास, उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण, तथा जिला प्रभारी मंत्री सचिन यादव ने रतलाम सर्किट हाउस पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए कही।
श्री यादव सोमवार सुबह रतलाम पहुंचे और पत्रकारवार्ता की। इस दौरान उन्होंने प्रदेश सरकार की किसान फसल ऋण माफी योजना को बहुत सफल और किसानों के लिए लाभकारी बताते हुए कहा कि जिले में पहले चरण में योजना में 229 करोड़ 11 लाख रुपए कर्ज माफी का लाभ कृषको को दिया गया है। इस योजना में रतलाम जिले के 63 हजार 527 कृषक लाभान्वित किए गए हैं। प्रदेश भर में 20 लाख किसानों को पहले चरण में लाभ मिला है, जबकि बाकी के किसानों को आचार संहिता लगने के कारण लाभ नहीं मिला, जिन्हें अब यह लाभ मिलेगा। श्री यादव ने यह भी कहा कि कर्जमाफी स्थायी समाधान नहीं है, कांग्रेस सरकार किसानों को उपज का बेहतर दाम दिलवाने के साथ समृद्धि के लिए अन्य योजनाओं पर भी काम कर रही है। इसलिए मंडियों में नगद भुगतान की व्यवस्था भी बढाई गई है।

हमने गौवंश के लिए काम किया…..

सड़कों पर घूमने वाले मवेशियों के कारण हो रही दुर्घटनाओं पर श्री यादव ने कहा कि पिछली सरकार ने 15 साल तक केवल गौवंश को लेकर बातें की, लेकिन कोई काम नहीं हुआ। कांग्रेस सरकार ने 1 हजार नई गौशाला निर्माण शुरु करवा दिया है आगे और भी बनेंगी, जिससे मवेशियों के प्रबंधन में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के बाद 4 महीने ही काम करने को मिले, जबकि 2 महीने आचार संहिता लगी रही। केवल 4 महीनों में वचन निभाए हैं, और लगातार काम कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि इंद्रा ज्योति योजना के तहत गरीब परिवारों को 100 रुपए में 100 यूनिट बिजली भी दी जा रही है।

ईवीएम पर सवाल उठाया…
श्री यादव ने चर्चा में कहा कि रतलाम-झाबुआ संसदीय सीट सहित कई सीटों पर जो परिणाम आए हैं, वो जनता का मत नहीं बल्कि ईवीएम की गड़बड़ी है। उन्होंने देशभर में चल रहे ईवीएम बवाल पर कहा कि भाजपा को छोड़कर सभी पार्टी ईवीएम पर सवाल उठा रही है, ऐसे में उसे पूरी तरह खारिज नहीं किया जा सकता। इस दौरान सैलाना विधायक हर्षविजय गेहलोत, आलोट विधायक मनोज चावला, जिलाध्यक्ष राजेश भरावा आदि मौजूद थे।