Home रतलाम जिले में मतदान की तैयारिया अंतिम चरणों में,स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं निर्भीक मतदान के...

जिले में मतदान की तैयारिया अंतिम चरणों में,स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं निर्भीक मतदान के लिए समस्त व्यवस्थाएं की गई,जिले में 375 संवेदनशील मतदान केन्द्रों पर विशेष निगरानी,14 हजार से अधिक के विरूद्ध प्रतिबन्धात्मक कार्यवाही

रतलाम 25 नवम्बर 2018 विधानसभा निर्वाचन 2018 के तहत 28 नवम्बर को प्रातः 8बजे से सायं 5 बजे तक मतदान की प्रक्रिया होगी। जिले के 1267 मतदान केन्द्रों पर 9 लाख79 हजार 640 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। जिले में मतदान की तैयारियां अंतिम चरणों में है और प्रत्येक मतदाता को उसके मताधिकार का प्रयोग करने के लिए स्वतंत्रनिष्पक्ष एवं निर्भीक वातावरण देने की समस्त व्यवस्थाएं की गई है।

 

उक्त जानकारी कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती रूचिका चौहान ने पत्रकारों को निर्वाचन व्यवस्था की जानकारी प्रदान करते हुए दी। इस अवसर पर जिला पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी एवं एडीएम श्री जितेन्द्र सिंह चौहान भी उपस्थित थे।

कलेक्टर श्रीमती चौहान ने बताया कि जिले में 9 लाख 53 हजार मतदाताओं को वोटर स्लीप वितरित की जा चुकी है। इस बार वोटर स्लीप का आकार बड़ा रखा गया है। उसके साथ ही इसके पीछे मतदान केन्द्र का नक्शा भी प्रदर्शित किया गया है। जिन मतदाताओं को मतदाता स्लीप नहीं मिल पाई है वे आयोग द्वारा निर्धारित 12 पहचान पत्रों के आधार पर अपनी पहचान प्रदर्शित कर मतदान कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि जिले 475 सेवा मतदाता है इन्हें डाकमत्र उपलब्ध करवाया गया है जो इलेक्ट्रानिक माध्यम से उन तक पहुंच गया है और वे इसके माध्यम से अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकते हैं। जिले में पीडब्ल्यूडी मतदाताओं के लिए समस्त मतदान केन्द्रों पर विशेष व्यवस्थाएं की गई है। जिले में 100 बूथआल वूमन बूथ‘ के रूप में स्थापित किया जाएगा। इन केन्द्रों पर महिलाकर्मियों को नियोजित किया जाकर इन्हें विशेष रूप से तैयार किया जाएगा। जिले में 70 मतदान केन्द्रों पर उत्कृष्ट मतदान केन्द्र के रूप में सज्जित किया जाएगा। इस बार आयोग के निर्देशानुसार क्यूलेस सिस्टम भी बनाया जाएगा। यदि कोई मतदाता दिव्यांग है या महिला गर्भवती है या जिस महिला मतदाता के साथ छोटे बच्चे है ऐसे मतदाताओं को कतार मे लगने की आवश्यकता नहीं होगी।

जिले में 325 संवेदनशील मतदान केन्द्रों पर विशेष निगरानी

उन्होंने बताया कि जिले में 325संवेदनशील मतदान केन्द्र चिन्हित किए गए हैं। इनमें से 125 बूथ पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है। 127 बूथ में सीसीटीवी की व्यवस्था रहेगी। 105 बूथ पर वीडियोग्राफी की व्यवस्था की गई। इसके अतिरिक्त जिले में 328 सुक्ष्म प्रेक्षक भी नियुक्त किए गए है जो मतदान दिवस पर सभी मतदान केन्द्रों की व्यवस्थाओं का भ्रमण कर निष्पक्ष एवं निर्भीक मतदान के लिए कार्य करेंगे। सुरक्षा व्यवस्था की दृष्टि से सीआरपीएफ की 10 कंपनियां भी जिले में तैनात की गई है। इसके अतिरिक्त जिले में 20 से अधिक वीडियो निगरानी दल और इतने ही फ्लाईंग स्क्वॉड भी गठित किए गए हैं। उन्होंने बताया कि जिले में प्रतिबन्धात्मक आदेश जारी किए जा चुके हैं। इसके तहत पांच से अधिक व्यक्तियों का जमावड़ा नहीं हो सकेगा। 26 नवम्बर से सायं 5बजे के उपरान्त रैलीसभाध्वनि-विस्तारक यंत्रों द्वारा प्रदर्शन नहीं किया जा सकेगा। जिले से लगी राजस्थान के 3 जिलों बांसवाड़ाझालावाड़ एवं प्रतापगढ़ में रतलाम जिले से लगी 3 किलोमीटर क्षेत्र में स्थापित शराब दुकानों को बंद रखने के लिए तीन जिलों से कहा गया है। उन्होंने बताया कि मतदान दिवस पर अभ्यर्थी को 3 वाहन का प्रयोग करने की अनुमति रहेगी। प्रत्येक वाहन में5 से अधिक व्यक्ति नहीं होंगे। इन 5 व्यक्तियों में वाहन चालक और अभ्यर्थी को यदि निजी सुरक्षागार्ड रखने की अनुमति है तो वह भी शामिल रहेगा। अभ्यर्थी मतदान केन्द्र का भ्रमण कर सकेगा लेकिन वहां की व्यवस्थाओं में किसी प्रकार की बाधा उत्पन्न नहीं करेगा और न ही मतदान केन्द्र में बैठकर मतदान व्यवस्था को बाधित करने का प्रयास करेगा।

14 हजार से अधिक के विरूद्ध प्रतिबन्धात्मक कार्यवाही

जिला पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि आचार संहिता लागू होने से अब तक की अवधि में जिले में 3772लायसेंसी शस्त्रों में से 90 शस्त्रों को छूट प्रदान की जाकर एवं 13 शस्त्रों को जब्त कर शेष सभी शस्त्र जमा करा दिए गए हैं। उन 681 प्रकरणों में9200 लीटर एवं 286 प्रकरणों में 2600 लीटर शराब जब्त की गई है। विभिन्न प्रकरणों में 15आग्नेय शस्त्र एवं 197 हथियार जब्त किए गए हैं। विभिन्न धाराओं में 24544 प्रकरणों में 1.25करोड़ रुपये का समन शुल्क वसूला गया है। उन्होंने बताया कि जिले में 660 स्थायी वारंट एवं4717 गैर जमानती वारंट तामिल किए जाकर133 गैर जमानती वारंट लंबित है। इसी प्रकार14927 व्यक्तियों के विरूद्ध प्रतिबन्धात्क कार्यवाही की जाकर 8225 लोगों को अंतिम बाउंड ओवर किया गया है। 1.28 करोड़ की नगदी एवं अन्य सामग्री जब्त की गई है। उन्होंने बताया कि जिले में सुरक्षा व्यवस्था के लिए 10सीएपीएफ कंपनी, 2 एसएएफ कंपनी एवं 520होमगार्ड उपस्थित हो चुके हैं। जिले में आचार संहिता उल्लंघन के 12 प्रकरण दर्ज किए गए हैं तथा 11 वल्नरेबल क्षेत्रों में 43 लोगों को इंटीमीडेटर चिन्हित कर प्रतिबन्धात्मक कार्यवाही की गई है। उन्होंने बताया कि 14 अंतर राज्य एवं26 अंतर जिला नाकों से बार्डर सीलिंग 72 घण्टों के लिए की जाएगी। श्री तिवारी ने बताया कि जिले में मतदान व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए10 डीएसपी क्षेत्र बनाकर डीएसपी रैंक के पुलिस अधिकारियों की नियुक्ति कर दी है। इन क्षेत्रों में आज से अपना क्षेत्रवार प्रारंभ कर दिया है। इसके अतिरिक्त पुलिस द्वारा अपने सूचना तंत्र के माध्यम से डायल 100 सेवाओं के माध्यम से मतदान व्यवस्था पर पूरी निगरानी की जाएगी।