Home रतलाम नए साल के जश्न की तैयारियां, हुड़दंग और उत्पात मचाने वालों...

नए साल के जश्न की तैयारियां, हुड़दंग और उत्पात मचाने वालों पर रहेगी पुलिस की नजर, पुलिस ने भी की अपनी तैयारी

रतलाम,31दिसम्बर(खबरबाबा.काम)। आज शाम को नए साल का जश्न मनाने के दौरान शराब के नशे में हुड़दंग या उत्पात मचाने वालों पर पुलिस की पैनी निगाह रहेगी। रात को शहर के सभी चौराहों पर तैनात पुलिस ब्रिथ एनालाइजर के साथ वाहन चालकों की जांच करेंगी। नशे में पाए जाने पर संबंधित की रात हवालात में गुजर सकती है।

वर्ष 2019 की विदाई व नववर्ष 2020 के स्वागत के लिए शहरवासी तैयार है। न्यू ईयर सेलिब्रेशन शाम को होगा। कई लोग शहर की होटलों के लिए में जश्न मनाने का इंतजाम करने की योजना बना रहे है। कहा जा रहा है कि यहां परिवार के साथ पहुंचकर भोजन का आनंद लेंगे। शाम ढलते ही होटलों पर न्यू ईयर पार्टी का दौर शुरू होगा। ललिज व्यंजनों के साथ युवाओं की टीम डीजे की धुन पर देररात तक मस्ती का प्लान बना रही है। थर्टी  फस्र्ट का जश्न मनाने वालों के सामने मुसीबत यह हैं कि एक तरफ सर्द बयारें हैं तो दूसरी तरफ पुलिस के फंडे से भी घबराहट देखी जा रही है। तेज आवाज में डीजे और देररात तक शराब परोसने की शिकायत मिली तो सख्त कार्रवाई की जाएगी। कहा जा रहा है कि पार्टी में अगर शराब परोसी जाती है तो एक दिन का आबकारी विभाग से लायसेंस लेना जरूरी होगा। इस तरह तेज गति से बाइक चलाने वालों तथा डीजे बजाने वालों पर भी पुलिस कार्रवाई करेंगी।

पुलिस होटलों, लॉज व धर्मशालाओं की भी चैकिंग करेगी। चेतावनी पहले से दी गई हैं कि तय लायसेंस के बगैर क्लब, होटल व अन्य आयोजन स्थल पर शराब परोसी नही जाएगी। शहर नए साल के जशन के दौरान हंगामा करने वालों पर खास नजर रखी जाएगी, इसके लिए सभी थाना प्रभारियों को अपने-अपने क्षेत्र में देररात तक गश्त करने को कहा गया है। किसी भी तरह की फुहड़ता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। पुलिस जवान सादी वर्दी में भी तैनात रहेंगे। जश्न के माहौल में कोई खलल ना पड़े इसके लिए प्रशासन तैयार है। शहर के प्रमुख चौराहों सहित हाइवे पर पुलिस चौकस नजर रखेगी। पुलिस टीम अलर्ट रहेगी। चौराहों पर ब्रिथ एनालाइजर से जांच की जाएगी। शराब पीकर वाहन चलाया तो नया साल हवालात में मनेगा.

हालांकि प्रशासन ने भी यह भी साफ किया हैं कि निजी परिसर में होने वाले सामान्य कार्यक्रमों पर कोई रोक नहीं है लेकिन सार्वजनिक स्थानों, खुले स्थानों पर कार्यक्रम की अनुमति लेना जरूरी होगा।