Home रतलाम नवागत कलेक्टर और एसपी ने किया जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के कोविड-केयर...

नवागत कलेक्टर और एसपी ने किया जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के कोविड-केयर सेंटर्स का निरीक्षण

रतलाम, 11 मई 2021/ कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम ने मंगलवार को जिले के विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण करते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में स्थापित कोविड-केयर सेंटर्स का निरीक्षण किया। उन्होंने भर्ती मरीजों को दी जा रही सुविधाओं का जायजा लिया। संबंधित एसडीएम को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस दौरान पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी भी साथ थे।

कलेक्टर ने जावरा पहुंचकर कोरोना नियंत्रण के लिए बनाए गए कोविड-कमांड सेंटर का निरीक्षण किया। सेंटर से होम आइसोलेट मरीजों की मानिटरिंग की जानकारी प्राप्त की जावरा सिविल हॉस्पिटल पहुंचकर कोविड-वार्ड देखा। यहां अभी 72 मरीज भर्ती हैं, मरीजों के उपचार के संबंध में जानकारी प्राप्त की। जावरा में शहर भ्रमण करते हुए कोरोना कर्फ्यू का निरीक्षण किया तथा कड़ाई से पालन करवाने के निर्देश एसडीएम को दिए। वे हुसैन टेकरी भी पहुंचे जहाँ जानकारी प्राप्त की। उसके बाद रिंगनोद तथा कलालिया पहुंचर कोविड केयर सेंटर्स का निरीक्षण किया। जावरा एसडीएम श्री राहुल धोटे तथा तहसीलदार श्री बामनिया उपस्थित थे।

कलेक्टर ने पिपलोदा, रानीगांव तथा रियावन में भी कोविड-सेंटर का निरीक्षण किया। पिपलोदा में अब तक 15 मरीज भर्ती हुए हैं, इनमें से तीन डिस्चार्ज किए जा चुके हैं। एक को रतलाम रेफर किया गया है। वर्तमान में 11 मरीज भर्ती हैं। रियावन में 19 मरीज भर्ती हैं, 23 डिस्चार्ज किए जा चुके हैं। उन्होंने सैलाना पहुंचकर बाईपास रोड स्थित कन्या परिसर में बनाए गए कोविड-केयर सेंटर का निरीक्षण किया। इस दौरान एसडीएम श्रीमती कामिनी ठाकुर भी मौजूद थी। उन्होंने सैलाना शहर का भ्रमण करते हुए कोरोना कर्फ्यू  का जायजा लिया।

निरीक्षण के दौरान कलेक्टर द्वारा सभी एसडीएम को निर्देश दिए गए कि कोरोना कर्फ्यू का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाए। कोविड केयर सेंटर्स पर आवश्यक दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता सदैव सुनिश्चित करें। भर्ती मरीजों के अलावा अतिरिक्त रूप से भी ज्यादा मरीज आने की संभावना के दृष्टिगत दवाइयों का अतिरिक्त स्टाक रखा जाए।किल कोरोना सर्वेक्षण पूर्ण गंभीरता से कराया जाए। संदिग्ध मरीजों को चिन्हित कर सेंपलिंग कराई जाए।