Home रतलाम पुलिस की पहल पर हुआ जावरा सबडिवीज़न के ग्राम सरसी और सादाखेड़ी...

पुलिस की पहल पर हुआ जावरा सबडिवीज़न के ग्राम सरसी और सादाखेड़ी के बीच कबड्डी और रस्साकसी का मैच, एसपी गौरव तिवारी ने दी अपराध से दुर रहने की सीख

रतलाम, 27अगस्त(खबरबाबा.काम)।पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी के मार्गदर्शन और उपस्थिति में ग्राम सादाखेड़ी में सरसी और सादखेड़ी के बीच कबड्डी मैच एवं रस्साकसी का आयोजन किया गया । कबड्डी में सरसी और रस्साकसी में सादाखेड़ी की टीम विजेता रही । इसके बाद पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी और जावरा सीएसपी आशुतोष बागरी द्वारा खिलाड़ियों को प्रमाण पत्र वितरित किया गया । एसपी ने इस मौके पर सभी लोगो को संबोधित करते हुए युवाओं को जीवन तरक्की और उन्नति के कई जरूरी बातें सिखाई गई ।

एसपी गौरव तिवारी द्वारा युवाओ को बताया गया कि ये गांव आपका है , इसी से आपकी पहचान है , आपकों सोचना है कि आप अपने गांव की पहचान किस रुप में बनाना चाहते है।
एसपी ने कहा किअपराध करना गुनाह है पर उसे चुपचाप देखना उससे भी बड़ा गुनाह है , आपकी आंखों के सामने कोई तोड़ फोड़ करता है और आप चुप चाप देख रहे है तो ध्यान रखिये अगला नंबर आपका भी आ सकता है । यदि आप अपराध करने वाली भीड़ का हिस्सा है तो आप अपराधी है । और जिन लोगो ने सादाखेड़ी में नापाक हरकत की है , उसे हमने पहचान लिया है और सख्त से सख्त कार्यवाही होगी । कोई इस आधार में नही बच सकता कि हम ने अपने हाँथ से तोड़ फोड़ नही की ,बस उनके साथ चले गए थे ।
एसपी गौरव तिवारी द्वारा लोगो से अपील की गई कि आप अपने बच्चों से संवाद करे उन्हें नैतिक शिक्षा दे ,हमारे बच्चे क्या कर रहे है ,कैसे लोगो से संपर्क में है ,हमे ख़बर नही होती । आप कितना भी धन एकत्रित कर ले पर यदि आपके बच्चे गलत राह में है तो उस धन का कोई मूल्य नही ।
एसपी गौरव तिवारी द्वारा खेल के बीच हुए एक वाकये का उदाहरण देते हुए कहा कि सादाखेड़ी कबड्डी टीम से अमुक लड़का आउट हो गया पर ये सोच कर बाहर नही गया कि मुझे किसी ने देखा नही , आप लोगो को धोखा दे सकते है, अपने आपको नही , आप ही अपने सबसे बड़े गुरु है , किसी भी चीज से ज्यादा जरूरी है कि हम अपने नजरो में अच्छे बने । और जिस दिन हम किसी और के लिए नही बल्कि खुद के लिए अच्छा करने लगेंगे जीवन के हर क्षेत्र में सफल होंगे ।
एसपी गौरव तिवारी द्वारा युवाओ से अपील की गई कि हम अपने मन से बदले और घृणा के भाव छोड़ दे और अपने प्रयास और मेहनत सार्थक दिशा में लगाये । यदि हम मन मे घृणा के भाव पालते रहेंगे तो एक दिन जरूर ऐसा करेंगे जो अपराध की श्रेणी में आता है , और एक बार F I R दर्ज हो गई तो फिर पूरी जिंदगी तबाह हो जाएगी , ना नौकरी लगेगी और ना ही पासपोर्ट बन पाएगा । इसके बजाय अपने मन मे प्रेम और भाई चारे के भाव रखे ,ये हमे सकारात्मक ऊर्जा देंगे और कठिन परिस्थिति को भी आप हँसते हुए पार कर जाएंगे ।
एसपी द्वारा लोगो को आगाह भी किया गया कि कानून हाँथ में लेने वालों को कतई बख्सा नही जाएगा । इस देश मे कानून का शासन है इससे ऊपर कोई नही है । चाहे वो किसी जाति ,धर्म का हो , कितना भी प्रभावशाली हो यदि अपराध में लिप्त होता है तो उसे सजा दिलवाने में कोई कसर नही छोड़ी जाएगी ।