Home मध्यप्रदेश प्रदेश में 5 करोड़ 4 लाख 95 हजार 251 मतदाता निर्वाचक नामावली...

प्रदेश में 5 करोड़ 4 लाख 95 हजार 251 मतदाता निर्वाचक नामावली में दर्ज आचार संहिता के 35 दिनों में अब-तक लगभग 50 करोड़ की सामग्री और नगदी जब्त : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी

रतलाम 13 नवंबर 2018। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री व्ही.एल. कान्ता राव ने बताया कि आचार संहिता लगने के बाद 6अक्टूबर से 10 नवम्बर तक 9 करोड़ 57 लाख की लगभग 4 लाख लीटर अवैध शराब, 5 करोड़45 लाख रूपये कीमत की ड्रग्स व नशीले पदार्थ, 7 करोड़ 43 लाख का अवैध सोना चांदी, 20करोड़ 58 लाख रूपये की नगदी और 6 करोड़39 लाख रूपये कीमत की अन्य सामग्री पकड़ाई है। इस प्रकार 35 दिनों में लगभग 50 करोड़ रूपये की सोना-चांदीअवैध शराबनशीले पदार्थ और नगदी जब्त की गई है।

जबकि विगत विधानसभा चुनाव 2013 में 27 करोड़ 61 लाख रूपये की जब्ती की कार्रवाई हुई थी। श्री कान्ता राव ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा चुनाव में सभी प्रत्याशियों को शपथ पत्र देकर फार्म-26 में ऐसे सभी प्रकरणों का उल्लेख करना है जिसमें उनके विरूद्ध अपराधिक मामले लंबित है या दोष सिद्ध हो चुके है। इन सभी शपथ पत्रों को प्रत्याशी तीन बार समाचार पत्रों और टी.वी. चैनलों पर स्वयं के व्यय पर प्रकाशित और प्रसारित करायेगा। टी.वी. प्रसारण के समय फोन्ट साईज स्टेंडर्ड होना चाहिए। इसके प्रसारण की अवधि 7 सेकण्ड से कम नहीं होना चाहिए।

इसके साथ ही भारत निर्वाचन आयोग द्वारा सी-4 और सी-5 फॉर्मेट दिये गये है। सी-4फार्मेट में अभ्यर्थियों को निर्वाचन व्यय के साथ30 दिन के अन्दर जिला निर्वाचन अधिकारी या आरओ को आपराधिक रिकार्ड के संबंध में प्रकाशित और प्रसारण का ब्यौरा दस्तावेजो के साथ जमा करना होगा और सी-5 फार्मेट में राजनैतिक दलों को 30 दिन के अन्दर प्रकाशन और प्रसारण के संबंध में रिपोर्ट मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के यहां जमा करनी होगी।

श्री राव ने बताया कि निर्वाचन आयोग ने7 मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय राजनैतिक दलों के लिये7 चुनाव चिहृ और अन्य राज्यों के मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के लिये 10 चुनाव चिहृ आरक्षित किये गये है। 84 चुनाव चिहृ गैर मान्यता प्राप्त पंजीकृत राजनैतिक दलों को इस शर्त पर रखे गये है कि उनके द्वारा विधानसभा चुनाव में 5 प्रतिशत अभ्यर्थी खड़े किये जाएंगे।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि आचार-संहिता लगने के बाद 8 हजार 74शिकायते प्राप्त हुई है। जिसमें 7 हजार 115शिकायतों का निराकरण किया जा चुका है सी-विजिल एप्प पर 1463 शिकायते प्राप्त हुई,जिसमें 1428 शिकायतों का निराकरण किया जा चुका है। सबसे ज्यादा 163 शिकायते सागर से प्राप्त हुई है। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 9जांच टीमें कार्यरत जिसमें 3 स्थायी, 3 भ्रमण पर और 3 टीमें शिकायत और सूचना प्राप्त होने पर कार्यवाही करेंगी।

राज्य में विधानसभा निर्वाचन 2018 के लिये 5 करोड 4 लाख 33 हजार 79 मतदाता निर्वाचन नामावली में दर्ज हैं। 2 करोड़ 63 लाख1 हजार 300 पुरूष मतदाता और 2 करोड़ 41लाख 30 हजार 390 महिला मतदाता एवं तृतीय लिंग 1 हजार 389 दर्ज है। 62 हजार 172 सेवा मतदाता है। इस तरह कुल 5 करोड़ 4 लाख 95हजार 251 मतदाता शामिल है।

श्री राव ने बताया कि प्रेस को समय-समय पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी और रिटर्निंग ऑफिसर द्वारा जारी किये गये सभी निर्देशो,आदेशों और अनुदेशों का पालन करना चाहिए। कोई भी समाचार पत्र और चैनल एग्जिट पोल के सर्वेक्षण को तब-तक प्रकाशित नहीं करेगा जब-तक अंतिम मतदान न हो जाये।