Home देश प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रतलाम में किया चुनावी सभा को संबोधित, कांग्रेस...

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रतलाम में किया चुनावी सभा को संबोधित, कांग्रेस पर किए तीखे हमले

रतलाम,13 मई(खबरबाबा.काम)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि कांग्रेस को भारत माता की जय से परेशानी है। कांग्रेस के नामदार अपने भाषणों की शुरुआत ही गालियों से करते है। उन्हे राष्ट्रभक्ति नहीं गालीभक्ति पसंद है। यह देश गाली भक्ति से चलेगा कि राष्ट्रभक्ति से चलेगा।

रतलाम में भाजपा प्रत्याशी गुमानसिंह डामोर के समर्थन में आमसभा को संबोधित करते हुए श्री मोदी ने स्थानीय से अंतरराष्ट्रीय स्तर तक के मुद्दे उठाए और कहा कि रतलाम का सपूत धर्मेंद्रसिंह चौहान आग से युद्धपोत की रक्षा करते हुए शहीद हो गया और कांग्रेस के लोग पिकनिक के लिए युद्धपोत का इस्तेमाल करते है। इस पर कोई एतराज जताता है, तो कांग्रेसी कहते है-हुआ तो हुआ।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कांग्रेस पर तीखे प्रहार किए। उन्होने ‘हुआ तो हुआ’,शब्द का जिक्र करते हुए कहा कि ये सिर्फ तीन शब्द नहीं है,बल्कि कांग्रेस का अहंकार और कांग्रेस की नीति है। कांग्रेस शासनकाल में हुए कोल,टू जी,पनडुब्बी,हैलीकाप्टर जैसे तमाम घोटालों का जिक्र करते हुए श्री मोदी ने कहा कि हर घोटाले पर कांग्रेस का एक ही रवैया होता है,हुआ तो हुआ। भोपाल गैस कांड का असर आज तक आमजन पर है,लेकिन इस पर भी कांग्रेस यही कहती है कि हुआ तो हुआ। श्री मोदी ने कई बार “हुआ तो हुआ” शब्द का जिक्र कर उन्हें सुनने आए लोगों से भी इसे कहलवाया।

श्री मोदी ने मध्यप्रदेश सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कांग्रेस के नामदार ने दस दिनों में किसानों का कर्जा माफ करने की घोषणा की थी,लेकिन कर्जा माफ नहीं हुआ. बेरोजगारी भत्ता देने की घोषणा की,लेकिन किसी को भत्ता नहीं मिला। जनता जनार्दन ईश्वर का रूप होती है। कांग्रेस ने उससे झूठ बोलकर प्रदेश की सत्ता हासिल की है।

प्रधानमंत्री ने भोपाल के कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह पर भी वोट नही डालने निशाना साधा।  उन्होंने कहा कि दिग्गी राजा इतने डरे हुए थे कि अपना वोट डालने तक नहीं गए। भोपाल में अपनी हार को रोकने के लिए इधर उधर दौड लगा रहे थे और कह रहे थे,कि मुझे बचाओ। नर्मदा परिक्रमा भी कुछ काम नहीं आई।  दिग्गी राजा ने मतदान नहीं करके बहुत बडा पाप किया है। क्योकि देश का नया मतदाता सबको देख रहा है। मतदान करना जरूरी नही है, यह उन्होंने बताया है।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कई मुद्दों पर सीधा संवाद किया और कहा कि कांग्रेस के लोग सेना की सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक पर सवाल खडे करते हैं। उन्होने पूछा कि एयर स्ट्राइक से देश की ताकत बढी या नहीं,तो जनता ने कहा बढी। उन्होने पूछा आतंकवाद से लडना चाहिए कि नहीं,तो जनता ने कहा लडना चाहिए। श्री मोदी ने देश मे फिर भाजपा सरकार बनने पर भाजपा की नई योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि केंद्र द्वारा किसानों के खातों में छ: हजार रुपए डाले जा रहे हैं,लेकिन मध्यप्रदेश सरकार ने अब तक किसानों की सूचि उपलब्ध नहीं कराई है। यह योजना अब तक पाच एकड वाले किसानों के ही लिए थी,लेकिन 23 मई को सरकार बनने के बाद यह सीमा समाप्त कर दी जाएगी।  इसके अलावा गरीब,मजदूर लोगों को वृध्दावस्था में पेंशन देने की योजना भी लागू की जाएगी। श्री मोदी ने अन्य योजनाओं पर भी प्रकाश डाला।

आरम्भ में रतलाम की कालिका माता और बाबा गढ कैलाश का जिक्र किया और शहीद हुए लेफ्टिनेंट कमांडर धर्मेन्द्रसिंह व उनके परिजनों के साथ अमर क्रांतिकारी चन्द्रशेखर आजाद को जन्म देने वाली भूमि को नमन किया। सभास्थल पर मौजूद जनसमुदाय से श्री मोदी ने  समर्थन मांगा और कहा कि युवा और महिला मतदाता देश मे फिर मोदी सरकार बनाने का मन बना चुके है। श्री मोदी ने भारत माता की जय- जयकार करवा कर अपना संबोधन समाप्त किया।

सभा में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह, केंद्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत, पूर्व मंत्री डॉ. सत्यनारायण जटिया,फग्गनसिंह कुलस्ते, रतलाम के लोकसभा प्रत्याशी गुमानसिंह डामोर,मंदसौर प्रत्याशी सुधीर गुप्ता, रतलाम विधायक चेतन्य काश्यप,जावरा विधायक राजेन्द्र पांडे, वरिष्ठ नेता हिम्मत कोठारी सहित पार्टी के अन्य विधायक, जिलाध्यक्ष, जिला पंचायत अध्यक्ष, पूर्व विधायक एवं अन्य जनप्रतिनिधि एव पदाधिकारीगण मौजूद थे। संचालन प्रदेश महामंत्री बंशीलाल गुर्जर ने किया। आभार जिलाध्यक्ष राजेन्द्रसिंह लुनेरा ने माना।