Home रतलाम फिजा बिगाडऩे वाले तत्वों से सख्ती से निपटेगी पुलिस, जावरा में पुलिस...

फिजा बिगाडऩे वाले तत्वों से सख्ती से निपटेगी पुलिस, जावरा में पुलिस बल और कोटवारों ने की बलवा ड्रील

रतलाम, 23 मई(खबरबाबा.काम)। संभावित किसान आंदोलन के दौरान कानुन-व्यवस्था की स्थिति के लिए जिला पुलिस हर संभव प्रयास कर रही है। पुलिस सोश्यल मीडिया पर नजर रखे हुए है। आपत्तीजनक या भड़काउ  मैसेज करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। पुलिस के अनुसार फिजा बिगाडऩे वाले तत्वों से सख्ती से निपटा जाएगा। बुधवार को किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए जावरा में पुलिस बल और कोटवारों ने बलवा ड्रील भी की।
1 जून से संभावित किसान आंदोलन के दौरान कानुन-व्यवस्था की स्थिति नहीं बिगड़े और आमजन को परेशानी न हो , इसके लिए एसपी अमित सिंह के निर्देशन में जिला पुलिस द्वारा लगातार कार्य किया जा रहा है। बुधवार को एसपी श्री सिंह के मागदर्शन और एएसपी डां. राजेश सहाय एवं जावरा सीएसपी आशुतोष बागरी के निर्देशन में जावरा शहर पुलिस थाने और महात्मा गांधी स्कूल मैदान में बलवा ड्रील का आयोजन किया गया। बलवा ड्रील के दौरान पुलिस बल के साथ ही कोटवारों को भी बताया गया कि उपद्रव या कानुन -व्यवस्था की स्थिति निर्मित होने पर किस तरह से कार्रवाई करनी है।
मुख्य रुप से यह बातें बताई गई
1.  समस्त बल को शील्ड के प्रयोग का डेमो दिया गया और यह बताया गया कि यदि हेलमेट , बॉडीगार्ड , लेग गॉर्ड , शिन गार्ड के साथ शील्ड का सही इस्तेमाल हो तो कितनी भी पत्थर बाजी हो , बलवाई लाठी डंडो का प्रयोग करे आप सुरक्षित रहेंगे ।
2. सभी को भीड़ को तितर-बितर करने के तरीको के बारे में बतया गया, साथ ही किस तरह समूह में आगे बड़े , किस तरह पीछे हटे , किस तरह लाठी प्रहार करें ,आदि का अभ्यास करवाया गया।
3. सभी को सिखाया गया की परिस्थिति के अनुरूप यदि भीड़ उग्र है तो  स्टन ग्रेनेड , आंसूगैस का प्रयोग किस तरह करे ।
4. स्टन ग्रेनेड ,  आंसूगैस हथगोला , एवं गैस गन चलाने का अभ्यास करवाया गया ।
5. महात्मागांधी स्कूल  ग्राउंड में बलवा परेड अभ्यास करवाया गया । इन्हें सिखाया गया कि किस तरह त्वरित रूप से बलवा ड्रेस पहननी है , वाहन में कौन कहाँ बैठेगा , किस तरह उतरेंगे , किस तरह उपद्रवियों की  वीडियो रिकॉर्डिंग होगी। किस तरह धरपकड़ होगी आदी बताया गया।
6. सभी थाना प्रभारियों को 24 घँटे अपनी गाड़ी में बलवा ड्रिल उपकरण रखने के निर्देश दिए गए तथा इनसे भी स्टन ग्रेनेड , आंसूगैस हथगोले चलवाये गए ।
7. सभी को सिखाया गया की यदि आप आंसूगैस की चपेट में आ जाये तो क्या सावधानियां रखे , इसकी काट क्या है ।