Home रतलाम बाजना बस स्टैंड फोरलेन निर्माण को लेकर फिर गरमाई राजनीति, बाजना बस...

बाजना बस स्टैंड फोरलेन निर्माण को लेकर फिर गरमाई राजनीति, बाजना बस स्टैंड संघर्ष समिति के सरंक्षक,पूर्व महापौर कांग्रेस नेता पारस सकलेचा ने पत्रकार वार्ता कर लगाए आरोप

रतलाम,28फरवरी(खबरबाबा.काम)। बाजना बसस्टैण्ड फोरलेन निर्माण को लेकर  एक बार फिर राजनैतिक गरमा गई है। सैलाना विधायक हर्षविजय गेहलोत के द्वारा विधानसभा में पुछे गए सवाल और उसके जवाब के बाद गुरूवार को बाजना बस स्टैण्ड संघर्ष समिति ने पत्रकारवार्ता कर इस मामलें में गंभीर आरोप लगाए है।

गुरूवार को सर्किट हाऊस पर पूर्व महापौर एवं बाजना बसस्टैण्ड संघर्ष समिति के संरक्षक कांग्रेस नेता पारस सकलेचा एवं अन्य पदाधिकारियो ने सैलाना विधायक श्री गेहलोत की मौजूदगी मे पत्रकार वार्ता कर आरोप लगाया कि  बाजना बस स्टैंड से वरोठ माता मंदिर तक बनने वाले फोरलेन में   विभाग ने एक ही सड़क के निर्माण के लिए एक ही समय में, एक ही स्थान के लिए दो अलग-अलग डीपीआर जारी किए हैं जिनमें से एक 1747 लाख जबकि दूसरा 1004 लाख रुपए का है। श्री सकलेचा ने विधायक  पर भी इस मामले में निशाना साधा। उन्होने आरोप लगाते हुए कहा कि फोरलेन निर्माण में गड़बडिय़ां  हुई और जनता को भ्रामक सूचना दी गई। उन्होंने कहा कि विधानसभा में लोक निर्माण विभाग द्वारा बाजना बस से सागोद रोड निर्माण की डीपीआर दी गई, उसमें सड़क की कुल लागत 1004.75 लाख बताई गई और प्रति किलोमीटर लागत 334.916 लाख। यह रिपोर्ट 21 फरवरी 2019 को दी गई है। जबकि सूचना का अधिकार कानून के तहत जो डीपीआर दी गई है उसमें लागत 1747.06 लाख रुपए बताई गई है और प्रति किलोमीटर 582.35 लाख रुपए है यह रिपोर्ट 15 जनवरी 2018 को दी गई। श्री सकलेचा ने आरोप लगाया कि लगभग 17 करोड़ रुपए का घोटाला किया गया है।  श्री सकलेचा ने यह भी आरोप लगाया कि विधानसभा में दिए गए जवाब में बाजवा बस स्टैंड फोर लेन निर्माण के लिए मकान और दुकान में तोड़फोड़ नहीं करने की बात कही गई है, जबकि वास्तविकता सभी जानते हैं।

तीन साल से क्यों नहीं भरे रेलवे को रुपए

सकलेचा ने सवाल किया कि वर्ष 2014-15 में टून लेन की प्रक्रिया शुरू हो गई थी। 2016 में काम भी शुरू हो गया, जिसके लिए रेलवे ने पुलिया की ड्राइंग, प्राक्कलन बनाने के लिए 18.48  लाख रुपए जमा करवाने की बात कही थी। ये रुपए आज तक जमा नहीं किए गए हैं । 70 फीट का ट्रैफिक 20 फीट चौड़ी रेलवे पुलिया से कैसे गुजरेगा।प्रेस वार्ता के दौरान सैलाना विधायक हर्षविजय गेहलोत, संघर्ष समिति अध्यक्ष अजय चत्तर, सचिव अंर्जुन पंवार सहित अनेक समिति सदस्य उपस्थित थे।