Home रतलाम मिशन 1000 से हुआ शासकीय कन्या हाई सेकेंडरी स्कूल का कायाकल्प

मिशन 1000 से हुआ शासकीय कन्या हाई सेकेंडरी स्कूल का कायाकल्प

रतलाम 12 जनवरी 2020/  म.प्र. लोक शिक्षण संचालनालय के मिशन 1000 के तहत चयन किए गए रतलाम के महारानी लक्ष्मीबाई शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय का कायाकल्प कर दिया गया है। मिशन के तहत लिए गए इस स्कूल के भवन में सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करा दी गई है। टूट-फूट की मरम्मत कर दी गई है। लगभग 8 लाख रूपए की राशि खर्च करके स्कूल का कायाकल्प किया गया है।

कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान की अपील पर जिले के अधिकारियों, कर्मचारियों द्वारा अपने एक दिन के वेतन द्वारा लगभग पौने 2 लाख की राशि स्कूल के लिए उपलब्ध कराई गई है। इसके अलावा कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी एवं स्कूल की निधि भी काम आई है। इस कायाकल्प के बाद रविवार को स्कूल में कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें जिला पंचायत उपाध्यक्ष डी.पी. धाकड़, कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान, पुलिस अधीक्षक  गौरव तिवारी, सीईओ जिला पंचायत  संदीप केरकेट्टा, अपर कलेक्टर श्रीमती जमुना भिड़े, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ. इंद्रजीत बाकलवार, एसडीएम सुश्री लक्ष्मी गामड़, सीएसपी  हेमंत चौहान, जिला शिक्षा अधिकारी  के.सी. शर्मा तथा स्कुल स्टाफ उपस्थित था।

मिशन 1000 के तहत चयनित लक्ष्मीबाई कन्या स्कूल की छत बरसात में टपकती थी, करीब 8000 वर्ग फीट छत पर वाटर प्रूफिंग की गई है, इससे बारिश में पानी टपकने की परेशानी अब नहीं होगी। स्कूल में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए कोई मंच नहीं था, इसलिए मंच भी बना दिया गया है। टेबल-कुर्सियां रिपेयर करवा दी गई हैं। स्कूल के स्वच्छता परिसर में एक चेंजिंग रूम, दो बाथरूम बनाए गए हैं।  पूरे 1300 वर्ग फीट वॉशरूम एरिया पर शेड निर्माण करवाया गया है। स्कूल में सेनेटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन रखी गई है, साथ ही इंसीनरेटर मशीन भी लगाई गई है। स्कूल में बालिकाओं को अपने विज्ञान विषय के प्रयोगों के लिए प्रयोगशाला की उपलब्धता नहीं होने से परेशानी का सामना करना पड़ता था, वह अपने विज्ञान प्रयोगों के लिए आनंद कॉलोनी के नवीन कन्या हाई सेकेंडरी स्कूल में जाती थी परंतु मिशन 1000 के तहत स्कूल में जीर्ण-शीर्ण कक्षों को सुधारा जाकर भौतिक शास्त्र, रसायन शास्त्र, बायोलॉजी तथा कंप्यूटर की स्थापना कार्य भी कर दिया गया है। प्रयोगशालाओं का शुभारंभ कलेक्टर द्वारा स्कूल की बालिकाओं से फीता काटकर करवाया गया। संपूर्ण भवन की मरम्मत सफाई एवं रंगाई, पुताई भी करवा दी गई है।

स्कूल के कायाकल्प के लिए कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान द्वारा सतत मॉनिटरिंग की गई। सीईओ जिला पंचायत संदीप केरकेट्टा, सहायक कलेक्टर सुश्री तपस्या परिहार एवं सहायक यंत्री  सत्येंद्र यादव द्वारा निरंतर ध्यान देकर कार्य करवाया गया है।