Home रतलाम मुख्यमंत्री ने वीसी के माध्यम से रतलाम की स्थिति की समीक्षा की,कहा-समन्वित...

मुख्यमंत्री ने वीसी के माध्यम से रतलाम की स्थिति की समीक्षा की,कहा-समन्वित प्रयासों से रतलाम में पॉजिटिव दर कम कराएं

रतलाम, 16मई (खबरबाबा.काम)/ प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने रतलाम जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति की वीसी के माध्यम से समीक्षा करते हुए कहा कि कोरोना कर्फ्यू का पूर्ण पालन कराते हुए सभी के संबंधित प्रयास एवं बेहतर उपचार व्यवस्था से रतलाम में पॉजिटिव दर कम हो सकती है, इसके लिए सभी प्रयास करें। शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में और अधिक प्रयास कर संक्रमण की दर को कम किया जाए।

इस दौरान एसीएस श्री मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि रतलाम जिले को 90 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर प्रदान किए जा रहे हैं। रतलाम एनआईसी कक्ष में उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव, रतलाम शहर विधायक  चैतन्य काश्यप, जावरा विधायक डॉ. राजेंद्र पांडे, रतलाम ग्रामीण विधायक  दिलीप मकवाना,  राजेंद्रसिंह लुनेरा मौजूद थे ।

इस दौरान रतलाम में संक्रमित मरीजों के उपचार के लिए की गई व्यवस्थाओं की जानकारी देते हुए उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने बताया कि रतलाम में मेडिकल कॉलेज तथा अन्य संस्थाओं में ऑक्सीजन बेड की संख्या को बढ़ाने के प्रयास किए जा रहे हैं। 100 ऑक्सीजन बेड जीएमसी में तथा 225 के लगभग बेड अन्य सेंटर पर बढ़ाने के लिए प्रयास जारी है ।

विधायक  चैतन्य काश्यप ने कहा कि रतलाम मेडिकल कॉलेज में सिटी स्कैन मशीन की कमी है, इस कमी को शीघ्र दूर करने की आवश्यकता है। सिटी स्कैन मशीन प्रारंभ होने से मरीजों को काफी सहायता मिलेगी। उन्होंने ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की संख्या में भी आवश्यकता अनुसार वृद्धि करने को कहा।

विधायक डॉ. राजेंद्र पांडे ने इस दौरान बताया कि जावरा में नब्बे लाख रूपए की राशि जनसहयोग से एकत्रित की गई है। यहां शीघ्र ही ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना भी की जाएगी तथा 60 ऑक्सीजन बेड बढ़ाए जाएंगे। इस व्यवस्था से होम आइसोलेट मरीजों को भी ऑक्सीजन की रिफिलिंग संभव हो सकेगी। उन्होंने पिपलोदा, बाजना, नामली एवं अन्य क्षेत्रों में दस-दस कंसंट्रेटर प्रदान करने का आग्रह किया।

रतलाम ग्रामीण विधायक  दिलीप मकवाना ने बेसहारा बच्चों के लिए मुख्यमंत्रीजी द्वारा प्रारंभ की गई सहायता योजना के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया। उन्होंने बताया कि ग्रामीण अंचल में स्थिति में सुधार हो रहा है और शीघ्र ही इन क्षेत्रों में संक्रमण दर कम होगी। वीसी में रतलाम की चिकित्सा व्यवस्था एवं संक्रमण की स्थिति की समीक्षा भी की गई।