Home रतलाम मेडिकल कालेज के साथ शहर में 150 करोड़ की लागत से सुपर...

मेडिकल कालेज के साथ शहर में 150 करोड़ की लागत से सुपर स्पेशलिटी मेडिकल सेन्टर बनाने के भी प्रयास शुरु, 52 करोड़ की लागत से बनेगा नया रिंगरोड, शहर विधायक चेतन्य काश्यप ने रखा चार वर्षो के कार्यो का लेखा-जोखा, कुल 1500 करोड़ के विकास कार्य कराने की बात कही।

रतलाम(खबरबाबा.काम)। अपने चार वर्ष का विधायक कार्यकाल पूर्ण होने पर शहर विधायक चेतन्य काश्यप ने शुक्रवार को चार वर्षो के कार्यो का लेखा-जोखा प्रस्तुत किया। उन्होने कहा कि कई कार्य प्रगति पर है तो कुछ के लिए गंभीरता से प्रयास किए जा रहे है और वे भी जल्द ही जमीन पर उतरते नजर आएगें। शहर विधायक ने दावा किया कि चार वर्ष में शहर में 1500 करोड़ के विकास कार्य हुए है।
श्री काश्यप ने शुक्रवार को पत्रकारों से चर्चा करते हुए उनके विधायकी कार्यकाल में शहर में हुए कार्यो की जानकारी दी। उन्होने कहा कि शहर में मेडिकल कालेज, शहर के अलग-अलग क्षैत्रों मेें बनी फोरलेन सहित कुल 1500 करोड़ के िवकास कार्य हो चुके है। उन्होने कहा कि शहर में बन रहे मेडिकल कालेज का पिछले दिनों एमसीआई के प्रतिनिधिमंडल ने दौरा किया है। वे कार्य से संतुष्ट है और अगले साल जुलाई कर कालेज शुरु होने की संभावना है।
सुपर स्पेशलिटी कैन्द्र के प्रयास
शहर विधायक श्री काश्यप ने कहा कि मेडिकल कालेज के साथ उनका प्रयास सुपर स्पेशलिटी कैन्द्र शुरु कराने का भी है। उन्होने इसके लिए सीएम से चर्चा की है। सब कुछ ठीक रहा तो मेडिकल कालेज के साथ 150 करोड़ की लागत से सुपर स्पेशलिटी कैन्द्र भी बनेगा, जिससे रतलाम स्वास्थ्य सेवा के क्षैत्र में अलग पहचान कायम कर लेगा।
52 करोड़ की लागत से बनेगी रिंग रोड
शहर विधायक श्री काश्यप ने कहा कि शहर में 52 करोड़ की लागत से नई रिंग रोड बनेगी। यह रिंग रोड बंजली से जुलवानिया ट्रेचिंग ग्राउण्ड के पास से होते हुुए वरोठ माता मंदिर के पास निकलेगी। वहां से करमदी में नमकील कल्स्टर के पास से इंदौर फोरलेन पर मिलेगी। इससे विकास की नई संभावनाओं को बल मिलेगा।
कचरे से बनेगी बिजली
श्री काश्यप ने विकास कार्यो की जानकारी के क्रम में बताया कि जुलवानिया में 153 करोड़ की लागत से सालीड वेस्ट मेनेजमेंट प्रोजेक्ट के तहत कचरे से बिजली बनाई जाएगी। यहां रतलाम सहित आसपास के 22 नगर निकायों से कचरा लाया जाएगा और उसकी बिजली बनेगी। यह बिजली राज्य शासन खरीदेगा।
2022 तक हर आवासहीन को घर
शहर विधायक ने अपने ड्रीम प्रोजक्ट की जानकारी देते हुए कहा कि शहर के हर आवासहीन को आवास उपलब्ध कराना उनके संकल्पपत्र में था। इसके लिए उन्होने शुरु से ही प्रयास किए। 7 हजार के लगभग आवास बन रहे है। उनका संकल्प है कि शहर के हर आवासहीन के पास 2022 तक अपना स्वंय का आवास हो, इसके लिए वे सतत प्रयासरत है।
शहर विधायक ने यह भी कहा
-इनवेस्टमेंट झोन का प्रपोजल भेजा है। 10 स्कवेअर कि.मी. का ओदयोगीक क्षैत्र का प्रस्ताव भेजा गया है।
-सिवरेज सिस्टम का कार्य कड़वी गोली की तरह। अभी परेशानी लेकिन बाद में सुविधा।
-कलेक्टोरेट के नवीन परिसर में एक और बिल्डींग बनेगी।
-गोल्ड काम्पलेक्स का कार्य प्रक्रिया में।
-फ्लेटेड ओद्योगीक क्षैत्र भी विकसीत होगा। छोटी इकाइयां यहां लगेगी।
-रतलाम को संभाग बनाने के लिए प्रयासरत, सीएम से की चर्चा, सकारात्मक परिणाम निकलने की उम्मीद