Home रतलाम म.प्र. निरामयम आयुष्‍मान भारत जिला स्‍तरीय शिविर 13 फरवरी को आर्टस...

म.प्र. निरामयम आयुष्‍मान भारत जिला स्‍तरीय शिविर 13 फरवरी को आर्टस एंड साईंस कालेज में

रतलाम 12 फरवरी 2020/   आयुष्‍मान भारत निरामयम योजना म. प्र. के अंतर्गत चिन्हांकित हितग्राहियों को संबद्व चिकित्‍सालयों के माध्‍यम से जनसामान्‍य में स्‍वास्‍थ्‍य के प्रति जागरूकता पैदा करना एवं योजना अंतर्गत मिलने वाली स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं से अवगत कराने के उददेश्‍य से जिला स्‍तरीय स्‍वास्‍थ्‍य  शिविर का आयोजन 13 फरवरी को प्रात: 10.30 से सायं 4.00 बजे तक शासकीय कला एवं विज्ञान महाविद्यालय पर  किया जा रहा है।

        सीएमएचओ डा. प्रभाकर ननावरे ने बताया कि रतलाम के जिला स्‍तरीय शिविर के शुभारंभ कार्यक्रम का आयो‍जन प्रभारी मंत्री श्री सचिन सुभाष यादव मंत्री किसान कल्‍याण एवं कृषि विभाग तथा उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्‍करण विभाग के आतिथ्‍य में किया जाएगा। शिविर के अंतर्गत आयुष्‍मान योजना के हितग्राहियों को जांच एवं उपचार संबंधी सेवाऐं प्रदान की जाएगी। शिविर के लिए चिन्हित अस्‍पतालों के चिकित्‍सको को भी आमंत्रित किया जा रहा है  इसके लिए बडौदा एवं इन्‍दौर के निजी चिकित्‍सालय के  चिकित्‍सकों से संपर्क स्‍थापित किया जा रहा है ताकि मरीजों को आगामी उपचार के लिए रेफरल सेवाऐं भी प्रदान की जा सकें।

        शिविर में हदय रोगनेत्र रोगस्‍त्री रोगदंत रोग, अस्थि रोग, सर्जरी रोग, मेडिसीन, कैंसर रोग तथा अन्‍य गंभीर बीमारियों के विशेषज्ञ चिकित्‍सकों द्वारा मरीजों को आवश्‍यक स्‍वास्‍थ्‍य सेवाऐं प्रदान की जाएगी तथा आयुष्‍मान भारत निरामयम योजना म. प्र. की जानकारी उपलब्‍ध कराई जाएगी। उल्‍लेखनीय है कि आयुष्‍मान भारत निरामयम योजना म. प्र. के अंतर्गत चिन्हित  परिवार के मरीजों को पांच लाख रूपये तक का स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा बीमा कवच प्रति वर्ष के मान से उपलब्‍ध कराया गया है। योजना के अंतर्गत 1399 प्रकार के पैकेज स्‍वीकृत किए गए हैं जिनके अंतर्गत शासकीय अस्‍पतालोंशासकीय  मेडिकल कालेजों एवं चिन्हित निजी अस्‍पतालों के माध्‍यम से उपचार संबंधी सेवाऐं प्रदान की जा रही है। इसके सबंध में अधिक जानकारी टोल फ्री नंबर 14555 एवं 1800 2332085 पर संपर्क करके प्राप्‍त की जा सकती है । शासकीय अस्‍पताल में आयुष्‍मान मित्र से भी इस संबंध में संपर्क स्‍थापित कर सकते हैं । योजना में लाभ लेने के लिए मरीज अपना समग्र आई डी एवं आधार कार्ड लेकर आएं ताकि पात्रता आधार पर सेवाऐं प्रदान की जा सके ।