Home रतलाम रतलाम आईटीआई के छात्र की हत्या के आरोप में मौसेरा भाई...

रतलाम आईटीआई के छात्र की हत्या के आरोप में मौसेरा भाई सहित दो गिरफ्तार, जानिए किस कारण दिया गया जघन्य और सनसनीखेज हत्याकांड को अंजाम

रतलाम, 11अक्टूबर(खबरबाबा.काम)। आईटीआई के लापता छात्र की हत्या की आशंका आखिरकार सच साबित हुई। रतलाम पुलिस को देर रात करीब 2:00 बजे धार के मांडव में लापता छात्र की लाश बरामद हुई ।पुलिस के अनुसार इस हत्याकांड को मृतक के मौसेरे भाई और आरोपी के चचेरे भाई ने अंजाम दिया।पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।

एसपी गौरव तिवारी ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि पंचेड का रहने वाला छात्र नीलेश 21 वर्ष रतलाम में रहकर आईटीआई में पढ़ाई कर रहा था ।उसके परिजनों ने बुधवार शाम को उसकी गुमशुदगी की शिकायत औद्योगिक क्षेत्र थाने में की थी ।पुलिस ने जब इस मामले में जांच शुरू की तो सामने आया कि नीलेश सुबह आईटीआई पढ़ने गया था और दोपहर में उसका एक मौसेरा भाई और मौसेरा भाई का रिश्तेदार उसे लेकर साथ में निकले हैं ।जब पुलिस ने और जांच की तो सामने आया कि दोनों आरोपी निलेश को लेकर अलकापुरी निवासी उनके एक अन्य रिश्तेदार के मकान पर लेकर गए हैं ।दोपहर में रिश्तेदार और उनकी पत्नी स्कूल पढ़ाने जाते हैं और घर पर कोई नहीं था। पुलिस जब रिश्तेदार के घर पर पहुंची तो वहां खून के छींटे दिखाई दिए ।जिसके बाद पुलिस को नीलेश की हत्या की आशंका हुई ।पुलिस ने इस मामले में रात में ही मौसेरे भाई की तलाश शुरू की और उसे बिरमावल से हिरासत में लिया ।पूछताछ में मौसेरे भाई ने हत्या की बात कबूली और शव को धार जिले में फेंकना बताया।

रात 2बजे मिला शव

एसपी गौरव तिवारी के निर्देश पर एएसपी प्रदीप शर्मा के मार्गदर्शन में आरोपी से हुई पूछताछ के आधार पर औद्योगिक क्षेत्र पुलिस के एक दल को रात में ही धार रवाना किया गया ।जहां पुलिस ने शव की तलाश शुरू की ।आरोपी की निशानदेही पर रात करीब 2:00 बजे धार जिले के मांडव में एक सुनसान स्थान से नीलेश का शव बरामद हुआ ।पुलिस फिलहाल धार जिले में कानूनी औपचारिकता पूरी करने के बाद शव को गुरुवार दोपहर में रतलाम लाया गया।

शंका में चाकू और बैसबाल बेट से की हत्या

एसपी गौरव तिवारी ने बताया कि हत्या में शामिल आरोपी मौसेरे भाई और उसके रिश्तेदार को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है । पुलिस के अनुसार पूछताछ में आरोपी मौसेरे भाई ने बताया कि उसका विवाह कुछ समय पूर्व ही हुआ था ।उसे शंका थी कि मृतक उसकी पत्नी से फोन पर बात करता है और इसी शक में उसने अपने चचेरे भाई के साथ मिलकर इस हत्याकांड को अंजाम दे दिया ।आरोपी बुधवार दोपहर को निलेश को लेकर अपने रिश्तेदार के मकान पर गए और वहां बेसबाल के बेट और चाकू से हमला कर उसकी हत्या कर दी। जिसके बाद आरोपी बाजार से एक बॉक्स और थैले लेकर आए ।बॉक्स में उन्होंने शव रखा और ठेले में हथियार एवं कपड़े रखे। आरोपी बॉक्स में शव को लेकर मोटरसाइकिल पर धार जिले के मांडू ले गए और एक सुनसान स्थान पर शव फेंक दिया।