Home Uncategorized रतलाम एसपी अमित सिंह प्रदेश के तीन सर्वश्रेष्ठ एसपी में शामिल,पुलिस मुख्यालय...

रतलाम एसपी अमित सिंह प्रदेश के तीन सर्वश्रेष्ठ एसपी में शामिल,पुलिस मुख्यालय द्वारा मूल्याकंन

रतलाम(खबरबाबा.काम)। प्रदेश में कानुन व्यवस्था,प्रशासन, अपराधों पर नियंत्रण सहित अन्य आधार पर सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों का पुलिस महानिदेशक ऋषीकुमार शुक्ला के निर्देश पर पुलिस मुख्यालय द्वारा मूल्याकंन किया गया है, जिसमें सभी पुलिस अधीक्षकों को उनके कार्य के आधार पर नम्बर भी दिए गए है। रतलाम के लिए यह अच्छी खबर है कि जिले के पुलिस अधीक्षक अमित सिंह वर्ष 2017 की दुसरी तिमाही में प्रदेश में तीसरे नम्बर पर रहे है। एसपी सिंह को उनके पुलिस अधीक्षक के रुप में माह अप्रैल से जून तक के लिए किए गए कार्यो के लिए 75.1 प्रतिशत अंक प्राप्त हुए है। पहले नम्बर पर बालाघाट एसपी अमित सांघी और दूसरे नम्बर पर सिवनी के तत्कालिन पुलिस अधीक्षक ए.के.पाडें रहे है।
जानकारी के अनुसार डीजीपी ऋषिकुमार शुक्ला के निर्देशन मेें पुलिस मुख्यालय द्वारा तैमाही मुल्यांकन किया गया है, जिसमें प्रदेश के सभी जिलों के पुलिस अधीक्षक का अप्रैल से जून तक के कार्यो का मूल्याकंन विभिन्न आधार पर किया गया है। अपराध, कानून व्यवस्था,प्रशिक्षण, प्रशासन, योजना प्रबंधन एवं शिकायत मदों में वैज्ञानिक मापदंडों के अनुसार मूल्याकंण कार्य पूर्ण किया गया है। खास बात यह है कि पुलिस अधीक्षकों का यह मूल्याकंन अब सतत चलेगा और यह मूल्याकंन उनके वार्षिक गोपनीय चारित्रावली का भी हिस्सा होगें। इस मूल्याकंन से पुलिस अधीक्षकों में भी और अच्छा कार्य कर बेहतर परिणाम देने की इच्छा जाग्रत होगी।
रतलाम एसपी अमित सिंह को तृतीय स्थान
पुलिस मुख्यालय द्वारा अप्रैल 2017 से जून 2017 तक किए गए मूल्याकन में रतलाम एसपी अमित सिंह 75.1 प्रतिशत अंक हासील कर प्रदेश में तीसरे स्थान पर रहे है। वहीं एसपी बालाघाट अमित सांघी 76.55 प्रतिशत अंक प्राप्त कर पहले स्थान पर रहे है। सिवनी के तत्कालिन पुलिस अधीक्षक ए.के.पांडे 75.85 प्रतिशत अंक हासील कर प्रदेश मेें दुसरे स्थान पर रहे है। डीजीपी ने तीनों पुलिस अधीक्षकों को उनके उत्तम प्रदर्शन पर बधाई दी है।
इस आधार पर हुआ मूल्याकंन
-अपराधों के नियंत्रण के लिए कुल 30 अंक
-कानुन व्यवस्था एवं आसूचना संकलन के लिए कुल 25 अंक
-प्रशासन, योजना, प्रबंध, प्रशिक्षण,कल्याण, शिकायत इन शाखाओं से संबधित कार्य, निरीक्षण, मानव संसाधन एवं बजट के उपयुक्त उपयोग के लिए 20 अंक
-दुर्घटनाओं पर नियंत्रण के लिए 5 अंक
-क्षैत्रिय पुलिस महानीरिक्षक(आईजी) द्वारा कार्य का मूल्याकन(10 अंक)
-पुलिस महानिदेशक(डीजीपी) द्वारा मूल्याकंन(10 अंक)