Home रतलाम रतलाम: कलेक्टर, एसपी के संज्ञान में लाए बगैर कोई भी बाहर का व्यक्ति...

रतलाम: कलेक्टर, एसपी के संज्ञान में लाए बगैर कोई भी बाहर का व्यक्ति जिले में प्रवेश नहीं करेगा,प्रवेश के सभी वैकल्पिक रास्तों को भी चिन्हित कर सील करने के निर्देश कलेक्टर ने वीसी में दिए

रतलाम 6 अप्रैल 2020/ कोरोना वायरस से बचाव के लिए रतलाम जिला प्रशासन द्वारा सख्ती के साथ कार्य किया जा रहा है। कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने सोमवार को जिले के सभी एसडीएम, तहसीलदारों, जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों के साथ एक वीडियो कांफ्रेंसिंग कर निर्देशित किया कि बाहर का कोई भी व्यक्ति जिले की सीमा में प्रवेश नहीं करेगा। किसी भी व्यक्ति को जिले में प्रवेश देने का निर्णय अधिकारीगण अपने स्तर पर नहीं लेंगे। कलेक्टर, एसपी के संज्ञान में लाए बगैर कोई भी बाहर का व्यक्ति जिले में नहीं आएगा। वीसी में पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी और सीईओ जिला पंचायत श्री संदीप केरकेट्टा, अपर कलेक्टर श्रीमती जमुना भिड़े भी मौजूद थे।

कलेक्टर ने निर्देश दिए कि जिले की सीमाओं पर सख्ती से चेकिंग हो, ग्रामीण क्षेत्रों में लॉक डाउन का सख्ती से पालन हो। जिले की सीमाओं पर बाहर से आने वाले मुख्य मार्गों के अलावा अन्य वैकल्पिक मार्गों को भी सील कर दिया जाए जहां से व्यक्तियों के प्रवेश की संभावना हो सकती है परंतु एंबुलेंस या आपातकालीन वाहनों के लिए रास्ता रहे, यह सुनिश्चित किया जाये। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि कोरोना प्रभावित क्षेत्रों से जो भी लोग जिले में आए हैं और उनको होम क्वॉरेंटाइन में रखा गया है। यदि वे होम क्वॉरेंटाइन में नहीं रहते हैं तो उनको पकड़कर शासकीय क्वॉरेंटाइन में रख दिया जाए।

कलेक्टर ने निर्देश दिए कि क्वॉरेंटाइन पीरियड पूरा होने के पश्चात मेडिकल जांच होने पर ही उनको क्वॉरेंटाइन से बाहर आने दिया जाएगा। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि ग्रामीण क्षेत्रों में आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता आदि के पास पर्याप्त मास्क, सेनीटाईजर हो, एनआरएलएम के तहत गठित समूहों को मास्क बनाने का कार्य दिया जा सकता है जो भी व्यक्ति मास्कविहीन दिखता है उसको फ्री में मास्क उपलब्ध कराया जाए, जिन व्यक्तियों की ट्रैवल या प्रभावितों से संपर्क की हिस्ट्री हो, उनको चिन्हित किया जाकर सेम्पल लिए जाना है जिले में गठित रैपिड रिस्पांस टीमें सैंपल लेने के लिए ट्रेंड की गई है।

कलेक्टर ने निर्देश दिए कि जिन व्यक्तियों को क्वॉरेंटाइन किया गया है उनको आवश्यक खाद्य वस्तुएं, जूते चप्पल या और भी जरूरी वस्तुए प्रशासनिक अमला उपलब्ध करवाएं। कलेक्टर ने वीसी में उन लोगों की जानकारी भी ली जिनके बाहर से आने पर घरों पर स्टीकर चिपकाए गए हैं।