Home रतलाम रतलाम के एस.एल.भंडारी सर्वानुमति से धर्मदासगण परिषद के अध्यक्ष निर्वाचित

रतलाम के एस.एल.भंडारी सर्वानुमति से धर्मदासगण परिषद के अध्यक्ष निर्वाचित

रतलाम,11मार्च(खबरबाबा.काम)। धर्मदासगण परिषद की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक 10 मार्च रविवार को अणु स्वाध्याय भवन इंदौर में सम्पन्न हुई। जिसमें समस्त श्रीसंघों के वरिष्ठ पदाधिकारियों और गण से संबंधित समस्त संस्थाओं के अध्यक्ष, महामंत्री और कार्यकारिणी सदस्यों को आमंत्रित किया गया था। बैठक में सर्वानुमति से एस.एल.भंडारी को धरमदास गण परिषद का अध्यक्ष निर्वाचित घोषित किया गया।

बैठक के प्रारंभ में नवकार महामंत्र का मंगलाचरण व आचार्य श्री उमेशमुनिजी का स्मरण करते हुए गुरुगुणगान किया गया तत्पष्चात वर्तमान गण नायक प्रवर्तक जिनेन्द्रमुनिजी की स्तुति की गई। बैठक का संचालन कर रहे धर्मदासगण परिषद के संगठन मंत्री भरत भंसाली थांदला ने धर्मदासगण परिषद के वर्तमान अध्यक्ष श्री ज्ञानचंदजी बुपक्या खाचरौद के आकस्मिक निधन पर शोक व्यक्त करते हुए संपूर्ण गण की ओर से श्रद्धांजलि अर्पित कर दो लोगस्स का ध्यान करवाया तत्पश्चात धर्मदासगण परिषद के नवीन अध्यक्ष निर्वाचन की प्रक्रिया प्रारंभ की गई।

अखिल भारतीय श्री धर्मदास स्थानकवासी जैन युवा संगठन के राष्ट्रीय महामंत्री मिलिंद कोठारी ने बताया कि सर्वप्रथम बदनावर श्रीसंघ अध्यक्ष चंद्र्रप्रकाश बोकड़िया ने नए अध्यक्ष के लिए वर्तमान महामंत्री रतलाम निवासी 62 वर्षीय शांतिलाल भण्डारी का नाम प्रस्तावित किया जिसका समर्थन इंदौर श्रीसंघ अध्यक्ष प्रकाश चैरड़िया, धर्मदास जैन श्रीसंघ रतलाम के अध्यक्ष अरविन्द मेहता, झाबुआ श्रीसंघ अध्यक्ष प्रदीप रुनवाल, करही श्रीसंघ अध्यक्ष शिखरचंद छाजेड़, आचार्य श्री उमेशमुनिजी अणु धार्मिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट इंदौर के सचिव कनकमल बांठिया, बड़नगर श्रीसंघ के सचिव राजकुमार पारख आदि उपस्थित समस्त महानुभावों ने किया। शांतिलाल भण्डारी ने अन्य नाम प्रस्तावित करने हेतु खुब अनुनय विनय किया किन्तु पूरी सभा एकमत होकर श्री भण्डारी को उत्तरदायित्व सौपनें हेतु तत्पर थी। इस प्रकार सर्वानुमति से श्री भण्डारी को अध्यक्ष निर्वाचित घोषित किया गया। सभा में मध्यप्रदेश, राजस्थान, गुजरात व महाराष्ट्र के जलगांव, इंदौर, मेघनगर, झाबुआ, बदनावर, बड़नगर, राजपुर, धार, बड़वानी, बखतगढ़, थांदला, बड़वाह, करही, रतलाम, कुशलगढ़, खाचरौद, देवास, उज्जैन, मुलथान, नागदा(धार), बागोद, कोद आदि कई स्थानों के पदाधिकारी और प्रतिनिधि उपस्थित थे। नवनिर्वाचित अध्यक्ष शांतिलाल भण्डारी बचपन में मालव केसरी पूज्य गुरुदेव श्री सौभाग्यमलजी व प्रवर्तक पूज्य गुरुदेव श्री सूर्यमुनिजी म.सा. के सानिध्य में सक्रिय रहे तत्पश्चात आध्यात्म योगी आचार्य श्री उमेशमुनिजी के कृपा पात्र रहे और उनके सानिध्य में अ. भा. श्री धर्मदास स्थानकवासी जैन युवा संगठन के सर्वप्रथम राष्ट्रीय संस्थापक अध्यक्ष बने और गण के पत्र जिनशासन गौरव समाचार पत्र के प्रधान संपादक भी रहे और सन 2012 में आचार्य श्री उमेशमुनिजी के वियोग के पश्चात वर्तमान गण नायक प्रवर्तक जिनेन्द्रमुनिजी के सानिध्य में पिछले 6 वर्षो से गण के महामंत्री पद का निर्वहन कर रहे थे। इस तरह उन्हे तीन पीढ़ी के साथ काम करने का अनुभव प्राप्त है। देश की सुविख्यात केमिकल कंपनी काश्यप स्वीटनर्स लिमिटेड के संचालक शांतिलाल भण्डारी कुशल प्रबंधक के रुप में विख्यात है।