Home रतलाम रतलाम: जावरा विधायक डॉ राजेंद्र पांडे के प्रयासों से क्षेत्र में लिखाएगी...

रतलाम: जावरा विधायक डॉ राजेंद्र पांडे के प्रयासों से क्षेत्र में लिखाएगी औद्योगिक विकास की नई इबारत,जावरा शुगर मिल को बहु उत्पाद ओद्योगिक परिसर की स्वीकृति ,200 लघु व मध्यम उद्योग स्थापित करने का लक्ष्य,जिसमें एक हजार करोड़ रुपए से अधिक का निवेश होने की सम्भावना

रतलाम-जावरा /19 अक्टूबर(खबरबाबा.काम)/ आगामी समय में जावरा विधानसभा क्षेत्र में  ओद्योगिक विकास की नई ईबारत लिखी जायेगी l विगत लम्बे समय से की जा रही मांग पर जावरा शुगर मिल को बहु उत्पाद ओद्योगिक परिसर की स्वीकृति दी जा रही है l अब यहाँ गारमेंट के अलावा सभी उत्पादों के लिए लघु एवं मध्यम उद्योग स्थापित किये जायेगे l
      इस संबंध में जावरा विधायक डॉ राजेन्द्र पाण्डेय ने जानकारी देते हुए बताया कि बंद पड़े जावरा शुगर मिल को ओद्योगिक क्षेत्र के रूप में विकसित करने के उद्देश्य से पूर्ववती भाजपा सरकार के माध्यम से सहकारिता विभाग से वापस लेते हुए उद्योग विभाग ने पुनः स्वय के विभाग में सम्मिलित किया l मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं तत्कालीन उद्योग मंत्री से निरंतर प्रयास के पश्चात ओद्योगिक क्षेत्र विकास हेतु एकेवीएन उज्जैन ने विस्तृत परियोजना बनाई l विधायक डॉ पाण्डेय ने बताया कि विधानसभा एवं विभागीय बैठको में लगातार मुद्दे को उठाने के फलस्वरूप राज्य शासन ने शुगर मिल में फ़ूड प्रोसेसिंग पार्क घोषित किया था ,किन्तु बीते वर्षो में सरकार परिवर्तन होने के साथ ही शुगर मिल में गारमेंट पार्क घोषित किया गया था , लेकिन इस योजना पर भी विशेष कार्य नहीं हुआ l जिसके चलते पुनः विभागीय अधिकारियों के अलावा मुख्यमंत्री श्री चौहान से मुलाक़ात कर गारमेंट  के अलावा एग्रो बेस्ड उत्पाद के लिए ओद्योगिक  क्षेत्र की स्वीकृति की मांग की गयी l इस संबंध में लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री ओम प्रकाश सकलेचा से भी  चर्चा की गई l जिसके फलस्वरूप बरसो से चली आ रही मांग पूर्ण होने जा रही है l
          विधायक डॉ पाण्डेय ने जानकारी देते हुए बताया कि जावरा शुगर मिल की 112.504 हेक्टेयर भूमि में बहु उत्पाद ओद्योगिक क्षेत्र विकास का प्रोजेक्ट स्वीकृत किया गया है l म.प्र. ओद्योगिक विकास निगम इंदोर के प्रबंध संचालक रोहन सक्सेना ने शुगर मिल क्षेत्र का दौरा कर शासन को विस्तृत रिपोर्ट भेज दी है ,जंहा गारमेंट अलावा विभिन्न उद्योगों के लिए स्वीकृति देने की अनुशंसा की गयी  l उद्योग विभाग जावरा के नए ओद्योगिक क्षेत्र को विकसित करने  के लिए आगामी दिनों में कार्य शुरू कर रहा है l इस बहु उत्पाद ओद्योगिक क्षेत्र में लगभग 200 लघु व् मध्यम उद्योग स्थापित करने का लक्ष्य है ,जिसमे एक हजार करोड़ रु से अधिक का निवेश होने की सम्भावना है l इस नए ओद्योगिक क्षेत्र में उद्योग स्थापित करने के लिए सभी ओद्योगिक एसोसिएशन व् उद्योग संघो को निवेश के लिए जानकारी भी देने का प्रयास किया जा रहा है l तीन दर्जन से अधिक उद्योगों के प्रस्ताव भी विभाग के पास पहुचे हैl
   विधायक डॉ पाण्डेय ने शुगर मिल में बहु उत्पाद ओद्योगिक क्षेत्र की स्वीकृति दिए जाने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ,लघु व् मध्यम उद्यम मंत्री ओम प्रकाश सकलेचा के प्रति आभार व्यक्त किया है l