Home रतलाम रतलाम: पूछताछ के लिए ले गई पुलिस, थोड़ी देर बाद घर छोड़ा,...

रतलाम: पूछताछ के लिए ले गई पुलिस, थोड़ी देर बाद घर छोड़ा, तबियत बिगड़ने पर परिजनों ने किया अस्पताल में भर्ती, हुई मौत, पुलिस पर आरोप, एसपी ने तीन जवानों को लाइन अटैच कर जावरा एसडीओपी को सौंपी जांच

रतलाम,5जून2021/ जिले के बड़ावदा में एक व्यक्ति की मौत के मामले में पुलिस जवानों पर आरोप लग रहे है। बताया जा रहा है कि पुलिसकर्मी उक्त व्यक्ति को पूछताछ के लिए थाने ले गए थे। कुछ देर बाद उसे बेहोशी की हालत में घर छोड़कर चले गए। अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। परिजनों ने पुलिस पर पिटाई का आरोप लगाया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी गौरव तिवारी ने तीन पुलिसकर्मियों को लाइन अटैच कर विभागीय जांच के आदेश दिए हैं।

जानकारी के अनुसार बड़ावदा थाने के 3 जवान अवैध शराब बेचने की शंका मे ठिकरिया गांव के प्रेम सिंह को पूछताछ के लिए थाने ले गए थे। करीब 1 घण्टे बाद जवान प्रेमसिंह को अस्वस्थ हालत में उसके घर के बाहर छोड़कर चले गए। परिजन प्रेमसिंह को लेकर बड़ावदा हॉस्पिटल पहुंचे। जहां से उनको जावरा रेफर किया गया। परिजनों ने बड़ावदा पुलिस को सूचना देकर जावरा हॉस्पिटल ले जाकर भर्ती कराया। देर रात को प्रेमसिंह को इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा गया। यहां इलाज के दौरान उसकी देर रात मौत हो गयी। इस मामले में परिजनों ने पुलिसकर्मियों पर  मारपीट का आरोप लगाते हुए तीनों पुलिस जवानों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

मामले की जानकारी मिलने के बाद एसपी गौरव तिवारी ने संबंधित तीनों पुलिस जवानों को लाइन अटैच कर दिया है। प्रेमसिंह के शव का पीएम 3 सदस्यीय डॉक्टरों के पैनल से कराया गया है।

इस मामलें मेें बड़़ावदा पुलिस का कहना है कि मृतक आदतन शराबी था। कच्ची शराब की शंका में पूछताछ के लिए लाया गया था। जहां उसकी तबीयत खराब होने पर उसे वापस उसके घर छोड़ दिया गया था।

मृतक की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मृत्यु का वास्तविक कारण पता चल सकेगा।

इनका कहना है

मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं।जांच होने तक तीनों पुलिस जवानों को लाइन अटैच कर दिया गया है ताकि निष्पक्ष जांच हो सके। मामले की जांच जावरा एसडीओपी करेंगे। दोषी पाए जाने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

-गौरव तिवारी, एसपी रतलाम