Home रतलाम महिला अपराधों पर रोकथाम और प्रभावी कार्रवाई के लिए रतलाम में भी...

महिला अपराधों पर रोकथाम और प्रभावी कार्रवाई के लिए रतलाम में भी कल से 18 थानो में प्रारम्भ होगी महिला ऊर्जा डेस्क,अधिकारियों की पदस्थापना

रतलाम,30 मार्च(खबरबाबा.काम)/ मध्य प्रदेश में महिला अपराधों पर रोकथाम और प्रभावी कार्रवाई के लिए प्रदेश के 700 थानों में ऊर्जा महिला हेल्प डेस्क की शुरुआत माननीय न्यायाधिपति  प्रकाश श्रीवास्तव के द्वारा कल बुधवार 31 मार्च को किया जावेगा । ऊर्जा से अभिप्राय ‘ऊर्जा’ (URJA):- ( URJENT RESPONSE FOR JUST ACTION ) है । यानि कि सिर्फ कार्यवाही के लिए तत्काल प्रतिक्रिया ।

इसी योजना के अंतर्गत जिला रतलाम मे कुल 18 थानो को चयनित कर ऊर्जा महिला हेल्प डेस्क का संचालन किया जावेगा । थानों में हेल्प डेस्क का गठन तीन श्रेणियों में होगा । उक्त महिला ऊर्जा हेल्प डेस्क हेतु प्रशिक्षण प्रदान कर महिला पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है । दर्ज अपराधों की संख्या के अनुसार A, B, C क्लास में वर्गीकरण किया गया है ।
जिला रतलाम मे थाना स्टेशन रोड, माणक चौक, दीन दयाल नगर, औ0 क्षेत्र रतलाम, बिलपांक, नामली, रावटी, जावरा शहर, औ0 क्षेत्र जावरा, शिवगढ़, सैलाना, सरवन, बाजना, पिपलोदा, ताल, अलोट, रिगनोद, बड़ावदा मे ऊर्जा डेस्क का संचालन किया जावेगा ।

महिला ऊर्जा डेस्क हेतु चयनित सभी 18 थानों में ऊर्जा महिला हेल्प डेस्क हेतु भौतिक संसाधन उपलब्ध कराये गए है। जहां महिलाओं के लिए कई सुविधाएं उपलब्ध होंगी । थाना प्रभारी डेस्क के इंचार्ज होंगे । हेल्प डेस्क पर तैनात महिला अधिकारी संचालक का कार्य करेंगी एवं प्रधान आरक्षक मोहर्रिर “समन्वयक” का कार्य करेंगे ।
जिले मे ऊर्जा महिला हेल्प डेस्क के कुशल संचालन हेतु  महिला अधिकारियों की पदस्थापना की गई है।

ऊर्जा डेस्क का मूल उदेश्य व कार्य पीड़ित महिला संबंधी अपराध व शिकायत सुनना व उन शिकायतों व अपराधो का अंतिम रूप से निवारण करना है । ऊर्जा डेस्क होने से पीड़ित महिला निःसंकोच होकर अपनी आप-बीती महिला पुलिस अधिकारी को बता सकेगी । शिकायतों पर कार्यवाही के अतिरिक्त पीड़ित महिला को विधिक सहायता भी उपलब्ध कराई जावेगी ।

इन महिला अधिकारियों की पदस्थापना