Home रतलाम रतलाम में बेअसर रहा बंद, जनजीवन रहा सामान्य,खुले रहे बाजार, जिला और...

रतलाम में बेअसर रहा बंद, जनजीवन रहा सामान्य,खुले रहे बाजार, जिला और पुलिस प्रशासन पुख्ता सुरक्षा इंतजामों के साथ रहा अलर्ट, चप्पे-चप्पे पर तैनात रहा पुलिस बल, सीसीटीवी कैमरों से पुरे शहर पर रखी जा रही नजर।

रतलाम,10 अप्रैल(खबरबाबा.काम)। सोशल मीडिया पर फैला 10 अप्रैल को बंद का आव्हान रतलाम में बेअसर दिखा। शहर में बंद जैसी स्थिति नहीं दिखी । बाजार खुले रहे और जनजीवन अन्य दिनों की तरह सामान्य रहा। हालांकि जिला और पुलिस प्रशासन दिनभर पुरी तरह अलर्ट पर रहा।  बंद की आशंका को देखते हुए शहर में भी प्रमुख स्थानों पर पुलिस बल तैनात करते हुए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे, वहीं सीसीटीवी कैमरों से पुरे शहर में निगरानी रखी जा रही थी।

बंद को देखते हुए शहर में करीब ढाई सौ  का अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया था, वहीं सुबह से ही कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान और एसपी अमित सिंह ने पुरे जिले की स्थिति पर नजर रखना शुरु कर दी थी। दोनों अधिकारियों सहित एडीएम डां. कैलाश बुंदैला,  एएसपी डां. राजेश सहाय,  एसडीएम अनिल भाना, सीएसपी विवेकसिंह चौहान, डीएसपी शीला सुराणा सहित अन्य अधिकारियों ने शहर में भ्रमण कर स्थिति का जायजा लिया।  कानून-व्यवस्था की दृष्टी से सुबह से ही चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात किया गया था। हालांकि शहर में बंद जैसी स्थिति नहीं रही।  सभी स्थानों पर जनजीवन सामान्य रहा।  दुकानों के साथ ही बाजार भी खुले रहे।

बता दें कि किसी बड़े संगठन ने इस बंद का ऐलान नहीं किया था,सोशल मीडिया  पर बंद का आव्हान चल रहा था। इसे देखते हुए स्थानीय स्तर पर भी पुलिस और जिला प्रशासन पुरी तरह चौकन्ना रहा। रतलाम में पुलिस और प्रशासन  ने पुख्ता तैयारियां कर रखी थीं। सोशल मीडिया पर विवादित पोस्ट डालने वालों पर पुलिस  नजर रखे हुए है। 250 जवानों का अतिरिक्त फोर्स भी लगाया गया है। इसके अलावा पुरे शहर में लगे सीसीटीवी कैमरों से हर स्थान की गतिविधी पर नजर रखी जा रही है। एहतियात के तौर पर कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने एसपी अमित सिंह के प्रतिवेदन पत्र पर सोशल मीडिया पर कोई गलत संदेश नहीं चलाए, इसके लिए धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश भी जारी किए है।

जिला और पुलिस प्रशासन ने किए पुख्ता इंतजाम 

सोशल मीडिया पर चल रहे बंद के आव्हान पर बंद की आंशका को देखते हुए कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान और एसपी अमित सिंह ने जिले में हर स्थिति से निपटने की पुरी तैयारी कर रखी थी। प्रशासन द्वारा जहां सभी वर्गो के साथ लगातार बैठक कर सद्भाव बनाए रखने की अपील की जा रही थी,वहीं हंगामे और हिंसा की स्थिति से निपटने के भी साफ संकेत दे दिए गए थे। इसके लिए  जिला और पुलिस अधिकारियों की संयुक्त बलवा ड्रील कर अभ्यास किया गया। प्रशासन द्वारा सोशल मीडिया पर आपत्तीजनक पोस्ट डालने पर कार्रवाई की चेतावनी लगातार जारी की जा रही थी। शहर में सीसीटीवी कैमरे लगाने का कार्य भी तीव्र गति से पुरा किया गया, इसके अलावा जिले में सभी स्थानों पर पर्याप्त बल की व्यवस्था की गई थी।

जावरा में भी स्थिति रही सामान्य
जिले के जावरा में भी बंद का असर नहीं दिखाई दिया। यहां भी बाजार अन्य दिनों की तरह खुले रहे। यहां सीएसपी आशुतोष बागरी शहर का दौरा कर स्थिति का जायजा लेते रहे। जावार में भी प्रमुख स्थानों पर पुलिस बल तैनात किया गया था।

——————