Home रतलाम रतलाम: हनीट्रैप कर युवक को ब्लैकमेल करने के मामले में रतलाम पुलिस...

रतलाम: हनीट्रैप कर युवक को ब्लैकमेल करने के मामले में रतलाम पुलिस ने युवती सहित तीन लोगों को किया गिरफ्तार, तीन और लोगों की तलाश,आरोपियों ने की थी 50 लाख की मांग

रतलाम-जावरा,5दिसम्बर(खबरबाबा.काम)। जिले के रिंगनोद थाना क्षेत्र में एक युवक को हनीट्रैप में फंसाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। लड़की ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर युवक को पहले दोस्ती और प्यार के जाल में फंसाया और फिर दोस्तों ने उसके अश्लील फोटो लेकर उसे ब्लैकमेल किया। पूरे मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, जबिक तीन अब भी फरार है। पुुुुुलिस केे अनुसार  घटना में शामिल एक युवक पहले से डबल मर्डर और एक हथियारों की खरीद-फरोख्त में आरोपी हैं।

जावरा सीएसपी अगम जैन ने बताया कि फरियादी युवक मोहित ने बताया कि 2 महीने पहले उसकी दोस्ती रतलाम निवासी एक युवती से मोबाइल के जरिये हुई थी। चैटिंग करते रहे और दोस्ती गहरी हो गई। युवती ने उसे साथ घूमने चलने के लिए बहाने से बुलाया और फिर रास्ते में गैंग के सदस्यों ने अचानक आकर उसके साथ मारपीट की और फिर अश्लील फोटो लिए गए। वोटो वायरल करने की धमकी देकर आरोपियों ने 50 लाख रुपए फिरौती मांग थी, लेकिन इसके पहले ही युवक पुलिस के पास पहुंच गया। एसपी गौरव तिवारी, एएसपी सुनील पाटीदार के निर्देशन में जावरा सीएसपी अगम जैन और एसडीओपी डीआर माले ने जांच के लिए रणनीति बनाई। रिंगनोद थाना प्रभारी गिरीश जेजुलकर, माननखेड़ा चौकी प्रभारी आरएन सिंह ने साइबर सेल की मदद से सूचना एकत्रित की।

यह है पुरा मामला

मोहित ने पुलिस को बताया कि 6 अगस्त 19 को युवती ने वाट्सएप काल करके बताया कि मंदसौर जाना है और मोहित से उसे छोड़ने के लिए कहा। जावरा में युवती उसे मिली और दोनों मंदसौर के लिए रवाना हो गए। इस दौरान ढोढर के पास माननखेड़ा टोल नाके पर युवती ने कहा कि उसे उल्टी आ रही है तो मोहित ने कार साईड में लेकर रोक दी तथा नीचे उतरा। इसी दौरान पीछे से किसी ने मोहित के सर पर वार कर दिया और तीन-चार लोगों ने उसे पकड़कर मुंह के अंदर कपड़ा ठूंस दिया। उसके बाद उसे कार में बैठाया जंगल में किसी घर के सामने ले जाकर कार रोकी। वहां कपड़े उतारकर जबरन लड़की के साथ अश्लील फोटो लिए। इसके बाद फोटो वायरल करने की धमकी देते हुए 50 लाख रुपए फिरौती की मांग की। पुलिस के अनुसार इस मामले में शिकायत के बाद पुलिस ने सन्ना नामक आरोपी को गुजरात से गिरफ्तार किया। जब पुलिस ने उससे पूछताछ की तो उसने बताया कि अन्य आरोपियों के नाम सामने आए । युवती के अलावा विक्की निवासी रतलाम, जुबैर निवासी ताल, सोनू निवासी मंदसौर के साथ मिलकर मोहित को फंसाने की प्लानिंग की गई। प्लानिंग के साथ युवती ने मोहित से दोस्ती की।   घटना वाले दिन युवती ने मोहित से साजिश के तहत मंदसौर जाने की बात कही थी।
उल्टि का बहाना कर माननखेड़ा पर कार रुकवाई। जैसे ही कार को साईड में रोका वैसी ही पहले से पीछे मौजूद जुबेर, सोनू, वाजिद ने मोहित के सिर पर वार कर उसे घेर लिया। इसके बाद उसे ले जाकर अश्लील फोटो लिए और फिर 50 लाख रुपए की मांग की। मोहित ने 35 लाख रुपए देने की बात कही जिसके बाद आरोपियों ने कार सहित उसे वहीं छोड़ दिया और खुद रवाना हो गए। बाद में नागदा में पैसे की डील हुई लेकिन इसके पहले मोहित पुलिस के पास पहुंच गया।
इसमें पाया कि आरोपी सन्ना उर्फ कालिया घटना में शामिल था। उसकी खोजबीन की गई और बड़ौदा गुजरात से पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया।

पुलिस ने पैसे लेने आए आरोपी सन्ना उर्फ कालिया, विक्की और युवती को गिरफ्तार कर लिया है। शेष आरोपी फरार है।
टीम में थाना प्रभारी और चौकी प्रभारी सहित माया सरलाम, साबिर खान, कैलाश बोराना, जाकिर खान, रवि पाटीदार, ललित जगावत, अनिल पाटीदार, कौशल्या, आर सुनीता, असलम खान साईबर सेल के बलराम पाटीदार, मनमोहन शर्मा, विपुल भावसार आदि का योगदान रहा।