Home रतलाम लगभग दो सौ साल पुरानी सोने की नक्काशी वाली रायल फैमेली की...

लगभग दो सौ साल पुरानी सोने की नक्काशी वाली रायल फैमेली की चोरी हुई तलवार रतलाम पुलिस ने की बरामद, जानिए और क्या-क्या हुआ था चोरी।

 

 

रतलाम, 26 अप्रैल(खबरबाबा.काम)। सैलाना स्थित राजमहल में हुई हाइप्रोफाइल चोरी के मामले में पुलिस ने तीन और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों से बेशकिमती तलवारे, हथियार और चांदी की ट्राफी सहित अन्य सामान बरामद किया गया है। पुलिस के अनुसार बरामद सामान में लगभग 200 साल पुरानी मुगलकालिन समय की सोने की नक्काशी वाली तलवार और अन्य एंटीक सामान एंव हथियार भी है, जिनकी कीमत लाखों में है। चोरी के इस मामले में अभी एक और आरोपी की पुलिस तलाश कर रही है।

गुरुवार को पुलिस कंट्रोल रुम पर एसपी अमित सिंह और एएसपी डां. राजेश सहाय ने इस मामले की जानकारी दी। एसपी श्री सिंह ने बताया कि पुलिस टीम में राजमहल चोरी के मामले में आरोपी श्यामलाल पिता देवगिरी 40 वर्ष निवासी प्रतापगढ राजस्थान, पीयुष पिता सत्यनारायण और भुपेन्द्र पिता जगदीश सोनी निवासी प्रतापगढ राजस्थान को गिरफ्तार कर उनसे 1 तलवार,7 कटार, 2 भाला और चांदी की ट्राफी और पायजब बरामद किए है। पुलिस के अनुसार मामले में नरेन्द्र पिता रमेश निवासी प्रतापगढ की पुलिस तलाश कर रही है। उसके पास से भी कुछ सामान और बरामद होगा।

तलवार 200 साल पुरानी और उस पर सोने की नक्काशी

बरामद की गई एक तलवार पर सोने की नक्काशी है। जानकारों के अनुसार तलवार पर जिस तरह का काम है, उसे देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह  दो सौं साल से अधिक पुरानी है और मुगलकालीन समय की है। जिस तरह तलवार की बनावट है और उस पर सोने की नक्काशी है, उसे देखकर साफ कहा जा सकता है तलवार रायल फैमली के किसी सदस्य की ही थी। इसके अलावा एक कटार पर बारहसिंगा के सिंग का हत्था  बना हुआ है। साथ ही चांदी की ट्राफी पर किया गया कार्य भी देखने लायक है। 

सैलाना राजमहल से एंटीक वस्तुएं ले गए थे चोर

एसपी अमित सिंह ने बताया कि 23 दिसम्बर 2017 को सैलाना पैलेस में अज्ञात बदमाशों ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। महाराजा  विक्रमसिंह की रिपोर्ट पर पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया था। पुलिस के अनुसार बदमाश वहां से किमती सामान ,चांदी की 4 ट्राफी , एक चांदी का फूलदान,एक 12 बोर की एंटीक बंदुक,एक एंटीक रायफल पाईन्ट 22,एक एंटीक रायफल पाईन्ट 30/0608, लोहे की पुरानी तलवार,एंटीक  06 भाले व एटींक लोहे की कटारे चुरा कर ले गए।

पूर्व में यह हुए थे गिरफ्तार

चोरी के इस हाइप्रोफाइल मामले में एसपी अमित सिंह द्वारा एएसपी डां. राजेश सहाय के निर्देशन में टीम का गठन किया था। पुलिस ने चार दिन पूर्व प्रतापगढ राजस्थान से सन्नी पिता राजु हाल मुकाम सैलाना निवासी प्रतापगढ, अशोक पिता लक्ष्मण निवासी प्रतापगढ, अनिल पिता राजु निवासी प्रतापगढ, बंटी पिता श्याम निवासी प्रतापगढ औैर सलमान पिता अयुब निवासी प्रतापगढ को गिरफ्तार कर चोरी का अधिकांश सामान बरामद कर लिया था,  जबकि नरेन्द्र पिता रमेश निवासी प्रतापगढ, पीयुष पिता सत्यनारायण, भुपेन्द्र पिता जगदीश और श्याम निवासी प्रतापगढ की तलाश की जा रही थी, इसमें से नरेन्द्र को छोड़कर पुलिस ने शेष आरोपियों को गिरफ्तार कर उनसे चोरी का और माल बरामद किया।

इनकी रही भूमिका

इस हाई प्रोफाइल मामले के खुलासे और आरोपियों की गिरफ्तारी में एएसपी डां राजेश सहाय, सैलाना एसडीओपी मान सिंह चौहान, सैलाना थाना प्रभारी माधव सिंह ठाकुर, एएसआई शिवनाथसिंह राठौड़, आरक्षक मनोहर, राहुल जाट, शौकीन धाकड़ ,उमेश प्रजापति, अनिल सोलंकी, साइबर सेल के आरक्षक हिम्मत सिंह एवं मनमोहन शर्मा की भूमिका रही।