Home रतलाम विकास कार्यो को गति देने सक्रीय हुए जनप्रतिनिधी, जिला पंचायत अध्यक्ष, उपाध्यक्ष...

विकास कार्यो को गति देने सक्रीय हुए जनप्रतिनिधी, जिला पंचायत अध्यक्ष, उपाध्यक्ष सहित एक दर्जन जिला पंचायत सदस्यो ने की कलेक्टर से मुलाकात

रतलाम,17जनवरी(खबरबाबा.काम)। चुनावी वर्ष में जनप्रतिनिधि भी विकास कार्यो को गति देने के लिए सक्रिय हो गए है। बुधवार को जिला पंचायत के एक दर्जन सदस्य अध्यक्ष, उपाध्यक्ष के साथ रूके काम को प्रशासनिक गति देने के लिए कलेक्टर से मिले एवं उन्हे समस्याओ से अवगत कराया।
जिला पंचायत अध्यक्ष प्रमेश मईड़ा, उपाध्यक्ष डीपी धाकड़ , सचंार एवं सकर्म समिति के अध्यक्ष नारायण मईड़ा , जगदीश पाटीदार एवं जिला पंचायत के करीब एक दर्जन सदस्य कलेक्टर तन्वी सुन्द्रीयाल से भेंट की। सदस्यो ने मनेरगा , प्रधानमंत्री सड़क योजना, पीएचई, आरईएस, पीडब्लूडी, आदिवासी विकास विभाग सहित अन्य विभागो की योजनाओ में आ रही दिक्कतो को दूर करने की मांग की। अध्यक्ष प्रमेश मईड़ा ने कहा कि जनभागीदारी योजना के कामो को तुरंत स्वीकृत किया जाए एवं आदिवासी विकास विभाग के बजट में जिला पंचायत सदस्यो के प्रस्ताव पर तत्काल राशि स्वीकृत करने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। कलेक्टर ने बजट आने पर इसकी व्यवस्था करने का आश्वासन दिया वहीं अन्य कार्यो पर कलेक्टर ने सहयोग का आश्वासन तो दिया ही बल्कि जनप्रतिनिधियो से भी कहा कि प्रशासन पूरी तरह से सहयोग करेगा , वे भी जिले को ओडीएफ करने में सहयोग करे । रूकमणी बाई पाटीदार के प्रतिनिधि जगदीश पाटीदार से कलेक्टर ने कहा ओडीएफ के लिए उनके वार्ड में अच्छा काम हुआ है।
उपाध्यक्ष डीपी धाकड़ ने कहा कि जिला पंचायत की बैठको में विभागो के अधिकारी पहुंचते नही है, बैठको में पारित प्रस्तावो पर अमल नही हो रहे है। धाकड़ ने कलेक्टर से कहा कि वे एक बार जिला पंचायत का निरीक्षण करे।
पचास करोड़ की साध्यता लंबित
जिला पंचायत सदस्य नारायण मईड़ा ने कलेक्टर को बताया कि सैलाना बाजना जो कि आदिवासी क्षेत्र है एवं यंहा सिंचाई परियोजना के तहत कई तालाबो की प्रशासनिक स्वीकृतिया लंबित है। नारायण मईड़ा ने कहा कि पुन्याखेड़ी तालाब,नटवरपुरा तालाब, अडवानिया तालाब सहित कई तालाबो की डीपीआर अभी तक बनी नही है, कुछ की साध्यता विभाग की वेबसाईट पर अपलोड होना है जो कि अभी तक लंबित है। मईड़ा ने बेड़दा, कोटड़ा, सादेड़ा सहित अन्य जगहो के नवीन परियोजना के प्रस्ताव भी कलेक्टर को सौंपे।
ये थे उपस्थित
जिला पंचायत अध्यक्ष प्रमेश मईड़ा, उपाध्यक्ष डीपी धाकड़, नारायण मईड़ा, भेरूलाल गोयल, कविता भगोरा,प्यारी बाई डिंडोर,प्रतापसिंह, भवंरसिंह, कमल देवदा, जगदीश पाटीदार, हेमराज हाड़ा आदि उपस्थित थे।