Home रतलाम विधानसभा चुनाव के दौरान अवैधानिक कार्य एवं आचार संहिता उल्लंघन के मामलों...

विधानसभा चुनाव के दौरान अवैधानिक कार्य एवं आचार संहिता उल्लंघन के मामलों की निगरानी ,जांच और कार्रवाई के लिए कलेक्टर ने उड़नदस्तों का किया गठन

रतलाम 6 सितम्बर(खबरबाबा.काम)।विधानसभा निर्वाचन 2018 के दौरान राजनीतिक दलों,प्रत्याशियों अथवा अन्य असामाजिक तत्वों के द्वारा स्वतंत्र एवं निष्पक्ष निर्वाचन हेतु निर्वाचकों को भयभीत करने, डराने, प्रभावित करने एवं रिश्वत के सभी प्रकारों को रोके जाने तथा निर्वाचकों को प्रलोभित करने, अभित्रस्त करके या निःशुल्क भोजन अथवा नगदी उपहार,मद्यपान के वितरण, धनशक्ति तथा बाहुबल के प्रयोग को रोकने के लिये और अवैध सामग्री का परिवहन, अवैध हथियारों, गोला-बारूद, समाज विरोधी तत्वों की आवाजाही आदि अवैधानिक कार्यों पर निगरानी रखने तथा आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन से संबंधित मामलों,शिकायतों, सूचनाओं पर तत्काल जांच एवं प्रभावी कार्यवाही के लिये कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती रुचिका चौहान ने जिले की सभी विधानसभा क्षेत्रों में उड़नदस्तों का गठन किया है।

उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रवीण कुमार फुलपगारे ने बताया कि विधानसभा रतलाम-ग्रामीण के पुलिस थाना क्षेत्र नामली,रावटी, सैलाना, रतलाम शहर के माणकचौक,दीनदयाल नगर, औद्योगिक क्षेत्र, स्टेशन रोड थाना क्षेत्रों के लिए़ गठित उडनदस्ता दल में खण्ड पंचायत अधिकारी श्री मांगीलाल चौहान,सहायक विकास विस्तार अधिकारी श्री बाबूलाल पुरोहित तथा श्री सुरेन्द्रसिंह चौहान को शामिल किया गया है। विधानसभा रतलाम शहर में पुलिस थाना माणकचौक एवं दीनदयाल नगर क्षेत्रों के लिए सचिव कृषि उपज मंडी श्री सत्यनारायण गोयल, श्री मदनलाल बारसे तथा सहायका विकास विस्तार अधिकारी श्री सुशील आर्य को शामिल किया गया है।

विधानसभा सैलाना के पुलिस थाना क्षेत्र सैलाना, सरवन, बाजना, रावटी एवं शिवगढ़ क्षेत्र में गठित उड़नदस्ते में सहायक विस्तार अधिकारी जनपद सैलाना श्री प्रवीण शर्मा,सचिव कृषि उपज मंडी सैलाना श्री विजय मरमट, मंडी निरीक्षक कृषि उपज मंडी श्री सुरेश शर्मा, श्री विश्वास जॉन शामिल किए गए हैं। विधानसभा जावरा के पुलिस थाना क्षेत्र जावरा शहर, औद्योगिक क्षेत्र जावरा, पिपलौदा एवं कालूखेड़ा के लिए गठित उड़नदस्ता दल में सहायक विकास विस्तार अधिकारी जनपद जावरा श्री सुनील शर्मा, मंडी निरीक्षक कृषि उपज मंडी जावरा श्री दिनेशचंद्र शर्मा, सहायक विकास विस्तार अधिकारी जनपद जावरा श्री दिलीप मेहता, श्री सुधीर सराठे व श्री हेमंत होलकर को शामिल किया गया है। विधानसभा आलोट क्षेत्र के पुलिस थाना आलोट, ताल,बरखेड़ा व बड़ावदा थाना क्षेत्रों में गठित उ़ड़नदस्ता दल में मंडी निरीक्षक कृषि उपज मंडी आलोट श्री रमेशचंद्र मुजावदिया, ग्राम विकास अधिकारी कार्यालय एसडीएम कृषि किसान कल्याण जावरा श्री राजेश सोलंकी, श्री किशनलाल तरोले व सहायक विकास विस्तार अधिकारी जनपद जावरा श्री इन्दरसिंह मण्डलोई को शामिल किया गया है।

उडनदस्ता दल प्रतिदिन निर्धारित प्रपत्रों में रिपोर्ट पुलिस अधीक्षक को भेजेंगे व रिपोर्ट की प्रति संबंधित रिटर्निंग, सहायक रिटर्निंग आफिसर तथा जिला निर्वाचन अधिकारी एवं व्यय प्रेक्षक, सामान्य प्रेक्षक, पुलिस प्रेक्षक को देंगे। जिला पुलिस मुख्यालय के नोडल अधिकारी प्रतिदिन संकलित उक्त निर्धारित प्रपत्र में अगले दिन भारत निर्वाचन आयोग नई दिल्ली को भिजवाते हुए प्रतिलिपि मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी भोपाल एवं जिला निर्वाचन कार्यालय को भेजेंगे।

उक्त दल के द्वारा की गई कार्यवाही की वीडियोग्राफी होगी। इस दल की कार्यवाही कार्यपालिक मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में दल द्वारा वीडियोग्राफी के दौरान, दिनांक, स्थान व टीम के सदस्यों को रिकार्डिंग करते हुए मूल सीडी व डीवीडी रिटर्निग, सहायक रिटर्निंग आफिसर के कार्यालय में जमा की जावेगी तथा जो अगले दिन जिला निर्वाचन अधिकारी को भेजेंगे। उक्त दल आदर्श आचार संहिता तथा उसके उल्लंघन से संबंधित शिकायतों पर कार्य करेंगे और वीडियों निगरानी दलों की मदद से वीडियोग्राफी करना, सभी मुख्य रैलियां, सार्वजनिक बैठकों या निर्वाचन आयोग द्वारा निर्वाचन की घोषणा के पश्चात् राजनैतिक दलों द्वारा अन्य मुख्य व्यय के मामलों में कार्य करेंगे। जिस किसी व्यक्ति से निषिध मदें जब्त की गई या किसी समाजविरोधी तत्व जो अवैध गतिविधियों में लिप्त पाये गये हो के विरूद्ध शिकायत, एफआईआर दर्ज करेंगे और उसकी प्रति को जनसाधारण के अवलोकन के लिए संबंधित रिटर्निंग अधिकारी के नोटिस बोर्ड पर लगाया जाकर उसे जिला निर्वाचन अधिकारी, सामान्य प्रेक्षक, व्यय प्रेक्षक तथा पुलिस प्रेक्षक को भेजी जाएगी।

नगदी, उपहार मदों, शराब या मुफ्त भोजन के वितरण या निर्वाचकों को धमकाने व अभित्रस्त करने, अस्त्र-शस्त्र, गोला-बारूद,समाज विरोधी तत्वों की आवाजाही संबंधी शिकायत मिलने पर उड़नदस्ता तत्काल उस स्थान पर पहुंचेगा और रिश्त की मदों या अन्य अवैध मदों को जब्त करेगा, साक्ष्य को इकट्ठा करेगा तथा गवाहों और जिन व्यक्तियों से जब्त किया गया है, उसके बयान दर्ज करेगा। यदि उड़न दस्ते के लिए उस स्थान पर पहुंचना संभव न हो तो उस क्षेत्र के निकटतम पुलिस थाने या स्थैतिक निगरानी दल को सूचना दी जाएगी तो शिकायत पर आवश्यक कार्यवाही के लिए उस स्थल पर दल भेजा जाएगा।