Home रतलाम शनिदेव ने बदली चाल ,जानिए किस राशि पर क्या होगा प्रभाव

शनिदेव ने बदली चाल ,जानिए किस राशि पर क्या होगा प्रभाव

रतलाम, 7सितम्बर(खबरबाबा.काम)। 6 सितंबर 2018 को शाम 5 बजकर 22 मिनट में शनि ग्रह वक्री से मार्गी हुए हैं। वक्री अवस्था में शनि अधिकांश राशियों को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर रहे थे। इस प्रभाव के कारण, कामों में अडचनें और बाधायें बराबर इनकी तरफ से प्राप्त हो रही थी। लेकिन अब 6 सितंबर से धनु राशि में शनि की चाल बदलने व उनके वक्री से मार्गी हो जाने से अधिकांश राशियों के लिये बंद रास्ते खुलते नज़र आयेंगें। ज्योतिर्विदों के अनुसार जानें शनि की बदली चाल से आपकी किस्मत क्या करवट ले रही है।

मेष-परेशानियां धीरे-धीरे खत्म होंगी

आपके लिए शनि का मार्गी होना शुभ फलदायी होगा। बीते कुछ समय से जिन लोगों की आर्थिक परेशानी चल रही थी उनमें कमी आएगी और आय के नए स्रोत प्राप्त होंगे। नौकरी व्यवसाय में चल रही परेशानियां भी धीरे-धीरे खत्म होंगी और जो लोग आजीविका की तलाश में हैं उन्हें अपने प्रयास का शुभ परिणाम मिलेगा। माता-पिता और गुरुजनों का आशीर्वाद आपके लिए सुखद रहेगा। धार्मिक यात्रा कर सकते हैं।

वृषभ: आर्थिक स्थिति बेहतर होगी

शनि का मार्गी होना आपकी राशि के लिए कई मायनों में शुभ रहने वाला है। आर्थिक मामलों में आपकी स्थिति बेहतर होगी। कहीं से अटका धन या बड़ा लाभ मिल सकता है। आपके लिए बेहतर होगा जल्दबाजी में कोई भी फैसला ना लें।

मिथुन: शुभ समाचार प्राप्त होंगे

आपके लिए शनि की बदली का परिणाम मिलाजुला रहेगा। आर्थिक मामलों में आपको संभलकर चलना होगा क्योंकि अनावश्यक खर्च बढ़ेंगे। कार्यक्षेत्र में संभलकर चलें और लोगों से उलझने से बचें, नहीं तो परेशानी होगी। जो लोग नौकरी में प्रमोशन के लिए प्रयासरत हैं उन्हें खुशी मिल सकती है। कुछ शुभ समाचार मिलने की भी उम्मीद कर सकते हैं।

कर्क: व्यवसाय में लाभ और उन्नति होगी

शनि की बदली चाल में आपको अपनी सेहत का रखना होगा खास ख्याल। कानूनी और सरकारी मामलों में आपको किसी तरह का जोखिम लेने से बचना होगा। नौकरी में चली आ रही समस्या दूर होगी, राहत महसूस होगी। व्यवसाय में लाभ और उन्नति होगी।

सिंह: उतावलेपन से बचना होगा

शनि की सीधी चाल में आपके लिए सलाह है आप कोई टेढ़ी चाल चलने से बचें नहीं तो नुकसान हो सकता है। कार्यक्षेत्र में स्थिति सामान्य और सुखद रहेगी लेकिन उतावलेपन से बचना होगा। कुछ लोग नौकरी और व्यवसाय में परिवर्तन का विचार कर सकते हैं लेकिन अभी धैर्य बनाए रखना ही उचित होगा। संतान की शिक्षा और उनके करियर को लेकर कुछ चिंतित रह सकते हैं।

कन्या: आर्थिक परेशानियों में कमी आएगी

आपकी राशि से चौथे घर में शनि चल रहे हैं जिससे अभी आप ढैय्या के प्रभाव में हैं। लेकिन शनि के मार्गी होने से आपके लिए राहत की स्थिति बनी है। स्वास्थ्य में सुधार अनुभव करेंगे और मानसिक एवं आर्थिक परेशानियों में भी कमी आएगी।

तुला: शुभ समाचार प्राप्त होंगे

शनि की बदली चाल से आपका भी बदलेगा हाल। पारिवारिक जीवन में सुख-शांति की प्राप्ति होगी। भाई-बहनों के शुभ समाचार प्राप्त होंगे, इनसे लाभ भी मिल सकता है। करियर में अपनी मेहनत और लगन से प्रगति करेंगे। रचनात्मक क्षमता बढ़ेगी।

वृश्चिक: धीरे-धीरे लाभ मिलना शुरू होगा

आप अभी साढेसाती के तीसरे चरण के प्रभाव में हैं। शनि का मार्गी होना आपके लिए कुछ हद तक राहत देने वाला रहेगा। कार्यक्षेत्र में आपको काफी परिश्रम करना होगा। लोग आपकी मेहनत का सम्मान करेंगे। साढ़ेसाती के दौरान आपने जो संघर्ष किया है उसका भी अब आपको धीरे-धीरे लाभ मिलना शुरू होगा। आपके लिए सलाह है उतावलेपन से बचें और धैर्य से काम लें।

धनु : फैसले लेते समय जल्दबाजी से बचें

आपकी राशि में शनि का गोचर हो रहा है। शनि की चाल सीधी होने से बीते 6 महीने से चल रही परेशानियों और चिंताओं में कुछ कमी आएगी। स्वास्थ्य में सुधार होगा। कार्यक्षेत्र में काम का दबाव बना रहेगा और आपको उन्नति के लिए संघर्ष करना होगा। कुछ लोग नौकरी बदलने का प्रयास कर सकते हैं। सलाह है कि महत्वपूर्ण फैसले लेते समय जल्दबाजी से बचें।

मकरः खर्च की मात्रा बढ़ी रहेगी

आप साढ़ेसाती के पहले चरण के प्रभाव में हैं। शनि के मार्गी होने से आपको अपनी मेहनत का पूरा परिणाम प्राप्त होगा। खर्च की मात्रा बढ़ी रहेगी लेकिन शुभ कार्यों पर व्यय होने से राहत की स्थिति रहेगी। सलाह है कि खान-पान एवं आराम का ख्याल रखें।

कुंभ: आर्थिक पक्ष सुधरेगा

राशि स्वामी शनि की चाल बदलने से आपके लिए शुभ स्थिति बनी है। आर्थिक पक्ष सुधरेगा। कुछ अच्छे अवसर सामने आएंगे जिनसे लाभ मिलेगा। आय के साधन बढ़ेंगे। कार्यक्षेत्र में आगे बढ़ने का मौका मिलेगा। नौकरी परिवर्तन के प्रयास सफल होंगे।

मीन: जोखिम वाले काम में हाथ ना डालें

शनि की बदली चाल से आपको मिलाजुला फल प्राप्त होगा। कार्यक्षेत्र में कुछ बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। जोखिम वाले काम में हाथ ना डालें, नुकसान हो सकता है। अधिकारियों से वाद-विवाद से बचना होगा। महत्वपूर्ण फैसला लेने से पहले पिताजी या अनुभवी व्यक्तियों से सलाह लेना उचित रहेगा।