Home मध्यप्रदेश शुगर मिल में टेक्सटाइल पार्क विकसित करने के लिए 43 करोड़...

शुगर मिल में टेक्सटाइल पार्क विकसित करने के लिए 43 करोड़ स्वीकृत। जावरा विधायक डॉ पांडेय ने जिले के उद्योगों की बात उठाई।

रतलाम-जावरा/17 दिसम्बर 19/ जावरा शुगर मिल टैक्सटाइल पार्क को विकसित करने की प्रक्रिया  चल रही है इस क्षेत्र को विकसित करने के लिए लगभग 43 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी गई है आगामी दिनों में प्रारंभ किया जाएगा।
 जावरा विधायक डॉ राजेंद्र पांडेय द्वारा किए गए प्रश्न पर सूक्ष्म व लघु उद्योग मंत्री आरिफ अकील ने जानकारी देते हुए बताया कि औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन विभाग द्वारा 5 जुलाई 2019 के द्वारा टैक्सटाइल पार्क जावरा को विकसित करने हेतु 41.18 करोड रुपए की प्रशासकीय ,वित्तीय स्वीकृति प्रदान की गई है ।इस हेतु ड्राफ्ट डीपीआर तैयार भी हो चुकी है ।प्लान ले आउट  अनुमोदन के पश्चात  फाइनल प्रतिवेदन तैयार करने का कार्य चल रहा है ।शुगर मिल क्षेत्र में 500 पेड़ हैं ,जिन्हें काटने की अनुमति अनुविभागीय अधिकारी से चाही गई है। इसी तरह सूक्ष्म,लघु और मध्यम उद्यम विभाग द्वारा शुगर मिल की कुम्हारी औद्योगिक क्षेत्र जावरा स्थित भूमि का विकास कार्य किए जाने हेतु दो करोड़ 12 लाख रुपए की स्वीकृति भी प्रदान की गई है ,जिसका कार्य प्रगति पर चल रहा है रतलाम जिले के उद्योगों को दी गई ।जमीन व वर्तमान स्थिति के संबंध में विधायक डॉ पांडेय के प्रश्न पर मंत्री श्री अकील ने बताया कि रतलाम जिले में कुल 312 उद्योगों को जमीन का आवंटन किया गया है ।जिसमें से 30 उद्योग बंद है तथा 50 उद्योग अप्रारंभ  है। इसमें औद्योगिक क्षेत्र रतलाम में 145 उद्योगों को, औद्योगिक संस्थान रतलाम में 49,औद्योगिक भूमि सालाखेड़ी में 13, दिलीप नगर रतलाम में दो ,औद्योगिक क्षेत्र कुम्हारी जावरा में 25, औद्योगिक क्षेत्र आईटीसी जावरा में 15 तथा सैलाना में 7 उद्योगों को जमीन दी गई ,इसी तरह नव विकसित औद्योगिक क्षेत्र करमदी  में 55 उद्योगों को भी जमीन का आवंटन किया गया है ।औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन विभाग द्वारा ग्राम करमदी में नमकीन क्लस्टर का विकास किया गया। जिसमें अधोसंरचना संबंधी कार्य पूर्ण हो गए हैं तथा औद्योगिक क्षेत्र में उद्योगों की स्थापना हो रही है ।डॉ पांडेय के पूछे जाने पर मंत्री श्री अकील ने बताया  कि वर्तमान में गोल्ड व सिल्वर पार्क स्थापित करने का कोई प्रस्ताव नहीं है।
 विधायक डॉ पांडेय के अन्य प्रश्न पर पर्यटन मंत्री सुरेंद्र सिंह हनी बघेल ने बताया कि जावरा विधानसभा क्षेत्र में पर्यटन क्षेत्र को विकसित करने व सौंदर्यीकरण करने के उद्देश्य से ग्राम सुजापुर व नंदावता में स्थल निरीक्षण किए जाकर स्वीकृति हेतु प्रस्ताव तैयार किए गए हैं।इन स्थानों का स्थल निरीक्षण भी कर लिया गया है।विधायक डॉ पांडेय ने विधानसभा क्षेत्र के  पिपलोदा तहसील  अंतर्गत  मामटखेड़ा मगरा , सुजापुर मगरा  माता जी  के अलावा  नवाबगंज माताजी  स्थल  तथा जावरा  विकासखंड अंतर्गत मिंडा जी कांकरवा सहित विभिन्न पर्यटन स्थलों को विकसित करने की भी मांग की जिस पर  मंत्री श्री बघेल ने पर्यटन स्थलों का परीक्षण  करने की बात कही।
जावरा विधानसभा क्षेत्र में वक़्फ़ कमेटियों के संबंध में डॉ पांडेय के प्रश्न पर अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री आरिफ अकील ने बताया कि जावरा विधानसभा क्षेत्र में 7 वक़्फ़ समितियां है।जिनके संचालन के लिए कमेटी बनाई गई है।