Home रतलाम सांसद विधायक निधि एवं जनभागीदारी योजना के स्वीकृत और लंबित कार्यों की...

सांसद विधायक निधि एवं जनभागीदारी योजना के स्वीकृत और लंबित कार्यों की समीक्षा कलेक्टर ने की

रतलाम 27 दिसम्बर 2019/ जिले में सांसद, विधायक निधि एवं जनभागीदारी योजना अंतर्गत स्वीकृत तथा लंबित निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान द्वारा की गई। कलेक्टर ने सभी एजेंसियों को निर्देश दिए कि प्रशासकीय स्वीकृति प्राप्त होते ही शर्तों का पालन सुनिश्चित करते हुए अधिकतम सात दिवस में कार्य प्रारंभ किया जाए या निविदा की कार्यवाही प्रारंभ की जाए कार्य को अधिकतम 6 माह में पूर्ण करते हुए कार्यकर्ता प्रमाण पत्र प्राप्त राशि का उपयोगिता प्रमाण पत्र एमबी की छाया प्रति निर्मित संपत्ति हस्तांतरण एवं परिसंपत्ति में इंद्राज कर उसकी छाया प्रति कार्य के तीन फोटोग्राफ तथा शेष बची हुई राशि एवं ब्याज की राशि वापस करना सुनिश्चित करें।

बैठक में बताया गया कि वर्ष 2014-15 से 2017-18 के स्वीकृत लंबित कार्यो में जनपद पंचायत रतलाम, जावरा, आलोट, पिपलौदा, सैलाना तथा बाजना के 164 पूर्णता प्रमाण पत्र शेष है, 46 कार्य प्रगतिरत है। आलोट में 1, पिपलौदा में 7 तथा सैलाना में 1 कार्य अप्रारम्भ है। समस्त पंचायतों में कुल लंबित कार्यों की संख्या 217 है। उपरोक्त शेष 164 कार्य पूर्णता प्रमाण पत्रों में से कम से कम 64 कार्यों के सी.सी. संबंधित उपयंत्रियो को विशेष रुप से निर्देशित कर 31 दिसम्बर तक जिला योजना अधिकारी को प्रस्तुत करने तथा शेष 100 कार्यों के सी.सी.  15 जनवरी  2020  तक अनिवार्य रुप से प्रस्तुत करने निर्देश कलेक्टर द्वारा दिए गए। शेष 46 प्रगतिरत कार्यों को 31 जनवरी 2020 तक पूर्ण करने हेतु कहा गया। अप्रारंभिक 7 कार्यों के संबंध में सरपंच व सचिव के लिए निर्देशित किया गया कि 31 दिसम्बर के पूर्व कार्य प्रारम्भ कराएं अथवा कार्य निरस्ती या क्रियान्वयन एजेंसी परिवर्तन के लिए प्रस्ताव प्रेषित करें।

वर्ष 2018-19 के स्वीकृत लंबित कार्यों में जनपद पिपलौदा के 11 पूर्णता प्रमाण शेष है, प्रगतिरत कार्य 238 है। पिपलौदा में 4 कार्य अप्रारम्भ है। समस्त पंचायतों में कुल लंबित कार्यों की संख्या 253 है। जनपद पंचायत पिपलौदा के पूर्ण  11 कार्यों के बचे पूर्णता प्रमाण पत्र 31 दिसम्बर तक प्रस्तुत करने तथा 4 अप्रारम्भ कार्यों को अविलम्ब कराने हेतु निर्देशित किया गया अन्यथा कार्य निरस्ती या क्रियान्वयन एजेंसी परिवर्तन के लिए 31 दिसम्बर तक प्रस्तावित करने हेतु कहा गया है।

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत एवं कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा को निर्देशित किया गया है कि कार्य पूर्ण होने के अधिकतम एक सप्ताह में कार्य पूर्णता प्रमाण पत्र जिला योजना अधिकारी को प्रस्तुत किए जाएं। उपरोक्त प्रगतिरत 238 कार्यों को 31 मार्च 2020 तक अनिवार्य रुप से पूर्ण कर लिया जाए। वर्ष 2014-15 से 2018-19 के दो कार्य अभी तक प्रगतिरत हैं, उन्हें तत्काल पूर्ण करने तथा 31 जनवरी 2020 तक कार्य पूर्णता प्रमाण पत्र जिला योजना अधिकारी को प्रस्तुत करने के निर्देश कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा को दिए गए।

कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग को निर्देशित किया कि वर्ष 2014-15 से 2018-19 के दो कार्य अभी तक प्रगतिरत हैं, उन्हें तत्काल पूर्ण कराना सुनिश्चित करें तथा  31 जनवरी  2020 तक कार्य पूर्णता प्रमाण पत्र जिला योजना अधिकारी को प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए। 9 कार्यों के पूर्ण होने के पूर्णता प्रमाण पत्र 31 दिसम्बर तक जिला योजना अधिकारी को प्रस्तुत किए जाएं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया गया कि वर्ष 2014-15 से 2018-19 के 5 कार्य अभी तक प्रारम्भ नहीं किए गए हैं जिन्हें अविलम्ब प्रारम्भ कर 28 फरवरी 2020 तक पूर्ण करने तथा वर्ष 2014-15 से 2018-19 के 4 पूर्ण कार्यों के पूर्णता प्रमाण पत्र 31 दिसम्बर तक अनिवार्य रुप से योजना अधिकारी को प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए।

वर्ष 2014-15 से 2018-19 के हाईस्कूल तथा हायर सेकेण्डरी स्कूल के 9 कार्य अभी तक प्रगतिरत है जिन्हें 15 जनवरी 2020 तक पूर्ण करने तथा 13 पूर्ण कार्यों के कार्य पूर्णता प्रमाण पत्र 31 दिसम्बर 2019 तक जिला योजना अधिकारी को प्रस्तुत करने हेतु कहा गया। वहीं वर्ष 2014-15 से 2018-19 के प्राथमिक तथा माध्यमिक स्कूल के 20 कार्य प्रगतिरत है जिन्हें 15 जनवरी 2020 तक पूर्ण करने तथा 9 पूर्ण कार्यों के पूर्णता प्रमाण पत्र 31 दिसम्बर 2019 तक अनिवार्य रुप से योजना अधिकारी को प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए।

नगर निगम रतलाम के वर्ष 2014-15 से 2017-18 से 2018-19 के 6 कार्य एवं वर्ष 2018-19 के 14 कार्य अभी तक अप्रारम्भ रहने पर कडी आपत्ति ली गई तथा उक्त कार्यों को 31 दिसम्बर तक प्रारम्भ करने तथा 28 फरवरी तक पूर्ण करने के निर्देश दिए। वर्ष 2014-15 से 2018-19 से 5 कार्य अभी तक प्रगतिरत होने से इन्हें 28 दिसम्बर तक पूर्ण करने हेतु कहा गया तथा 14 कार्यो के कार्य पूर्णता प्रमाण पत्र 31 दिसम्बर तक जिला योजना अधिकारी को प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए।

वर्ष 2018-19 में नगर पंचायत आलोट का 1, नगर पालिका जावरा के 2, नगर पालिका धामनोद का 1 कार्य अप्रारम्भ होने पर उक्त कार्यों को 31 दिसम्बर तक प्रारम्भ कर 28 फरवरी तक पूर्ण करने के लिए निर्देशित किया गया। वर्ष 2014-15 से 2018-19 के नगर पंचायत आलोट के 7, नगर पंचायत बडावदा के 2, नगर पंचायत ताल का 1, नगर पंचायत नामली के 7 कार्य प्रगतिरत होने से 31 जनवरी 2020 तक पूर्ण करने के लिए निर्देशित किया गया। नगर पंचायत आलोट का 1, नगर पंचायत बडावदा के 2, नगर पालिका जावा के 4 कार्यों के शेष पूर्णता प्रमाण पत्र 31 दिसम्बर तक जिला योजना अधिकारी को प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए।

फोटो-फाइल