Home रतलाम सेड़े के विवाद में हुई थी खेत पर सो रहे व्यक्ति की...

सेड़े के विवाद में हुई थी खेत पर सो रहे व्यक्ति की हत्या, अंधेकत्ल का पुलिस ने किया पर्दाफाश, जावरा के कालुखेड़ा थाना क्षैत्र का मामला, तीन आरोपी गिरफ्तार।

रतलाम, 25 मई(खबरबाबा.काम)। जावरा अनुविभाग के कालुखेड़ा थाना क्षैत्र अंतर्गत ग्राम भुढाखेड़ी में एक माह पूर्व खेत पर सो रहे व्यक्ति पर अज्ञात व्यक्तियों ने लाठीयों से हमला कर उसे गंभीर रुप से घायल कर दिया था, इलाज के दौरान घायल की मौत हो गई थी, जिसके बाद पुलिस ने हत्या का प्रकरण दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरु की थी। पुलिस ने इस अंधेकत्ल का  पर्दाफाश करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों से पुछताछ में खुलासा हुआ कि सेड़े के विवाद में पडोस के खेत मालिक ने दो अन्य लोगों के साथ मिलकर इस हत्याकांड को अंजाम दिया।
जावरा सीएसपी आशुतोष बागरी ने अंधेकत्ल का पर्दाफाश करते हुए मामले की जानकारी दी। सीएसपी श्री बागरी ने बताया कि ग्राम भुढ़ाखेड़ी में 22-23 अप्रैल की रात को नवलसिंह पिता रतनसिंह 38 वर्ष निवासी  भुट्टाखेड़ी थाना कालूखेड़ा फसल की रखवाली के लिए खेत पर सोने गया था। रात्री करीबन 01 बजे अज्ञात आरोपियों ने मृतक नवलसिंह के ऊपर गोदड़ी डालकर लकड़ीयो व पत्थर से मारपीट कर उसे गंभीर रुप से घायल कर दिया था। परिजन नवलसिह का ईलाज कराने सी.एच.जावरा ले गए थे, जिसके बाद जिला चिकित्सालय रतलाम से उसे इंदौर रैफर कर दिया था, जहां इलाज के दौरान 6 मई को उसकी मौत हो गई थी। पुलिस ने इस मामले में प्रकरण दर्ज कर जांच शुरु की थी।
सेड़े के विवाद में हुई हत्या
सीएसपी आशुतोष बागरी ने बताया कि एसपी अमित सिंह के मागदर्शन और एएसपी डां. राजेश सहाय के निर्देशन में टीम गठित कर मामले की जांच शुरु की गईष जांच के दौरान मृतक के परिवार-जनो से पूछताछ के दौरान बताया कि गांव के जालमसिंह और मृतक नवलसिह का खेत पास-पास होने से उनके मध्य सेडे का विवाद चल रहा था । इसके बाद पुलिस ने मुखबीर की सूचना पर संदेही आरोपी जालमसिंह  को भैसाना रेल्वे ब्रिज के पास घेराबंदी कर पकड़ा तथा घटना के संबध में पुछताछ की गई। पुलिस पुछताछ में जालमसिह ने सेडे के विवाद की बात को लेकर अपने दो साथियो भानजे राहुलसिंह  और उसके साथी राहुलसिंह  निवासी पाटन के साथ मृतक नवलसिंह की मारपीट कर हत्या करना कबूल किया। पुलिस ने हत्या में शामिल दोनों अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया है और उनसे हत्या में प्रयुक्त बांस की लकड़ी, पत्थर एवं बाइक भी बरामद कर ली है।
इनकी रही भूमिका
इस अंधे कत्ल का पर्दापाश करने में कालुखेड़ा थाना प्रभारी  आर.एस.भाबोर, जावरा शहर थाना प्रभारी श्यामचंद्र शर्मा , एसआई एससौलंकी, एएसआई बी.एस.राठोर, एएसआई एसके शर्मा, प्रधान आरक्षक तेजुलाल परिहार, आरक्षक महेन्द्रसिंह,  निकोलस एवं सीएसपी जावरा द्वारा गठित एसआईटी टीम के दिनेशसिंह भदोरिया, हर्षवर्धनसिंह जगावत, ओमप्रकाश चौधरी, लालसिंह, विष्णु चन्द्रावत की सराहनीय भूमिका रही है। पुरी टीम को पुलिस अधीक्षक अमित सिंह ने  उचित ईनाम देने की घोषणा की है।