Home रतलाम सैलाना बस स्टैण्ड स्थित सब्जी निलाम मंडी में हंगामा, किसानों ने लगाया...

सैलाना बस स्टैण्ड स्थित सब्जी निलाम मंडी में हंगामा, किसानों ने लगाया कम माल तौलने का आरोप, एसडीएम ने लाईसेंस निरस्त करने की कार्रवाई की।

रतलाम, 5 अप्रैल(खबरबाबा.काम)। थोक सब्जी मंडी के गेट पर गुरुवार दोपहर उग्र किसान हंगामा करते हुए तौलकाटा हाथ में लिए सड़क पर आ गए। किसानों की शिकायत थी कि मंडी में एक व्यापारी के यहां तुलावटी द्वारा माल कम तौला जा रहा है। किसानों ने विरोध जताते हुए तौलकाटा रखकर चक्काजाम कर दिया। किसानों की भीड़ के कारण दोनों ओर से आ रही बस और अन्य वाहन रुक गए और कुछ देर सड़क पर ट्रैफिक जाम हो गया। सूचना पर पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और किसानों कर ट्रैफिक की आवाजाही प्रारंभ की। इसके बाद एसडीएम अनिल भाना ने मंडी पहुंचकर व्यापारी का लाईसेंस निरस्त कर दिया।

गुरुवार दोपहर करीब 1 बजे किसान गुस्से में मंडी के सामने इकट्ठे हो गए। इस बीच कुछ किसान हाथ में एक तौलकाटा भी बाहर ले कर आए और सड़क पर भीड़ लगा दी। किसानों की शिकायत थी कि मंडी में एक व्यापारी के यहां तुलावटी द्वारा माल कम तौला जा रहा है। किसानों के हंगामे के कारण पॉवर हाउस रोड पर करीब 20 मिनट तक बस सहित कई वाहन रुके रहे। इस बीच पुलिस को सूचना मिलने पर सीएसपी विवेकसिंह चौहान, ट्रैफिक थाना टीआई दीपेंद्र कुशवाह बल सहित पहुंचे और किसानों को शांत कर मंडी के अंदर भेजा। इसके बाद वाहनों की आवाजाही फिर शुरु हो सकी। इसके तुरंत बाद एसडीएम अनिल भाना मौके पर पहुंचे और किसानों की समस्या सुनी। यहां धराड़ के किसान घनश्याम पाटीदार, हतनारा के सुमित पाटीदार, कमल, शकील आदि ने बताया कि व्यापारी पंकज गार्लिक के फर्म पर तुलावटी  द्वारा उनकी फसल का सही तौल नहीं किया जा रहा है। धराड़ के किसान मुस्तफा ने बताया कि करीब 42 बोरी के बाद लहसुन तौलने के बाद उन्हें शंका हुई तो उन्होंने आपत्ति जताकर अन्य तौल पर जांच करवाई। एसडीएम ने जांच में पाया कि तौलकाटा सही होने के बावजूद व्यापारी और तुलावटी द्वारा पर्ची बनाने में हेरफेर की जा रही थी। उन्होंने बताया कि किसी किसान से 200 ग्राम से 500 ग्राम तक हेरफेर की जा रही थी। दिनभर में उन्हें बड़ा मुनाफा हो रहा था।

इनका कहना है

किसानों की शिकायत पर तौलकाटा परखा है। शिकायत सही पाए जाने पर व्यापारी पंकज गार्लिक का लाइसेंस निरस्त कर दिया गया है।

-अनिल भाना, एसडीएम