Home रतलाम स्वच्छता सर्वेक्षण: शहर को अच्छी रैकिंग दिलाने हो रहे गंभीर प्रयास,18...

स्वच्छता सर्वेक्षण: शहर को अच्छी रैकिंग दिलाने हो रहे गंभीर प्रयास,18 बिदुंओं पर सर्वे टीम आकेंगी सफाई व्यवस्था, आमजनता का फीडबैक निभाएगा अहम भूमिका।

रतलाम, 24 फरवरी(खबरबाबा.काम)। शहर की स्वच्छता  को जांचने स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 के तहत कैन्द्र की सर्वे टीम 26 फरवरी को रतलाम पहुंचेगी। टीम यहां घूम कर 18 बिंदुओं पर सफाई को आंकेगी और फिर 4000 अंकों में से नंबर देगी।इधर स्वच्छा सर्वेक्षण में रतलाम को अच्छी से अच्छी रैकिंग दिलाने के लिए  निगम आयुक्त एस.के.सिंह के  साथ अधिनस्थ अधिकारी, इंजीनियर और निगम का अमला दिनराज जुटा हुआ है। निगम अमले की तैयारियों को देखकर लग रहा है कि  कि इस बार शहर को  स्वच्छता सर्वेक्षण में अच्छी रैकिंग मिलेगी। सर्वेक्षण में अच्छी रैकिंग के लिए आम जनता का फिडबैक भी अहम भूमिका निभाएगा, इसके लिए जनप्रतिनिधियों के प्रयास भी महत्वपूर्ण है।

स्वच्छता सर्वेक्षण टीम तीन से चार दिन शहर में रुकेगी और  गलियों, बाजारों, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशनों, शहर के शौचालयों, ड्रेनेज लाइन, ट्रेंचिंग ग्रांउड सहित शहरभर में घूमकर सफाई देखेगी। इस टीम को 1200 अंकों में से नंबर देने हैं। ऐसे में ये अंक अच्छी रैकींग के  लिए काफी मायने रखते हैं। इधर शहर को सर्वेक्षण में अच्छी रैकींग दिलाने के लिए निगम आयुक्त एस.के.सिंह भी टीमवर्क से काम कर रहे है। आयुक्त प्रतिदिन अलग-अलग क्षैत्रों में भ्रमण कर व्यवस्थाओं का जायजा लेकर आवश्यक निर्देश दे रहे है।

 ये हैं सर्वे के मुख्य बिंदु-

-कॉलोनियों, बस्तियों, अव्यवस्थित और व्यवस्थित बसा क्षेत्र साफ है या नहीं?

– महिला और पुलिस पब्लिक और कम्युनिटी टॉयलेट। क्या इन्हें बच्चे भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

– टॉयलेट की सफाई के साथ रोशनदान, जलप्रदाय, लाइट के इंतजाम।- टॉयलेट एरिया में ड्रेनेज सिस्टम।

– टॉयलेट में स्वच्छ भारत मिशन के संदेश वाले होर्डिंग, बैनर, वॉल पेंटिंग।

– मार्केट में सफाई व्यवस्था।

– सब्जी, फल, मार्केट में साइट कंपोस्टिंग, वेस्ट ट्रांसफर स्टेशन और प्राइमरी वेस्ट कलेक्शन सेंटर की जानकारी।

– सफाई को लेकर लगे साइन बोर्ड।

– रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर सफाई व्यवस्था।- मुख्य स्टेशन पर रेलवे ट्रैक या प्लेटफॉर्म के आसपास 500 मीटर क्षेत्र में कहीं खुले में शौच तो नहीं की जा रही?

– शहर में लगे डस्टबीन के बारे में जानकारी और उसके इस्तेमाल को लेकर जागरूकता।

आमजन से ये सवाल पूछ सकती है टीम

– क्या आपको यह जानकारी है कि आपका शहर स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में हिस्सा ले रहा है?

– आपका क्षेत्र क्या पिछले साल की अपेक्षा ज्यादा साफ है?- क्या इस साल आपने व्यावसायिक क्षेत्रों में लगे लिटरबिन का उपयोग शुरू किया है?

– क्या आप इस साल पृथकीकृत (गीला-सूखा) घर-घर कचरा संग्रहण से संतुष्ट हैं?

– क्या पिछले साल की अपेक्षा मूत्रालय-शौचालय की व्यवस्था बड़ी है जिसके कारण लोगों ने खुले में पेशाब और शौच करना बंद किया है?

– क्या सार्वजनिक और सामुदायिक शौचालय पहले की अपेक्षा ज्यादा साफ हैं और उन तक पहुंचना आसान है?