Home रतलाम स्वर्गीय आरिफ की स्मृति में रतलाम रत्न सम्मान की घोषणा, अलग-अलग क्षेत्रों...

स्वर्गीय आरिफ की स्मृति में रतलाम रत्न सम्मान की घोषणा, अलग-अलग क्षेत्रों के सात लोगों का होगा सम्मान

रतलाम,13 अप्रैल।रतलाम नगर में स्वर्गीय श्री अकबर अली आरिफ का नाम अपरिचित नहीं है। 1950 से लेकर 1990 तक रतलाम के राजनीतिक पटल पर उनके व्यक्तित्व का गहरा प्रभाव रहा। तदनुसार रतलाम के सर्वागीण विकास में भी उनका अभूतपूर्व योगदान रहा।

ये युग राजनीति में नैतिकता सर्वोपरि का युग था। लेकिन रतलाम के विकास की जहां बात होती थी तो सब एक मंच पर होते थे। यहीं वजह थी कि पेशे से अभिभाषक स्वर्गीय श्री अकबर अली आरिफ को कांग्रेस और जनसंघ मिलकर सर्वानुमति से नगर पालिका का अध्यक्ष सर्वानुमति से नगर पालिका का अध्यक्ष चुनते थे। श्री आरिफ 1955 से 1970 तक रतलाम के अध्यक्ष रहे। 1972 से 1977 तक रतलाम के विधायक रहैं। श्री आरिफ नगर सुधार न्यास के लम्बे समय तक अध्यक्ष रहैं।

रतलाम के औद्योगिक क्षेत्र के विकास में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही। 1972 में विधायक के बाद उन्हीं के प्रयास से रतलाम को औद्योगिक दृष्टि से पिछङा क्षेत्र घोषित किया गया। रतलाम की पहली नल जल योजना में मलिनी नदी से पानी उनके ही अध्यक्ष काल में लाया गया और सेलाना रोङ के बङबङ में जलसंग्रहन के लिए गंगा सागर का विकास किया गया। रतलाम रेल्वे मंडल का कार्यालय रतलाम के आर्थिक आधार को मजबूत करने का माध्यम है। इस कार्यालय को रतलाम में लाने और रतलाम से स्थानांतरित न हो इस हेतु प्रयास में वे सदैव अग्रणीय रहै। रतलाम नगरपालिका विधि महाविद्यालय के वे संस्थापक, अध्यक्ष व प्राचार्य रहै ।

उनका अवसान 14 अप्रैल 2015 को हुआ, तब से उनके परिवार की इच्छा थी कि उनकी सेवा भावना की रोशनी सदैव आलोकित रहै, उनके स्मरण के साथ साथ उन सभी महान हस्तियों का स्मरण व सम्मान होता रहै जो रतलाम के विकास में समर्पित हैं । इस उद्देश्य से रतलाम के विभिन्न क्षेत्र में कार्यरत सक्रिय व समर्पित व्यक्तित्व का सम्मान करनें के उद्देश्य से स्वर्गीय श्री अकबर अली आरिफ के परिवार ने रतलाम रत्न सम्मान की स्थापना की है, जिसकी घोषणा प्रतिवर्ष 14 अप्रैल को उनकी पुण्यतिथि पर की जायेगी।

इन 7 क्षेत्रों मे मरणोपरांत, साहित्य, सामाजिक सेवा, शिक्षा, पत्रकारीता और खेल। आरिफ परिवार जिसमें स्वर्गीय श्री आरिफ और उनके भाई बहनों के परिवार शामिल है भारत और विदेशों में अच्छे स्थानों पर स्थापित है और अनेको उपलब्धियां हासिल की है। आरिफ परिवार सदैव रतलाम से जुङा रहै और रतलाम के विकास में रूचि लेता रहै इस उद्देश्य से सातवाँ सम्मान आरिफ परिवार के एक वरिष्ठतम व्यक्तित्व को दिया जाएगा। सम्मानित किये जाने वाले पात्र व्यक्ति की आयु 50 वर्ष से अधिक होना चाहिए।

इस वर्ष जिन हस्तियों को सम्मानित करने का निर्णय लिया गया है उनके नाम निम्नानुसार हैं। मरणोपरांत- स्वर्गीय भंवरलाल भाटी, साहित्य श्री अजहर हाश्मी, समाज सेवा श्री गोविन्द काकानी,  शिक्षा डाक्टर रेखा शास्त्री, पत्रकारीता आरिफ कुरैशी और खेल डाक्टर अश्विनी शर्मा। इसी प्रकार रतलाम के वरिष्ठ कर सलाहकार व आरिफ परिवार की बुजुर्ग हस्ती व शायर श्री नजमुद्दीन आरिफ को आरिफ परिवार की श्रेणी में चयनित किया गया है।