Home रतलाम 3 माह में सभी सोनोग्राफी सेंटर्स का निरीक्षण कर प्रतिवेदन प्रस्तुत किया...

3 माह में सभी सोनोग्राफी सेंटर्स का निरीक्षण कर प्रतिवेदन प्रस्तुत किया जाए ,पीसीपीएनडीटी एक्ट के तहत बैठक में अपर कलेक्टर ने दिए निर्देश

रतलाम 1 अगस्त 2019। पीसी एंड पीएनडीटी एक्ट के अंतर्गत जिला सलाहकार समिति की बैठक विगत दिनों आयोजित की गई । बैठक की अध्यक्षता करते हुए अपर कलेक्टर श्रीमती जमुना भिड़े ने निर्देश दिया कि जिले के सभी सोनोग्राफी सेंटर्स का 3 माह में निरीक्षण पूर्ण करके रिपोर्ट प्रस्तुत की जाए। निरीक्षण में जो भी खामियां पाई जाए, उनको स्पष्ट रूप से दर्शाया जाए।

बैठक में डिप्टी कलेक्टर सुश्री सिराली जेल नोडल अधिकारी डॉ. बी.एल. तापड़िया, स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर ममता शर्मा, शिशु रोग विशेषज्ञ डॉक्टर आर.सी. डामोर, जिला अभियोजन अधिकारी श्रीमती जस्सू वास्कले, अशासकीय सदस्यगण श्री महेंद्र गा दिया, श्री सुशील मूणत, श्रीमती उषा जैन उपस्थित थे।

बैठक में पूर्व में किये गए निरीक्षण प्रतिवेदन की समीक्षा अपर कलेक्टर द्वारा की गई। पूर्व में पाई गई कमियों की जानकारी लेते हुए सुधार के लिए निर्देशित किया गया। निरीक्षण दल के मानदेय संबंधी चर्चा की गई । इस संबंध में शासन का सर्कुलर आगामी बैठक में प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए। जिला चिकित्सालय के एमसीएच यूनिट में ऑनलाइन सोनोग्राफी करने के लिए सोनोग्राफी कक्ष में कंप्यूटर प्रिंटर एवं आपरेटर की व्यवस्था रोगी कल्याण समिति अथवा अन्य मद से करने के निर्देश दिए गए। सोनोग्राफी कक्ष के लिए महिला गार्ड की व्यवस्था भी रोगी कल्याण समिति से की जाएगी। मेडिकल कॉलेज में पदस्थ महिला चिकित्सक को जिला चिकित्सालय की एमसीएच यूनिट में सोनोग्राफी करने के लिए मेडिकल कॉलेज डीन को पत्र लिखने के निर्देश भी अपर कलेक्टर द्वारा बैठक में दिए गए।