Home देश UPSC Result: रेवेन्यू अफसर जो चौथी कोशिश और लास्ट अटेंप्ट में बन...

UPSC Result: रेवेन्यू अफसर जो चौथी कोशिश और लास्ट अटेंप्ट में बन गया IAS ऑल इंडिया टॉपर

नई दिल्ली,4 अगस्त2020/UPSC CSE 2019 Result: आईआरएस अधिकारी प्रदीप सिंह उन 829 उम्मीदवारों की सूची में सबसे ऊपर हैं, जिन्होंने प्रतिष्ठित सिविल सेवाओं के लिए अर्हता प्राप्त की है. उन्होंने ऑल इंडिया रैंक वन हासिल की है. यूपीएससी परीक्षा में टॉप करने वाले प्रदीप सिंह का IAS बनने का सपना अब पूरा हो चुका है. अब जानिए वो आगे क्या करना चाहते हैं. उन्होंने तैयारी कर रहे अभ्यर्थि‍यों को एक संदेश भी दिया है.

संघ लोक सेवा आयोग ने मंगलवार को आईएएस, आईपीएस और आईएफएस के सेलेक्शन के लिए ली जाने वाली UPSC CSE परीक्षा के रिजल्ट की घोषणा की. इसमें प्रदीप सिंह ने पहली रैंक पाई है. प्रदीप ने निजी चैनल से बातचीत में कहा किमुझे जरा भी आभास नहीं था कि पहली रैंक आ जाएगी, ये अनएक्सेप्टेड सा है. फैमिली और फ्रेंड्स काफी खुश हैं.

प्रदीप ने बताया कि इससे पहले वो चार अटेंप्ट दे चुके हैं. पहले उन्होंने चयनित होकर इनकम टैक्स इंस्पेक्टर के तौर पर काम किया. फिर लास्ट इयर यूपीएससी क्लीयर करके आईआरएस अफसर बने. लेकिन उन्होंने तैयारी नहीं छोड़ी और बिना कोचिंग सिर्फ सेल्फ स्टडी करके पहली रैंक हासिल की.

जॉब के साथ कोचिंग करना थोड़ा मुश्क‍िल था इसलिए उन्होंने नौकरी करते हुए बचे हुए वक्त में परीक्षा की तैयारी की. प्रदीप ने कहा कि उनका एक सपना पूरा हो चुका है. उन्होंने कहा कि वो मानते हैं कि ये रास्ता काफी चुनौत‍ियां भरा है, लेकिन अब आगे कोश‍िश रहेगी कि वो गरीब तबके के लिए कुछ खास दे पाएं.

तैयारी कर रहे युवाओं को दिया ये मैसेज

देशभर में लाखों अभ्यर्थी यूपीएससी सीएसई परीक्षा के लिए तैयारी कर रहे हैं. इन युवाओं को प्रदीप सिंह ने मैसेज देते हुए कहा कि जो भी कैंड‍िडेट तैयारी कर रहे हैं वो अपने ऊपर कांफिडेंस रखें. कभी अगर जब आपको लगे कि आप इसके लिए नहीं बने हैं तो वो रीजन याद कीजिए, जिसके लिए आपने तैयारी करने का फैसला किया था

पिता ने किया सबसे ज्यादा सपोर्ट

प्रदीप सिंह ने कहा कि मेरी लाइफ में मेरे पिता जी ने मुझे बहुत मेंटल सपोर्ट किया है. मैंने जब कहा कि अब लगता है कि जॉब के साथ तैयारी नहीं कर पाऊंग तो उन्होंने समझाया कि अगर जज्बा है तो कर लोगे. उन्हीं की प्रेरणा से मैंने दोबारा तैयारी की. इसके अलावा मैं अपनी फैमिली और फ्रेंड्स को क्रेडिट देना चाहता हूं जो मेरी इस जर्नी में मेरे साथ रहे.

वहीं इस परीक्षा में दूसरे स्थान पर जतिन किशोर और तीसरे स्थान पर प्रतिभा वर्मा रहीं. बता दें कि प्रदीप सिंह की उम्र 29 वर्ष है, ये उनका लास्ट अटेंप्ट था. प्रदीप सिंह भारतीय राजस्व सेवा (सीमा शुल्क और केंद्रीय उत्पाद शुल्क) अधिकारी, फरीदाबाद में National Academy of Customs, Indirect Taxes and Narcotics (NACIN) में प्रोबेशन पर हैं.

(साभार-आज तक)