Home रतलाम नवागत संभागायुक्त ने रतलाम में ली अधिकारियों की बैठक, अधिकारियों...

नवागत संभागायुक्त ने रतलाम में ली अधिकारियों की बैठक, अधिकारियों को अपने विभाग से संबंधित जानकारियों से अपडेट रहने के लिए किया ताकिद

रतलाम 16 जनवरी(खबरबाबा.काम)। “जय किसान फसल ऋण माफी योजना” का जिले में प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करे। इसके लिए जिला स्तर पर एक कंट्रोल रूम स्थापित किया जाए।  जो कम से 18 घंटे काम करे। इस योजना के लाभान्वित होने वाले किसानों की सूचियां जिले की सभी ग्राम पंचायतों में चस्पा हो, यह सुनिश्चित किया जाए, अधिकारी इस योजना की सतत मानिटरिंग करे।

यह निर्देश उज्जैन संभागायुक्त श्री अजीत कुमार ने बुधवार को रतलाम कलेक्ट्रेट में आयोजित समीक्षा बैठक में दिए। इस अवसर पर कलेक्टर श्रीमती रूचिका चौहान, सीईओ जिला पंचायत श्री सोमेश मिश्रा, अपर कलेक्टर श्री जितेन्द्र सिंह चौहान, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रवीण फुलपगारे, संयुक्त कलेक्टर सुश्री निशा डामोर तथा सभी जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

संभागायुक्त ने जिला मुख्यालय पर महाविद्यालयों की जानकारी लेते हुए निर्देश दिए कि महाविद्यालयों में जितने भी आवश्यक एवं विस्तारीकरण के कार्य किए जाने हैं। उनके बड़े प्रोजेक्ट तैयार किए जाए। लगभग 15 से 20 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट बनाए जाए। महावि़द्यालयीन कार्यांं के लिए शासन स्तर पर लगभग 3 हजार करोड़ रुपये की योजना है। इससे जिले को भी राशि दिलवायी जाएगी। संभागायुक्त ने सभी निर्माण विभागों से उनके बड़े प्रोजेक्ट की जानकारी लेते हुए निर्देश दिए कि आगामी बैठक में विभाग अपने कार्यो के पावर प्वाईंट प्रेजेंटेशन, छायाचित्रों तथा नक्शों के साथ प्रस्तुत करेंगे। इनकी विस्तृत समीक्षा होगी। उन्होंने सभी अधिकारियों को अपने विभाग संबंधी जानकारियां से अपडेट रहने की ताकीद की। निर्देश दिए कि अधिकारियों को अपनी विभाग संबंधी प्रत्येक जानकारी होना ही चाहिए। समीक्षा में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा बताया गया कि जिले में उनकी 310 योजनाओं में से 306 योजनाएं चालू हैं। जल निगम का 24 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट टेण्डर प्रक्रिया में है।

जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री द्वारा संभागायुक्त को जानकारी दी गई कि उनका 69 करोड़ का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट प्रचलन में है। संभागायुक्त ने निर्देश दिए कि आगामी भ्रमण के दौरान जल संसाधन प्रोजेक्ट की फिल्ड विजिट उनके द्वारा की जाएगी। साथ ही इस विभाग के टॉप 10 प्रोजेक्ट का पावर प्वाईंट प्रेजेंटेशन भी देखेंगे। ’’जय किसान फसल ऋण माफी योजना‘‘ की समीक्षा में उपसंचालक कृषि को सक्रियता के साथ कार्य करने के निर्देश संभागायुक्त ने दिए। योजनान्तर्गत उपायुक्त सहकारिता को इस योजना में लाभान्वित होने वाले किसानों की सूची के संबंध में भोपाल स्तर से सतत सम्पर्क रखने को निर्देशित किया।

संभागायुक्त द्वारा ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, स्वास्थ्य विभाग, पीआईयू, लोक निर्माण विभाग, महिला बाल विकास, शिक्षा तथा उद्यानिकी विभागों के अधिकारियों से भी विभागीय योजनाओं, कार्यक्रमों एवं कार्यां की जानकारी प्राप्त की गई।

कलेक्टर कार्यालय का निरीक्षण किया

इसके पूर्व संभागायुक्त श्री अजीत कुमार ने नवनिर्मित कलेक्टर कार्यालय का निरीक्षण भी किया। उन्होंने विभिन्न कक्षों में पहुंचकर संपादित किए जा रहे शासकीय कार्यां की जानकारी ली। कलेक्टर श्रीमती रूचिका चौहान ने जानकारियों से अवगत कराया।

मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण

संभागायुक्त श्री अजीत कुमार द्वारा रतलाम मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया गया। उनके साथ कलेक्टर श्रीमती रूचिका चौहान तथा अन्य अधिकारी थे। संभागायुक्त ने मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण करते हुए कॉलेज के डीन डॉ. दीक्षित से कॉलेज में उपलब्ध सुविधाओं, स्टुडेंट संख्या, हॉस्टल, फैकल्टी इत्यादि जानकारी प्राप्त की। कॉलेज की जल आपूर्ति हेतु कलेक्टर श्रीमती चौहान से चर्चा की। कलेक्टर द्वारा बताया गया कि कनेरी डैम से कॉलेज हेतु 2 एमएलडी पानी लेने की कार्य योजना तैयार की जा रही है। संभागायुक्त ने मेडिकल कॉलेज की ई-लाईब्रेरी को अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त करने के निर्देश देते हुए कहा कि ई-लाईब्रेरी में सारे इंटरनेशनल जर्नल उपलब्ध रहे। आधुनिक मेडिकल शोध विज्ञान की संपूर्ण जानकारी लाईब्रेरी से स्टुडेंट को मिले।