Home रतलाम रतलाम:जिला प्रशासन द्वारा सब्जियों के दाम निर्धारित,शहर में 406 क्विंटल सब्जियों की...

रतलाम:जिला प्रशासन द्वारा सब्जियों के दाम निर्धारित,शहर में 406 क्विंटल सब्जियों की आपूर्ति सोमवार को की गई

रतलाम 13 अप्रैल 2020/ जिला प्रशासन द्वारा लॉक डाउन के दौरान रतलाम के आमजन को सोमवार से मैजिक वाहनों द्वारा सब्जियां उपलब्ध कराने की शुरुआत की गई। सोमवार को निर्धारित मूल्य पर  पैकेट में 406 क्विंटल विभिन्न सब्जियां नागरिकों को उपलब्ध कराई गई।

कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने बताया कि अभी पैकेट में सब्जियां उपलब्ध कराई जा रही है जो 100 एवं 50 रूपए के मूल्य पर हैं। अतिशीघ्र कम दाम वाले छोटे पैकेट भी उपलब्ध करवा दिए जाएंगे। सोमवार को 120 क्विंटल आलू, 120 क्विंटल प्याज, 75 क्विंटल भिंडी, 50 क्विंटल टमाटर, 15 क्विंटल करेले, 7 क्विंटल लहसुन, 5 क्विंटल हरी मिर्च, 5 क्विंटल टिंडे, 4 क्विंटल अदरक, 2 क्विंटल गिलकी, 2 क्विंटल पत्ता गोभी तथा 1 क्विंटल धनिया की मैजिक वाहनों के माध्यम से विभिन्न वार्डों में बिक्री की गई। मैजिक वाहनों को कोरोना वायरस से बचाव के दृष्टिगत सेनीटाइज किया गया और उसमें बैठे ड्राइवर तथा अन्य व्यक्तियों द्वारा भी सभी सुरक्षा संबंधी निर्देशों का पालन किया गया।

सब्जियों के दाम निर्धारित कर दिए गए

जिला प्रशासन द्वारा रतलाम शहर में उपलब्ध कराई जा रही सब्जियों के दाम भी निर्धारित कर दिए गए हैं जिससे शहर के उपभोक्ताओं को एक समान दर पर सब्जी तथा फल उपलब्ध हो सके। सब्जी तथा फल विक्रेताओं से एक समान दर रखने हेतु उनकी सहमती भी ली गई है। कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने बताया कि निर्धारित किए गए दामों के तहत भिंडी 20 रूपए प्रति किलो, ग्राम टमाटर 15 रूपए प्रति किलो, हरी मिर्ची 20 रूपए प्रति किलो, लोकी 15 रूपए प्रति किलो, पत्ता गोभी तथा फूलगोभी 15 रूपए प्रति किलो, फैंसी 25 प्रति किलो रूपए करेला 25 रूपए प्रति किलो, ककड़ी 15 रूपए प्रति किलो, आलू 20 प्रति रूपए किलो, प्याज 15 रूपए प्रति किलो, लहसुन 60 रूपए प्रति किलो, अदरक 60 रूपए प्रति किलो, बैंगन 10 प्रति रूपए किलो, तोरई तथा गिलकी 25 रूपए प्रति किलो, संतरा 30 प्रति रूपए किलो, तरबूज 15 रूपए प्रति किलो, अंगूर 30 रूपए प्रति किलो, खरबूजा 15 रूपए प्रति किलो, केला 20 रूपए प्रति किलो, पपीता 20 रूपए प्रति किलो तथा आम 60 रूपए प्रति किलोग्राम मूल्य निर्धारित किया गया है। कलेक्टर ने बताया कि शहर में सब्जियों की आपूर्ति की व्यवस्था निरंतर सुलभ रूप से की जाएगी। आवश्यकता पड़ने पर वाहनों की संख्या भी बढ़ाई जाएगी।