Home रतलाम दो घंटे के रेस्क्यू के बाद बोरिंग में गिरे बच्चे को...

दो घंटे के रेस्क्यू के बाद बोरिंग में गिरे बच्चे को सुरक्षित बाहर निकाला गया, प्रशासन ने बाल चिकित्सालय भेजा, रेस्क्यू में प्रशासन के साथ ग्रामीणों ने निभाई महत्वपूर्ण भूमिका।

रतलाम,10जून(खबरबाबा.काम)। नामली के समीप सीखेड़ी गांव में बोरिंग में गिरे चार वर्ष के बालक को ढाई घंटे चले बचाव अभियान के बाद सुरक्षित निकाल लिया गया। कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने बच्चे के बाहर निकलते ही 108 एंबुलेंस से उसे उपचार के लिए बाल चिकित्सालय भेजा।

पुलिस के अनुसार सिखेड़ी निवासी गणेश पिता घनश्याम 4वर्ष रविवार शाम को अपने कुछ दोस्तों के साथ खजूर तोडऩे के लिए पहुंचा था। इस दौरान वह खेत में केसीन व जमीन के बीच पड़ी दरार में करीब दस फीट तक नीचे चला गया। ये देख साथ के बच्चों ने गांव में पहुंचकर लोगों को सूचना दी, जिसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी और स्वयं भी उसकी मदद के लिए मौके पर पहुंचे। सूचना मिलते ही कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान, SP अमित सिंह , एएसपी डॉ राजेश सहाय सहित अन्य अधिकारी दल बल के साथ मौके पर पहुंच गए थे ।यहां पहुंची जेसीबी से पहले तो करीब दस फीट गहरा गड्ढा खोदा गया, उसके बाद उसमें गांव के कुछ लोग अंदर उतरे और सुरंग बनाने का काम शुरू किया।इस दौरान चिकित्सा टीम ने गड्ढ़े में पाइप से आक्सीजन भी सप्लाई किया ताकि बच्चे को सांस लेने में दिक्कत न हो। सूचना मिलने पर रेसक्यू टीम और अधिकारियों के साथ ही कलेक्टर रुचिका चौहान, एसपी अमित सिंह भी मौके  पहुंचे जबकि एएसपी डॉ. राजेश सहाय खुद रेस्क्यू टीम के साथ बच्चे को निकालने के लिए गड्ढ़े में उतरे। प्रशासन और ग्रामीणों द्वारा चलाए गए इस ऑपरेशन में करीब दो घंटे के अथक प्रयासों के बाद बच्चे को सुरक्षित तरीके से बाहर निकाल कर ले आया गया। बच्चे के बाहर आने के बाद कलेक्टर रुचिका चौहान व पुलिस अधीक्षक अमित सिंह ने उसे बाल चिकित्सालय भिजवाया और बचाव कार्य में लगे ग्रामीणों के सराहनीय कार्य की तारीफ कर उन्हे सम्मानित करने की बात कही। बाल चिकित्सालय में डॉक्टरों ने परीक्षण कर बालक को 24 घंटे तक ऑब्जरवेशन में रखने का निर्णय लिया, हालांकि बच्चा पूरी तरह स्वस्थ बताया जा रहा है।